Loksaakshya Social

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

December 1, 2022

वैली ऑफ वर्ड इंटरनेशनल लिटरेचर फेस्टिवल शुरू, राज्यपाल ने किया उद्घाटन, विशेष सचिव सूचना ने चर्चा में किया प्रतिभाग

1 min read

देहरादून में दो दिवसीय वैली ऑफ वर्ड्स इंटरनेशनल लिटरेचर एंड आर्ट फेस्टिवल आज यानि कि 12 नवंबर से शुरू हो गया है। देहरादून के राजपुर रोड स्थित मधुबन होटल में इसका उद्घाटन राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल (सेनि) गुरमीत सिंह ने किया। इस फेस्टिवल में 12 किताबें लांच की जा रही हैं। 40 अलग-अलग सत्र में 100 से ज्यादा लेखक इसमें अपने किताबों पर चर्चा करेंगे। साथ ही पांच एग्जीबिशन भी लगाई गई है, जिसे देखने के लिए दून के साहित्य प्रेमी पहुंच रहे हैं। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

विशेष सचिव सूचना अभिनय कुमार ने लिया चर्चा में भाग
उत्तराखंड के विशेष प्रमुख सचिव सूचना अभिनव कुमार ने शनिवार को देहरादून में आयोजित वैली ऑफ वर्ल्ड इंटरनेशनल लिटरेचर एंड आर्ट फेस्टिवल में Film Industry as the Growth Driver of Uttarakhand’s economy के विषय पर आयोजित चर्चा में प्रतिभाग किया। इस मौके पर उन्होंने राज्य सरकार द्वारा फिल्म विकास परिषद के माध्यम से किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कि उत्तराखंड राज्य से कई लेखक, एक्टर, फिल्म प्रड्यूसर, एवं फिल्मों के क्षेत्र में कार्य करने वाले नामी चेहरे हैं। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

उन्होंने कहा उत्तराखंड दिन प्रतिदिन फिल्म इंडस्ट्री के लिए एक नए शूटिंग डेस्टिनेशन के रूप में उभर रहा है। उत्तराखंड का नैसर्गिक सौन्दर्य फिल्मांकन के लिए लोगों को आकर्षित कर रहा है। उन्होंने बताया राज्य में पिछले एक वर्ष में करीब 300 से अधिक छोटी बड़ी फिल्मों की शूटिंग की गई है जो कि उत्तराखंड राज्य के लिए एक बड़ा सकारात्मक संकेत है। उन्होंने कहा उत्तराखंड राज्य को नए शूटिंग डेस्टिनेशन के रूप में बनाने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में सरकार फिल्म सिटी इंफ्रास्ट्रक्चर एवं नई फिल्म पॉलिसी पर कार्य कर रही है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

 

विशेष प्रमुख सचिव सूचना अभिनव कुमार ने कहा कि उत्तराखंड फिल्म विकास परिषद द्वारा प्रस्तावित फिल्म नीति-2022 के संबंध में आम जनता से सुझाव मांगे गये थे। अभी नयी नीति पर काम चल रहा है। उन्होंने फिल्म जगत से आए विभिन्न कलाकारों से नई फिल्म नीति 2022 के लिए सलाह देने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा फिल्म नीति 2022 को इस साल के आखिरी तक पूर्ण कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा हम कलाकारों स्थानीय लोगों एक्टर एवं सभी को सामूहिक तौर पर नई फिल्म नीति से जोड़ना चाहते हैं। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

उन्होंने कहा उत्तराखंड राज्य में बढ़ते फिल्मांकन से यहां के लोगों को रोजगार मिलेगा एवं युवाओं को नए अवसर प्रदान होंगे, उन्होंने कहा यह राज्य आउटडोर शूटिंग डेस्टिनेशन बड़ा हब बनने जा रहा है, साथ ही हम स्थानीय फिल्म कलाकारों एवं स्थानीय बोली में बनी फिल्मों को भी प्रोत्साहित कर रहे हैं जिसके लिए सूचना एवं लोक संपर्क विभाग में सब्सिडी का क्राइटेरिया भी है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

विशेष प्रमुख सचिव सूचना श्री अभिनव कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देशों पर उत्तराखंड में फिल्म सिटी के विस्तार के लिए 100 एकड़ से अधिक भूमि के चिह्नीकरण का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा इसके साथ ही उत्तराखंड में अच्छे एवं उच्च गुणवत्ता के स्टूडियो खोले जाएंगे। उन्होंने कहा हम उत्तराखंड राज्य में फिल्म सिटी को हाई क्वालिटी प्रोडक्शन के तौर पर विकसित करेंगे। ताकि प्री प्रोडक्शन, प्रोडक्शन एवं पोस्ट प्रोडक्शन के कार्य एक ही जगह पर किया जा सके। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

उन्होंने कहा आने वाले 5 सालों के अंदर फिल्म सिटी पर निश्चित ही जमीनी कार्य दिखने लगेगा। उन्होंने कहा मैदानी इलाके के साथ ही पहाड़ों के दूरस्थ क्षेत्रों को भी शूटिंग डेस्टिनेशन के तौर पर जोड़ने का कार्य किया गया है। उत्तराखंड राज्य के स्थानीय फिल्मों के लिए नए ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी विचार किया जा रहा है। साथ ही उत्तराखंड राज्य में जल्द ही यू.के फिल्मफेयर अवार्ड देने का कार्य भी शुरू किया जाएगा। इस अवसर पर डायरेक्टर अविनाश ध्यानी, गढ़वाल पोस्ट संपादक सतीश शर्मा, एक्टर कुणाल शमशेर मल्ला, डॉ राजेंद्र डोभाल एवं अन्य लोग मौजूद रहे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.