October 24, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

उत्तराखंड में दलित को सीएम पद पर देखना चाहते हैं हरीश रावत, पोस्ट की मोदी और नवाज शरीफ के गले मिलते हुए फोटो

1 min read
उत्तराखंड में काग्रेस चुनाव प्रचार समिति के प्रभारी एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सोमवार को कहा कि वह एक दलित को राज्य के मुख्यमंत्री के पद पर देखना चाहते हैं। उनकी पार्टी इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेगी।

उत्तराखंड में काग्रेस चुनाव प्रचार समिति के प्रभारी एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सोमवार को कहा कि वह एक दलित को राज्य के मुख्यमंत्री के पद पर देखना चाहते हैं। उनकी पार्टी इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेगी। पार्टी की परिवर्तन यात्रा के दौरान हरिद्वार जिले के लक्सर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए रावत ने कहा कि कांग्रेस ने पंजाब में एक दलित को मुख्यमंत्री बनाकर इतिहास रचा है। रावत ने कहा कि आजीवन गाय के गोबर से कंडे बनाने वाली महिला के बेटे को मुख्यमंत्री बनाकर कांग्रेस ने ना केवल पंजाब में, बल्कि पूरे उत्तर भारत में इतिहास रचा है।
पंजाब कांग्रेस के एआइसीसी प्रभारी रावत ने कहा कि जब पंजाब के नए मुख्यमंत्री एक संवाददाता सम्मेलन में अपने गरीब परिवार के बारे में बता रहे थे तो हम सबकी आंखों में आंसू आ गए। उन्होंने दलित के बेटे को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को धन्यवाद दिया। कहा कि इतिहास में ऐसे मौके बेहद कम देखने को मिले हैं जब ऐसी नजीर पेश की गई। रावत ने कहा कि मैं भगवान और मां गंगा से प्रार्थना करता हूं कि मुझे मेरे जीते जी एक दलित के बेटे को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के तौर पर देखने का अवसर मिले। हम इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए काम करेंगे।
भाजपा पर किया करारा हमला
हरीश रावत ने सोशल मीडिया में दो फोटो पोस्ट की। इसमें एक फोटो में पीएम नरेंद्र मोदी पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ से मिल रहे हैं और दूसरी फोटो में उनसे गले मिल रहे हैं। इसके साथ ही उन्हों नवजोत सिंह सिद्धू के बचाव में भाजपा पर करारा हमला बोला। हरीश रावत ने लिखा कि-

भाजपा के प्रांतीय और केंद्रीय नेतृत्व से एक सवाल?
आज उनको Navjot Singh Sidhu की इमरान खान से दोस्ती खल रही है, क्योंकि नवजोत सिंह सिद्धू अब कांग्रेस में हैं। लेकिन जब भाजपा के सांसद थे, जब भाजपा उनको पंजाब में अपना खेवनहार मानती थी। उस समय तो सिद्धू की श्री इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से और प्रगाढ़ मित्रता थी। मोदी जी यदि नवाज शरीफ से गले लगते हैं और उनके घर जाकर बिरयानी खाते हैं तो उसमें देश का काम है! यदि कोई व्यक्ति अपने धार्मिक तीर्थ स्थल करतारपुर साहिब के रास्ता खोलने के लिए धन्यवाद देते हुये एक अपने दूसरे पंजाबी प्रा जो पाकिस्तान के, आर्मी के जनरल हैं उनसे गले मिलता है तो उसमें देशद्रोह? यह कैसा डबल स्टैंडर्ड है, भाजपा का जरा इसको समझे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *