July 3, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

भारत की दिग्गज महिला क्रिकेटर मिताली राज ने किया अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सारे प्रारूपों से सन्यास का ऐलान

1 min read
भारत की दिग्गज महिला क्रिकेटर मिताली राज ने बुधवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास का ऐलान कर दिया है। टीम इंडिया की पूर्व कप्तान ने सोशल मीडिया पर एक भावुक पत्र के साथ की घोषणा की।

भारत की दिग्गज महिला क्रिकेटर मिताली राज ने बुधवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास का ऐलान कर दिया है। टीम इंडिया की पूर्व कप्तान ने सोशल मीडिया पर एक भावुक पत्र के साथ की घोषणा की। उन्होंने पोस्ट के साथ कैप्शन में लिखा कि इतने सालों तक प्यार और मेरा साथ देने के लिए आप सभी का धन्यवाद। आप सब के स्पोर्ट और आशीर्वाद से मैं अपनी दूसरी पारी की शुरुआत करने जा रही हूं। 39 वर्षीय मिताली ने भारत के लिए 12 टेस्ट, 232 वनडे और 89 टी20 मैच खेले हैं। इसमें उनके नाम 699 टेस्ट रन, 7805 वनडे रन और 2364 टी20 रन शामिल हैं। उनकी गिनती दुनिया के महानतम महिला क्रिकेटरों में होती है।
इसी के साथ उन्होंने पत्र में लिखा कि इतने सालों तक टीम का नेतृत्व करना मेरे लिए सम्मान की बात थी। इसने मुझे निश्चित रूप से एक व्यक्ति के रूप में आकार दिया और उम्मीद है कि भारतीय महिला क्रिकेट को भी आकार देने में मदद मिलेगी होगी। मिताली के अपने पत्र में फैंस का शुक्रिया अदा करने के साथ-साथ बीसीसीआई और सचिव जय शाह को भी धन्यवाद किया है।

दाएं हाथ की बल्लेबाज मिताली के नाम वनडे क्रिकेट के सबसे ज्यादा रन है। उन्होंने भारत के लिए 232 वनडे मैच खेलते हुए 50.68 की औसत से 7805 रन बनाए हैं। उन्होंने जून 1999 को आयरलैंड के खिलाफ एक वनडे मैच से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। इस साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड में खेले गए आईसीसी महिला वर्ल्ड कप में वो भारतीय टीम की कप्तान थी। भारत ने इस टूर्नामेंट में निराशाजनक प्रदर्शन करते हुए सेमीफाइनल के लिए भी क्वालीफाई नहीं किया था।
उनकी कप्तानी में 2017 आईसीसी महिला वर्ल्ड कप में भारतीय टीम फाइनल तक पहुंची थी। जहां इंग्लैंड के हाथों बेहद कम अंतर से उसे हार का सामना करना पड़ा था। मिताली की कप्तानी में भारत साल 2005 के महिला वर्ल्ड कप के फाइनल में भी पहुंचा है, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई टीम की जीत हुई थी। मिताली विमेंस टी20 चैलेंज में वेलोसिटी टीम की भी कप्तान हुआ करती थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page