January 18, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

साहित्य जगत

1 min read

नाकोईलाजशर्म... नाकोईदीनधर्म... पहले दिखते नेता पैदल, फिर दौड़ लगाते कारों में। हो रहे माला माल हैं नेता, माल छुपाये भकारों...

उत्तरायण में पुन: अभिनंदन है। बाल सूर्य उदित मकर राशि में, शैल शिखर सब अनुरंजित हैं। सुरकुट पर्वत तिरछी किरणों...

1 min read

यह सतरंगी संस्कृति भारत की, पर्व लोहड़ी या हो मकर संक्रांति। आती पर्वों पर नित याद पुरानी, भारत माता की...