September 21, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कांग्रेस में महिलाओं के जुड़ने का सिलसिला जारी, 150 ने ली कांग्रेस की सदस्यता, भाजपा राज में सबसे ज्यादा परेशान महिलाएंः धस्माना

1 min read
उत्तराखंड सहित पूरे देश में भाजपा सरकारों से सबसे ज्यादा अगर कोई वर्ग परेशान है तो वो है महिलाएं हैं। चाहे महंगाई हो या हिंसा। इनका शिकार सबसे ज्यादा महिलाएं ही हुई हैं।

उत्तराखंड सहित पूरे देश में भाजपा सरकारों से सबसे ज्यादा अगर कोई वर्ग परेशान है तो वो है महिलाएं हैं। चाहे महंगाई हो या हिंसा। इनका शिकार सबसे ज्यादा महिलाएं ही हुई हैं। यह बात आज देहरादून के कांवली के शास्त्रीनगर में मिलन केंद्र में आयोजित महिला कांग्रेस के विशाल सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष व पार्टी की मैनिफेस्टो कमेटी के संयोजक सूर्यकांत धस्माना ने कही।
इस मौके पर करीब 150 महिलाओं ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। धस्माना ने कहा कि हमारे राज्य व देश की महिलाएं धर्मभीरु व भावुक होती हैं। इसलिए उन्होंने भाजपा के दुष्प्रचार व धर्म के आडंबर में फंस कर इस भरोसे उनको प्रदेश व देश की सत्ता सौंप दी कि राम धर्म और देशभक्ति तथा सुशाशन की बात करने वाले अगर सत्ता में आएंगे तो वास्तव में देश और जनता के अच्छे दिन आ जाएंगे। हुआ उसका बिल्कुल उल्टा। उन्होंने कहा कि अच्छे दिनों का जुमला देने वालों ने हर क्षेत्र में चाहे वो महंगाई हो या बेरोजगारी, विकास हो या स्वास्थय सेवाएं, कानून व्यवस्था हो या भ्रस्टाचार सब में ये हाल कर दिया कि जनता त्राहीमाम त्राहीमाम कर रही है।
उन्होंने कहा कि अब तो लोग कहने लगे भाजपा वालों से कि भाई अच्छे दिन छोड़ो, हमारे बुरे दिन ही वापस ला दो। धस्माना ने कहा कि भाजपा राज में पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक करते करते मोदी जी ने महिलाओं की रसोई में ही सर्जिकल स्ट्राइक कर दी, राशन, सरसों का तेल दालें तो खरीदना महंगा हो ही रखा था। मोदी जी ने कहा लो रसोई की समस्या जड़ से ही खत्म कर देता हूँ। उन्होंने गैस के दाम ही इतने बड़ा दिए कि रसोई में चूल्हा ही न जले और नया नारा दे दिया ना रहेगा बांस और ना बजेगी बांसुरी।

सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि उत्तराखंड जैसे प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ हिंसा बलात्कार हत्या जैसे मामले भी बेतहाशा बड़े हैं। सबसे अफसोसनाक बात यह है कि दुराचार जैसे मामलों में भाजपा नेताओं पर आरोप लगे हैं, किंतु पुलिस मूक दर्शक बनी रही और आज तक कोई कार्यवाही दोषियों के खिलाफ नहीं हुई। उन्होंने कहा कि भाजपा के इसी महिला विरोधी रवैय्ये के कारण आज बड़ी संख्या में महिलाएं कांग्रेस से जुड़ रही हैं। आने वाले महीनों में राज्य में महिला व युवा शक्ति ही प्रदेश से भाजपा की विदाई तय करेगी। धस्माना ने सभी नव आगंतुक महिलाओं को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करवाई व अनेक महिलाओं को नियुक्ति पत्र भी दिए।
सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए ब्लॉक कांवली महिला कांग्रेस अध्यक्षा जया गुलानी ने कहा कि आज ब्लॉक विधानसभा व महानगर में महानगर अध्यक्ष कमलेश रमन के नेतृत्व में व सूर्यकांत धस्माना जी के मार्गदर्शन में महिला कांग्रेस लगातार मजबूत हो रही है। अब 2022 में विधानसभा चुनावों में प्रदेश में एक बार फिर कांग्रेस की सरकार बने इसके लिए महिला कंग्रेस पूरी ताकत से काम करेगी। ब्लॉक प्रेमनगर महिला कंग्रेस अध्यक्ष सुशील बेलवाल शर्मा ने कहा कि महिला कांग्रेस धस्माना के सहयोग से पूरे कोरोना काल में जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए सक्रिय रही और भविष्य में भी जब भी जरूरत पड़ेगी महिला कांग्रेस हर कार्यक्रम में बढ़ चढ़ कर सहयोग करेगी।
इस अवसर पर सुमन जखमोला को सीमाद्वार महिला कांग्रेस का अध्यक्ष व कमला देवी को कांवली महिला कांग्रेस अध्यक्ष मनोनीत किया गया। कार्यक्रम को अनीता दास, बिमलेश, मेहमूदन, सजनन, अंजू भारती, कुमारी रुकैया आदि ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *