Loksaakshya Social

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

Social menu is not set. You need to create menu and assign it to Social Menu on Menu Settings.

August 9, 2022

महाराष्ट्र की राजनीति में एक नया ट्विस्ट, देवेंद्र फडणवीस होंगे शिंदे के डिप्टी, जेपी नड्डा ने दिया आदेश

1 min read
महाराष्ट्र की राजनीति में कुछ कुछ देर में नया ट्विस्ट देखने को मिल रहा है। अब नए सीएम एकनाथ शिंदे के साथ महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस उनके डिप्टी होंगे।

महाराष्ट्र की राजनीति में कुछ कुछ देर में नया ट्विस्ट देखने को मिल रहा है। अब नए सीएम एकनाथ शिंदे के साथ महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस उनके डिप्टी होंगे। भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्‍व ने फैसला किया है कि देवेंद्र फडणवीस को नई सरकार का हिस्‍सा बनना चाहिए। इसलिए केंद्रीय नेतृत्‍व ने उनसे (फडणवीस से) निजी तौर पर आग्रह किया है कि महाराष्‍ट्र के डिप्‍टी सीएम का पद उन्‍हें संभालना चाहिए। बीजेपी प्रमुख के इस बयान के बाद महाराष्‍ट्र में एकनाथ शिंदे के नेतृत्‍व में बनने वाली सरकार में बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के डिप्‍टी सीएम के तौर पर जिम्‍मेदारी संभालने की संभावना बढ़ गई है।
राज्यपाल से मुलाकात के बाद फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि शिंदे मुख्यमंत्री होंगे और वह (फडणवीस) सरकार में शामिल नहीं होंगे। इसके कुछ देर बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) मीडिया के सामने आए। इस दौरान उन्होंने कहा कि BJP केंद्रीय नेतृत्व ने देवेंद्र फडणवीस से आग्रह किया है कि एकनाथ शिंदे सरकार में वह डिप्टी सीएम बनें।
जेपी नड्डा ने कहा कि देवेंद्र फडणवीस ने घोषणा की है कि एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री होंगे। उन्होंने बड़ा दिल दिखाते हुए कहा है कि सरकार को बाहर रहकर समर्थन देंगे। बीजेपी का समर्थन शिंदे को रहेगा। यह हमारी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता का चरित्र दिखाता है। हम पद के लिए नहीं, विचार के लिए हैं। महाराष्ट्र की जनता की भलाई हो और विकास हो, इसका ख्याल रखते हुए फैसला लिया है, लेकिन बीजेपी की केंद्रीय टीम ने तय किया है कि देवेंद्र फडणवीस सरकार में शामिल हों। सरकार में पदभार संभालना चाहिए। केंद्र ने इस बात को निर्देशित किया है कि देवेंद्र फडणवीस डिप्टी सीएम के तौर पर कार्यभार संभालें।

जेपी नड्डा के इस बयान के कुछ ही देर बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि फडणवीस ने डिप्टी सीएम बनने का फैसला लिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के कहने पर देवेंद्र फडणवीस ने बड़ा मन दिखाते हुए महाराष्ट्र राज्य और जनता के हित में सरकार में शामिल होने का निर्णय लिया है। यह निर्णय महाराष्ट्र के प्रति उनकी सच्ची निष्ठा व सेवाभाव का परिचायक है। इसके लिए मैं उन्होंने हृदय से बधाई देता हूं।
गौरतलब है कि फडणवीस ने खुद यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि महाराष्ट्र के अगले सीएम एकनाथ शिंदे होंगे। इस ऐलान के पहले तक तमाम लोग मानकर चल रहे थे कि फडणवीस महाराष्ट्र के नये मुख्यमंत्री होंगे, लेकिन देवेंद्र ने सामने आकर साफ कर दिया कि वह मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे। पत्रकार वार्ता के दौरान फडणवीस ने उद्धव ठाकरे पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हमे 2019 में 105 सीटें मिली थीं, उस चुनाव से पहले हमारा और शिवसेना का गठबंधन था। सरकार बनाने के लिए शिवसेना अपने विरोधी विचारधारा वाली पार्टियों से जाकर मिल गई। एनसीपी और कांग्रेस से गठबंधन करके सरकार बना लिया और हमको छोड़ दिया।
महाराष्‍ट्र के दो बार सीएम रह चुके फडणवीस ने कहा कि शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ सरकार बनाकर जनता के द्वारा मिले बहुमत का अपमान किया था। उन्होंने कहा कि महाविकास अघाड़ी सरकार महाभ्रष्ट सरकार थी। पिछले ढाई साल में इस सरकार के दो मंत्री जेल चले गए हैं। उन्होंने कहा कि महाअघाड़ी के कई ऐसे नेता जिनके संबंध दाउद तक से थे। महाविकास अघाड़ी सरकार में रोज हिन्दुत्व का अपमान होता था।
इसलिए आगे आना पड़े नड्डा को
सूत्रों ने बताया कि बीजेपी आलाकमान ने पहले ही ये तय किया हुआ था की एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री होंगे और भाजपा की ओर से देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री होंगे। दो दिन पहले जब वो अमित शाह और जेपी नड्डा से मिलने आये थे तब ही उन्हें ये बता दिया गया था। उस समय फडणवीस कुछ बोल नहीं पाए थे, लेकिन उन्होंने आज इसे स्वीकारने से मना कर दिया।
सूत्रों की मानें तो महाराष्ट्र प्रभारी सीटी रवि ने भी केंद्रीय नेतृत्व के फैसले का हवाला देते हुए आज बहुत समझाया था। यही नहीं फडणवीस से दिल्ली से एक बड़े नेता ने आज फोन पर बात भी की थीय़ जब वो अपनी जिद पर अड़े रहे तो मजबूरन बीजेपी अध्यक्ष को सामने आना पड़ा। साथ ही उनसे आग्रह किया और बताया कि ये पार्टी का फैसला है।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.