October 23, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

पुलिस ने सुलझाई डबर मर्डर की गुत्थी, नौकर का हत्यारा निकला उसका दोस्त, मालकिन ने देखा तो उसे भी लगा दिया ठिकाने

1 min read
देहरादून के प्रेमनगर क्षेत्र में मालकिन और नौकर की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा दिया है। हालांकि अधिकारिक तौर पर उसका खुलासा नहीं किया गया है। हत्या के आरोप में नौकर के दोस्त को ही हिरासत में लिया गया है।

देहरादून के प्रेमनगर क्षेत्र में मालकिन और नौकर की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा दिया है।  हत्या के आरोप में नौकर के दोस्त को ही हिरासत में लिया गया है। यह जघन्य हत्याकांड उसने खुद कोठी में नौकरी पाने की लालसा में किया।
गौरतलब है कि 29 सितंबर की सुबह देहरादून के प्रेमनगर क्षेत्र के धौलास में एक कोठी के आंगन में नौकर और मालकिन के शव पड़े मिले थे। उनकी पहचान मकान मालकिन उन्नति शर्मा (55 साल) पत्नी सुभाष शर्मा और नौकर राजकुमार थापा (50 वर्ष) के रूप में हुई है। पुलिस को घटनास्थल पर महिला का पति मिला। बताया जा रहा है कि सुभाष शर्मा 40 साल करीब विदेश में रहे थे और हाल ही में वापस लौटे।
पुलिस इस दोहरे हत्याकांड में पहले ही दिन से पैशोपेश में थी। हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने मृतक महिला उन्नति शर्मा के पति सुभाष शर्मा को शक के घेरे में लिया था। उनसे कई दौर में पूछताछ भी की गई। सुभाष शर्मा से जब कोई खास जानकारी नहीं मिली तो पुलिस ने दूसरे कोण से जांच की। इसके बाद पुलिस हत्या की गुत्थी के करीब पहुंची। घटना को अंजाम देने वाला शर्मा दंपती के घरेलू नौकर राजकुमार के ठाठ बाट से प्रभावित होकर विला में नौकरी की लालसा रखने लगा। इसी कारण उसने राजकुमार को ठिकाने लगाने की योजना बनाई।
पुलिस के मुताबिक राजकुमार की हत्या करते समय उन्नति शर्मा ने उसे देख लिया। इस पर उसने उन्नति शर्मा का भी मार डाला। इस दौरामन उन्नति शर्मा ने बचाव के लिए किचन से चाकू उठाया, लेकिन वह बचाव करने में सफल नहीं हो सकी। इसी चाकू को पुलिस ने गुरुवार को घटनास्थल से करीब 500 मीटर आगे खाई से बरामद किया था।
गुरुवार को पुलिस ने राजकुमार के दो परिचितों का रिकार्ड निकाला और उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की। बताया जा रहा है कि दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाला आरोपित कुछ समय पहले नौकर राजकुमार के साथ विला आया था। विला के आसपास कोई सीसीटीवी कैमरा न होने के चलते पुलिस को आरोपित तक पहुंचने में मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

यूट्यूब पर वीडियो देख बनाई योजना
धौलास में नौकर व मालकिन की हत्या की घटना को अंजाम देने के लिए आरोपी ने पहले यूट्यूब पर वीडियो देखी। लगातार पांच दिन तक वह क्राइम से जुड़ी वीडियो देखकर यह जानने का प्रयास करता रहा कि शरीर का कौन सा ऐसा अंग होता है, जहां पर वार करने से व्यक्ति की जल्दी मौत हो सकती है। इसके बाद वह विला में पहुंचा और एक ही तरीके से दोनों की हत्या कर दी। पुलिस ने हत्या के आरोप में धौलास के नीचे गढ़ी कैंट क्षेत्र में पड़ने वाले खावडवाला के आदित्य को गिरफ्तार किया है। पत्रकारों से वार्ता में एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि आरोपित आदित्य मृतक उन्नति शर्मा व उनके नौकर राजकुमार को पहले से जानता था।
पांच दिन तक किया था विला में काम
कुछ दिन पहले आदित्य ने उन्नति शर्मा के घर पांच दिन तक काम किया, जहां उसे 500 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से मजदूरी मिली। इसके बाद वह दोबारा विला पहुंचा और उन्नति शर्मा से काम देने की बात कही। उन्नति शर्मा ने कहा कि उनके घर पर काफी समय से राजकुमार थापा नौकरी करता है, इसलिए उन्हें किसी अन्य नौकर की जरूरत नहीं है। 26 सितंबर को आदित्य दोबारा काम मांगने के सिलसिले में विला पहुंचा और गेट से उन्नति शर्मा को कई बार फोन किया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।
इसी दौरान नौकर राजकुमार गेट पर आया और उन्नति शर्मा को घर के बाहर आदित्य के आने की सूचना दी। उन्नति शर्मा ने घर पर कोई काम न होने की बात कही और फुलसैनी में एक दुकान में काम दिलाने की बात कही। इसके बाद उन्नति शर्मा आरोपित को खुद दुकानदार के पास ले गईं। दुकानदार ने आदित्य से कहा कि वह उसे रहने के लिए स्टोर में ही एक बेड दे देगा, लेकिन आदित्य की अकेली मां के लिए सोने की व्यवस्था न होने के कारण वह वापस आ गया।
राजकुमार को रास्ते से हटाने की रची साजिश
विला में नौकरी पाने के लिए आदित्य ने उनके घरेलू नौकर राजकुमार को ही रास्ते से हटाने की योजना बनाई। 29 सितंबर की सुबह चार बजे वह जंगल के रास्ते पैदल विला पर पहुंचा। दीवार फांदकर वह विला में घुसा। इस बीच राजकुमार कीचन में चाय बनाने जा रहा था। राजकुमार आरोपित से कुछ कह पाता, तब तक आरोपित ने पास ही पड़ी एक राड से राजकुमार के सिर पर दो बार प्रहार किया, जिससे वह वहीं पर बेहोश हो गया। इसके बाद उन्नति शर्मा मौके पर पहुंची और आदित्य दीवार की आड़ में छिप गया। राजकुमार को लहूलुहान देख उन्नति चिल्लाई। आदित्य को लगा कि उन्नति ने उसे देख लिया, जिसके बाद उसने उन्नति के सिर पर भी लोहे की राड से दो वार कर दिए।
आखिरी सांस तक दबाए रखा गला
पुलिस के मुताबिक, फंसने के डर से आदित्य दोनों को मौके पर ही मौत के घाट उतारना चाहता था। उसने आखिरी सांस तक दोनों का गला दबाकर रखा। आरोपित ने उन्नति शर्मा का गला इतनी जोर से पकड़ा कि उसके गले की पीछे की हड्डी तक टूट गई। इसके बाद उसने दोनों शवों के ऊपर सामने रखी पन्नी डाल दी और जंगल के रास्ते घर पहुंच गया। आरोपित ने खून से सने कपड़े व जूते घर पर ही छिपा दिए। वहीं, घटनास्थल से करीब 500 मीटर दूर जंगल से दो फिट लंबी व मोटी लोहे की राड भी पुलिस ने बरामद कर ली है।
पुलिस से बचने के लिए अस्पताल में हुआ भर्ती
29 सितंबर को घटना के दूसरे ही दिन आरोपित को आभास हुआ कि पुलिस उसे गिरफ्तार कर सकती है। इसलिए उसने 108 पर फोन किया कि उसे खून के दस्त लग गए हैं। उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। ऐसे में कुछ समय बाद ही एंबुलेंस पहुंची और उसे दून अस्पताल ले आई। शुक्रवार शाम पुलिस ने आरोपित को दून अस्पताल से ही हिरासत में लिया। इससे पहले भी आदित्य ने जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास किया था।
हाथ में कट होने के कारण नहीं हो पाया भर्ती
एसएसपी ने बताया कि आरोपित पहले गढ़ी कैंट में किराये के मकान में रहकर आर्मी भर्ती की तैयारी कर रहा था। कुछ समय पहले कोटद्वार में हुई आर्मी की भर्ती में भी उसने दौड़ पास कर ली थी, लेकिन हाथ पर कट का निशान होने के कारण वह मेडिकल में बाहर हो गया। इसके बाद उसने गढ़ी कैंट में मकान छोड़ दिया और खावडवाला में पट्टे की भूमि पर टीन शेड डालकर अपनी मां के साथ रहने लगा।
पहुंच गए थे बेटा और बेटी
उधर, मां की हत्या की खबर सुनकर उन्नति शर्मा के बेटे व बेटी शुक्रवार को लंदन से देहरादून पहुंचे। दोनों भाई-बहन अपने विला में पहुंचे और पिता से मुलाकात की। इसके बाद पुलिस ने उनसे बातचीत करनी चाही, लेकिन उन्होंने इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी। शुक्रवार को विला पर उनके कुछ रिश्तेदार भी पहुंचे और घटना पर दुख जताया।
देहरादून पहुंचने पर उन्नति शर्मा की बेटी भी काफी सहमी हुई हैं। ऐसे में वह इस मामले में कुछ भी नहीं कहना चाहती। वहीं, उन्नति शर्मा का बेटा अधिकतर समय कमरे के अंदर बैठा रहा।
बच्चे रहते हैं लंदन में, शूटिंग के लिए देते थे बंगला
धौलास निवासी सुभाष शर्मा यूके में नौकरी करते थे। 40 साल तक वे वहीं थे। पिछले आठ साल से वे यहां स्थित अपने बंगले में पत्नी और नौकर के साथ रह रहे थे। उनके बच्चे लंदन में रहते हैं। सुभाष शर्मा का बंगला काफी बड़ा है। वो इसे फिल्म या वेब सीरिज की शूटिंग के लिए किराए पर भी देते थे। हाल ही में यहां एक शूटिंग भी हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *