Loksaakshya Social

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

September 30, 2022

उत्तराखंड में आफत की बारिशः वृद्धा की मौत, गंगोत्री में फंसे दो हजार यात्री, कुमाऊं में हेलीकॉप्टर से रेस्क्यू, 25 सितंबर होगा सबसे ठंडा दिन

1 min read

उत्तराखंड के देहरादून सहित कई जिलों में लगातार बारिश का सिलसिला जारी है। इसके साथ ही पर्वतीय क्षेत्रों में भूस्खलन की घटनाएं बढ़ रही हैं। देहरादून के साथ ही अन्य मैदानी इलाकों में जलभराव से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। पर्वतीय क्षेत्र में सड़कें बार बार बाधित हो रही है। उत्तरकाशी में मकान क्षतिग्रस्त होने से वृद्धा मलबे में दब गई। सुबह उसका शव निकाल लिया गया है। गंगोत्री क्षेत्र में दो हजार यात्री फंसे हुए हैं। वहीं, कुमाऊं में आदि कैलाश यात्रियों को हेलीकॉफ्टर से सुरक्षित निकाला गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, अभी पांच दिन बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। ऐसे में कई इलाकों में भारी बारिश का यलो अलर्ट है। उत्तराखंड में मानसून समापन की तिथि 25 सितंबर है, लेकिन इस बार 30 सितंबर के बाद ही मानसून का समापन हो सकता है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

आफत ही आफत
उत्तरकाशी जिले के चिन्यालीसौड़ के कुमराडा ग्रामसभा के मंडरा थोला तोक में भूस्खलन होने के कारण एक मकान क्षतिग्रस्त हुआ। मकान में रह रही 60 वर्षीय भट्टू देवी पत्नी जुरू लाल मलबे में दब गई। जुरू लाल को हल्की चोट आई है। घटना देर रात करीब 2:00 बजे की है। बताया जा रहा है कि सुबह मलबे से महिला का शव निकाल लिया गया है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

तेज बारिश से हुआ जलभराव
तेज बारिश के कारण देहरादून में सड़कों पर जलभराव हो रहा है। इससे आवाजाही में दिक्कतें हो रही है। बीते रोज दोपहर बाद मौसम ने करवट बदली। इसके बाद कई क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश का का दौर शुरू हुआ, जो आज गुरुवार को भी जारी है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

सड़कें हो रही हैं बंद
उत्तरकाशी में बुधवार की रात को हुई भारी बारिश के कारण गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग हेल्गू गाड़ और सुनगर के बीच बाधित है। राजमार्ग को खोलने का कार्य चल रहा है। राजमार्ग के बाधित होने के कारण 2,000 से अधिक तीर्थयात्री फंसे हुए हैं। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

हेलीकॉप्टर से किया रेस्क्यू
पिथौरागढ़ जिले की चीन सीमा से लगे भारत के उच्च हिमालयी क्षेत्र में भारी भूस्खलन और मलबा आने का असर सड़कों पर पड़ा है। इसके चलते साढ़े 11 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित गुंजी में फंसे आदि कैलास के 22 यात्रियों सहित 56 लोगों को बुधवार को रेस्क्यू किया गया। रेस्क्यू अभियान में वायु सेना के चिनूक, एमआइ-17 और एक निजी हेलीकाप्टर लगाया गया। चार दिनों से फंसे आदि कैलास यात्रियों को सीधे पिथौरागढ़ पहुंचाया गया। डीएम की मांग पर बुधवार को चिनूक हेलीकाप्टर बरेली से धारचूला पहुंचा। हेलीकाप्टर ने गुंजी से 32 यात्रियों को निकालकर पिथौरागढ़ नैनी-सैनी हवाई पट्टी में उतारा। इनमें 22 आदि कैलास यात्री और 10 स्थानीय गांवों के बुजुर्ग और महिलाएं शामिल हैं। चार दिनों से गुंजी में फंसे दिल्ली, राजस्थान व गुजरात आदि राज्यों के कैलास यात्री अपने-अपने गंतव्य के लिए रवाना हुए। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

आज के मौसम का हाल
देहरादून में बुधवार की दोपहर से जो बारिश का सिलसिला शुरू हुआ, वो गुरुवार को भी जारी है। जगह जगह सड़कों में जलभराव हो रहा है। अभी 29 सितंबर तक देहरादून में बारिश का सिलसिला जारी रहने की संभावना है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक, आज 22 सितंबर को राज्य के पहाड़ से लेकर मैदानी इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश गर्जन के साथ हो सकती है। बागेश्वर, पिथौरागढ़ और चंपावत जिले में कहीं कहीं भारी बारिश की संभावना है। इन जिलों के साथ ही पर्वतीय इलाकों में कहीं कहीं आकाशीय बिजली चमकने और तेज बौछार का यलो अलर्ट जारी किया गया है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

आगामी मौसम का पूर्वानुमान
23 सितंबर से लेकर 26 सितंबर तक पहाड़ से लेकर मैदानी इलाकों में कहीं कहीं बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। 23 सितंबर को बागेश्वर, पिथौरागढ़, नैनीताल, चंपावत, 24 सितंबर को बागेश्वर, पिथौरागढ़ और नैनीताल, 25 सितंबर को बागेश्वर, पिथौरागढ़, चमोली में भारी बारिश की संभावना है। इनके साथ ही पर्वतीय जिलों में भी तेज बौछार, गर्जन, आकाशीय बिजली चमकने की संभावना है। ऐसे में आज से लेकर 26 सितंबर तक संबंधित जिलों में बारिश का यलो अलर्ट है। (खबर जारी, अगले पैरे में देखिए)

तापमान की स्थिति, 25 सितंबर को रहेगा सबसे ठंडा दिन
देहरादून में गुरुवार 22 सितंबर की सुबह दस बजे के करीब तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के करीब था। इसके अधिकतम 27 डिग्री और न्यूनतम 23 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। कल 23 सितंबर को भी तापमान इसी तरह का रह सकता है। इसके बाद 24 सितंबर को न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस नीचे गिरकर 22 डिग्री हो सकता है। 25 सितंबर इस माह का सबसे ठंडा दिन हो सकता है। इस दिन अधिकतम तापमान 23 डिग्री और न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। 26 सितंबर से तापमान में बढ़ोत्तरी संभव है। ऐसे में 26 से 29 सितंबर तक अधिकतम तापमान 26 डिग्री से लेकर 28 डिग्री और न्यूनतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। यानि कि रात के समय मौसम सर्द रहेगा। साथ ही आज से लेकर 29 सितंबर तक देहरादून में हर दिन कहीं कहीं बारिश की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.