October 24, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

लखीमपुर खीरी की घटना और विपक्षी नेताओं की गिरफ्तारियां अलोकतांत्रिक, भगवान केदारनाथ से क्षमा मांगे पीएमः गणेश गोदियाल

1 min read
उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने लखीमपुर खीरी की घटना को मानवता को शर्मशार करने वाली घटना तथा लोकतंत्र के माथे पर कलंक बताया। कहा ये भाजपा सरकार की तानाशाही व हिटलरशाही वाला चेहरा है।

उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने लखीमपुर खीरी की घटना को मानवता को शर्मशार करने वाली घटना तथा लोकतंत्र के माथे पर कलंक बताया। कहा ये भाजपा सरकार की तानाशाही व हिटलरशाही वाला चेहरा है। प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है।इसमें सभी को अपनी बात रखने तथा विरोध करने का पूरा अधिकार हमारा संविधान देता है। जिस प्रकार लखीमपुर खीरी में विरोध कर रहे किसानों पर गाड़ी चढ़ाकर जानलेवा हमला किया गया वह अक्षम्य अपराध है। भाजपा सरकार हिटलारशाही का परिचय देते हुए आज जनता की आवाज को सत्ता की ताकत व बाहुबल पर दबाने का काम कर रही है। कांग्रेस पार्टी ऐसे अक्षम्य अपराध को कतई बर्दास्त नहीं करेगी। इसका हर स्तर पर विरोध करेगी।
गणेश गोदियाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकारों द्वारा सत्ता का दुरूपयोग कर जनता व गरीब किसानों की आवाज उठाने के लिए कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेता अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा को जिस अलोकतांत्रिक व असंवैधानिक तरीके से गिरफ्तार किया गया, उसे लोकतंत्र में उचित नहीं ठहराया जा सकता है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार का यह कदम संविधान विरोधी व लोकतांत्रिक मूल्यों पर कुठाराघात है।
गणेश गोदियाल ने भाजपा सरकार की ओर से उत्तराखंड मे रासुका लगाये जाने का विरोध करते हुए कहा कि आज भाजपा सरकार सत्ता के बल पर कर्मचारी संगठनों, मजदूर संगठनों, किसान संगठनों, महिला व बेरोजगार संगठनों की आवाज दबाने का काम कर रही है। भाजपा सरकार कर्मचारियों की न्यायोचित मांगों पर विचार करने की बजाय रासुका का नाजायज उपयोग कर उन्हें लोकतांत्रिक तरीके से अपने अधिकारों के लिए लड़ने से रोक रही है।
उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की राज्य सरकार अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में हर मोर्चे पर पूरी तरह विफल साबित हुई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सत्ता संभालते ही कहा था कि वे बात कम और काम जादा करेंगे, परन्तु वे मात्र कोरी घोषणायें ही करते जा रहे हैं। काम तो दूर-दूर तक नजर नहीं आता। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की ओर से बेरोजगारों से नौकरी के नाम पर मोटा शुल्क वसूला जा रहा है। कांग्रेस पार्टी इसका विरेाध करती है। सरकार से मांग करती है कि जिन बेरोजगारों को रोजगार नहीं मिल पाया, उन्हें पिछले साढ़े चार साल में जमा किय गया शुल्क वापस किया जाना चाहिए।
गणेश गोदियाल ने यह भी कहा कि प्रदेश सरकार खनन माफियाओं की गोद में खेल रही है। भाजपा सरकार के मुखिया तथा मंत्रियों ने खनन माफिया को राज्य में खुली छूट दे रखी है। उन्होंने कहा कि इन्हीं खनन माफियाओं की वजह से कांग्रेस शासन में नदियों पर बने पुलों की नींव कमजोर होती जा रही है तथा जनता को जानमाल का खतरा बना हुआ है।
उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं स्व लालबहादुर शास्त्री की जयंती पर कांग्रेस पार्टी की ओर से चलाये गये ‘गांव-गांव कांग्रेस’अभियान के सफल आयोजन के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को शुभकामनाएं दी। साथ ही चारधाम यात्रा से रोक हटाने के लिए उच्च न्यायालय का भी धन्यवाद किया। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के केदारनाथ यात्रा का समाचार सुनने में आया है। हम उनसे यह मांग करेंगे कि पहले वे केदारनाथ में बैठ कर पर्याश्चित करें तथा जो उन्होंने जनता को अच्छे दिनों का झूठा जुमला दिया था, उसके लिए भगवान केदारनाथ से क्षमा प्रार्थना करें। इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव महर्षि भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *