May 23, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कांग्रेस छोड़कर आम आदमी पार्टी में शामिल हुए एक दर्जन से ज्यादा लोग, शिक्षा को लेकर जयराम सरकार पर किए प्रहार

1 min read
हिमाचल प्रदेश में आम आदमी पार्टी का कुनबा गांव- गांव तक पहुंच गया है। पार्टी से जुड़ने के लिए हिमाचल के प्रत्येक गांव में हर घर तक लंबी लंबी कतारें लग रही हैं।

हिमाचल प्रदेश में आम आदमी पार्टी का कुनबा गांव- गांव तक पहुंच गया है। पार्टी से जुड़ने के लिए हिमाचल के प्रत्येक गांव में हर घर तक लंबी लंबी कतारें लग रही हैं। इसी कड़ी में चंबा- पांगी- भरमौर के अंतिम गांव होली में भी दर्जनों लोगों ने कांग्रेस छोड़कर आम आदमी पार्टी का दामन थामा है। आम आदमी पार्टी के दिल्ली मॉडल को आधार मानकर लोग पार्टी से लोग जुड़ रहे हैं। पार्टी के सह प्रभारी व दिल्ली के विधायक अजय दत्त की मौजूदगी में दर्जनों लोगों ने कांग्रेस छोड़कर पार्टी का दामन थामा है। इस मौके पर जयकिशन, कल्याण सिंह, अभिषेक, प्रवीण कुमार, सुनील कुमार, जयकरण आदि लोगों ने पार्टी का दामन थामा है।
पार्टी के प्रदेश सह प्रभारी अजय दत्त ने कहा कि भरमौर में आज जो स्थितियां बनी है उससे लोग बहुत दुखी हो चुके हैं। इन स्थितियों के लिए आज मुख्य रूप से बीजेपी जिम्मेदार है। उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह दम ठोकती रहती है कि हमने यह किया, वह किया लेकिन आम आदमी पार्टी कहती है कि भाजपा ने पूरे प्रदेश में कुछ भी नहीं किया। अगर भाजपा ने कुछ डेवलपमेंट किया होता तो यहां दिखता।
उन्होंने सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि लोगों की मुख्य जरूरत सड़क है और हिमाचल के अंदर सबसे बड़ा व्यवसाय टूरिज्म है आपने उसे पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया है। खासकर भरमौर की तरफ पूरी तरह से अनदेखा किया है जब सड़क ही अच्छी नहीं है तो लोग कैसे आएंगे और कैसे क्षेत्र और प्रदेश का विकास होगा। यह बहुत ही गंभीर विषय है। उन्होंने कहा कि भरमौर की जनता बहुत जागरूक है उन्हें पता है कि क्या करना है और उनके पास अब तीसरा विकल्प आम आदमी पार्टी के रूप में आ चुका है। इस बार मिलकर सब लोग आम आदमी पार्टी का सहयोग करेंगे और प्रदेश में पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएंगे।
उन्होंने कहा है कि किसी भी पार्टी में अच्छे और ईमानदार लोग जो भी हैं वह आम आदमी पार्टी में आ सकते हैं और आम आदमी पार्टी का दरवाजा उनके लिए हमेशा खुला रहेगा। उसी का नतीजा आज भरमौर में देखने को मिला है जहां बीजेपी व कांग्रेस के आचरण से दुखी होकर कई लोग आम आदमी पार्टी में शामिल हुए हैं और आम आदमी पार्टी का कुनबा बढ़ाया है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश कार्यकारिणी का जल्द ही गठन किया जाएगा और उसकी सूचना आप सब लोगों को दी जाएगी। जिसमें अच्छे नए व पुराने लोगों को जोड़कर संगठन बनाया जा रहा है और हिमाचल को नई दिशा देने वह पूर्ण रूप से सरकार बनाने में मजबूती देगा। उन्होंने कहा कि एक माह पहले आम आदमी पार्टी की तीन लाख से ज्यादा लोगों ने सदस्यता ग्रहण कर दी थी लेकिन उसके बाद अब तक करीब एक लाख से ज्यादा लोगों ने सदस्यता ग्रहण करती है।
उन्होंने कहा कि हिमाचल में बहुत सारे लोग ऐसे ही जो हिमाचल की भलाई चाहते हैं। हिमाचल में बदलाव चाहते हैं। हिमाचल में शिक्षा, स्वास्थ्य, नौकरियां, इंडस्ट्री और सड़कें बनाना चाहते हैं ऐसे तमाम लोग आम आदमी पार्टी में शामिल होकर हिमाचल प्रदेश को एक मजबूत और सशक्त प्रदेश बढ़ाना चाहते हैं। जो इन दोनों रिवायती पार्टियों से दुखी होकर आम आदमी पार्टी में शामिल हो रहे हैं और प्रदेश में ईमानदार और डेवलपमेंट वाली सरकार बनाएंगे।

शिक्षा के नाम पर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही जयराम सरकार
हिमाचल प्रदेश में शिक्षा का स्तर दयनीय स्थिति में है। शिक्षा के बदतर हालात को लेकर हिमाचल प्रदेश की भाजपा सरकार लगातार आम आदमी पार्टी के कड़ा प्रहार किया। शिमला में आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता गौरव शर्मा ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था बहुत खराब है। कई स्कूलों में मात्र 3-3 छात्रों पर 4-4 शिक्षक नियुक्त किए गए हैं। जबकि प्रदेश के 2683 प्राथमिक स्कूल ऐसे हैं जो एक-एक शिक्षक के सहारे चल रहे हैं।
उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में साढ़े चार सालों से शिक्षा का यही हाल देखने को मिल रहा है। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला से सटे गवाही मिडल स्कूल में मात्र तीन छात्र हैं, जबकि उन्हें पढ़ाने के लिए सरकार ने चार शिक्षक नियुक्त किए हैं। ऐसी स्थिति तब देखने को मिल रही है जब प्रदेश में 11083 शिक्षकों की कमी है। शिक्षकों के साथ-साथ स्कूल में बच्चों की कमी भी देखने को मिल रही है।
भाजपा के शासन में शिक्षा का स्तर इतना गिर चुका है कि ना तो यहां बच्चे सरकारी स्कूलों में पढ़ने आ रहे हैं और न ही बच्चों के अभिभावक स्कूल पढ़ने के लिए भेज रहे हैं। जयराम सरकार मौज मस्ती में व्यस्त है। उसे प्रदेश के बच्चों के भविष्य की चिंता नहीं है। मौजूदा समय में नेताओं की हालत भी ऐसी है जो अपने चहीते शिक्षकों को उनके मनपसंदीदा स्टेशन पर नियुक्ति देती है। जिसकी वजह से स्कूलों में छात्र कम और शिक्षक ज्यादा हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी शिक्षा व्यवस्था न तो प्रदेश और न ही बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल कर सकती है।
हिमाचल आप प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री के जिला मंडी में भी 26 स्कूलों पर ताला लटक गया है। जहां एक भी बच्चे ने सरकारी स्कूल में एडमिशन नहीं लिया है। प्रदेश में बीते साढ़े चार सालों में 500 से ज्यादा स्कूल बंद हो गए हैं। जिसमें शिमला के 39 स्कूल, कांगड़ा में 30 स्कूलों शामिल है, जहां ताला लटका हुआ है।
हिमाचल आप प्रवक्ता ने कहा कि बड़ी दुर्भाग्य की बात है भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय जेपी नड्डा जी जो खुद हिमाचल से संबंध रखते हैं। वो खुद मंत्री रहे हैं लेकिन हिमाचल के लिए कुछ नहीं किया। जेपी नड्डा का हिमाचल दौरा राजनीति से प्रेरित है। एक ओर हिमाचल प्रदेश के स्कूलों की बदतर हालत हो रही है। जयराम सरकार शिक्षा की गुणवत्ता के लिए क्या काम कर रही है उन्हें पूछना चाहिए?
उन्होंने कहा कि राज्य में पेपर लीक हो रहे हैं इसपर जवाब देना चाहिए। पुलिस भर्ती में घोटाले हो रहे हैं उस पर जवाब देना चाहिए, लेकिन नहीं जेपी नड्डा केवल अपनी राजनीति चमकाने में लगे हैं। हिमाचल प्रदेश में जगह-जगह घूम रहे हैं कि कैसे हिमाचल प्रदेश की सत्ता को दोबारा हथिया जाए और हिमाचल प्रदेश की जनता को बेवकूफ बनाया जाए लेकिन हिमाचल प्रदेश की जनता इस बार इनके झांसे में नहीं आने वाली है। हिमाचल प्रदेश की जनता समझदार है, उन्होंने अपना मन बना लिया है इस बार वह ईमानदार पार्टी को चुनेगी। आम आदमी पार्टी आने वाले दिनों में प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था में सुधार करेगी और प्रदेश व बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page