July 4, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

ग्राफिक एरा ने आपदा पीड़ित के लिए जोशीमठ में बनाया घर, रैंणी की सोणी देवी को मकान सौंपेंगे मुख्यमंत्री

1 min read
उत्तराखंड में शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणीय संस्थान ग्राफिक एरा की ओर से मानवता की सेवा के लिए एक और बड़ा काम होने जा रहा है। उत्तराखंड में चमोली जिले के जोशीमठ की आपदा में बेघर हुई वृद्धा सोणी देवी को कल यानि की 20 जून को अपना नया घर मिल जाएगा।

उत्तराखंड में शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणीय संस्थान ग्राफिक एरा की ओर से मानवता की सेवा के लिए एक और बड़ा काम होने जा रहा है। उत्तराखंड में चमोली जिले के जोशीमठ की आपदा में बेघर हुई वृद्धा सोणी देवी को कल यानि की 20 जून को अपना नया घर मिल जाएगा। ग्राफिक एरा की ओर से बनाये गए इस घर की चाबी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी गोपेश्वर में आयोजित समारोह में उन्हें सौंपेंगे।
जोशीमठ क्षेत्र के रैंणी गांव में फरवरी, 2021 में ग्लेशियर टूटने से भयंकर बाढ़ आ गई थी। इस बाढ़ में बड़े स्तर पर जन-धन की हानि होने के साथ ही रैंणी गांव में वृद्धा सोणी देवी का घर भी जमींदोज हो गया था। ग्राफिक एरा ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंन के चेयरमैन डॉ कमल घनशाला ने रैंणी में बेघर हुई सोणी देवी के लिए आसपास के सुरक्षित इलाके में घर बनाने का निर्णय किया था। इस पर ग्राफिक एरा के विशेषज्ञों की एक टीम निदेशक इंफ्रास्टैचर डॉ सुभाष गुप्ता के निर्देशन में रैंणी गांव भेजकर सहायता कार्य का आगाज कर दिया था।
परगनाधिकारी जोशीमठ कुमकुम जोशी और जिला प्रशासन के सहयोग से भूमि का चयन व अन्य औपचारिकताएं पूरी करने के बाद सोणी देवी के लिए जोशीमठ के पास मेरग गांव में नये घर का निर्माण कराया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कल 20 जून को सोणी देवी को गोपेश्वर में होने वाले कार्यक्रम में इस घर की चाबी सौंपने की स्वीकृति दे दी है।
ग्राफिक एरा के महानिदेशक डॉ संजय जसोला और निदेशक (इंफ्रा.) डॉ सुभाष गुप्ता इसके लिए गोपेश्वर रवाना हो गये हैं। भूकम्परोधी तकनीक से मेरग गांव में यह मकान बनाया गया है। नया घर मिलने को लेकर श्रीमती सोणी देवी बहुत उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि आंसू पोंछने के लिए डॉ. कमल घनशाला जैसे लोग हों, तो आदमी कितना भी बड़ा दर्द भूल सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page