September 26, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कांग्रेस का विचार मंथन शिविरः कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र में जन सरोकारों के मुद्दे होंगे शामिल, आमंत्रित किए गए सुझाव

1 min read
ऋषिकेश में कांग्रेस ने विचार मंथन शिविर आयोजित कर चुनावी घोषणा पत्र सहित विभिन्न मुद्दों पर अलग अलग सत्र में चर्चा की। पहले दिन पांच सत्रों में अलग-अलग समितियों की बैठक हुई।

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तराखंड कांग्रेस एक्शन में आ गई। चुनाव प्रचार अभियान का श्रीगणेश पूर्व सीएम हरीश रावत के घर पर पार्टी के झंडारोहण करने के बाद ऋषिकेश में कांग्रेस ने विचार मंथन शिविर आयोजित कर चुनावी घोषणा पत्र सहित विभिन्न मुद्दों पर अलग अलग सत्र में चर्चा की। पहले दिन पांच सत्रों में अलग-अलग समितियों की बैठक हुई। इसमें सुझाव आमंत्रित किए गए। सभी सत्रों में आए प्रमुख सुझाव पर विधान सभा चुनाव में कांग्रेस के प्रचार और प्रबंधन को धार देने पर मंथन किया गया।
देहरादून रोड स्थित एक होटल में आयोजित उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस की विचार मंथन बैठक के पहले सत्र में चुनाव प्रचार कमेटी और चुनाव संचालन समिति की बैठक हुई। दूसरे सत्र में चुनाव प्रबंधन समिति और प्रशिक्षण कार्यक्रम कमेटी की बैठक में चुनाव प्रबंधन पर चर्चा की गई। तीसरे सत्र में पब्लिसिटी कमेटी और कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति की बैठक में सुझाव आमंत्रित किए गए। साथ ही कांग्रेस के घोषणा पत्र पर भी विस्तार से चर्चा की गई।
उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस चुनाव घोषणा पत्र समिति के संयोजक सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि कांग्रेस का चुनावी घोषणा पत्र महज घोषणाओं का पुलिंदा नहीं होगा, बल्कि जनता के अलग अलग वर्गों से आई अपेक्षाएं होंगी जो जनता कांग्रेस की सरकार से चाहती है। उन्होंने कहा कि पूरी तरह से जन सरोकारों पर केंद्रित चुनाव घोषणा पत्र कांग्रेस प्रस्तुत करेगी और उसमें वही बातें होंगी जो कांग्रेस सरकार बनने पर पूरी कर पायेगी।
चौथे सत्र में आउटरीच कमेटी और मेनिफेस्टो कमेटी की बैठक और अंतिम सत्र में मीडिया कमेटी और समन्वय समिति की बैठक हुई। बैठक में प्रदेश प्रभारी व कोर कमेटी अध्यक्ष देवेंद्र यादव ने समिति सदस्यों को केंद्रीय संगठन की ओर से जारी दिशानिर्देश की जानकारी दी। उन्होंने सदस्यों कहा कि उनके जो भी सुझाव है उन्हें कमेटी को लिखित रूप में उपलब्ध कराए। उन्होंने कहा कि प्रदेश कांग्रेस संगठन की ओर से जितनी भी समितियां गठित की गई हैं उन प्रमुख समितियों की बैठक तीन दिन में होगी।

आखिरी दिन अंतिम सत्र में सभी समितियों में आए विचार और सुझाव की समीक्षा करने के बाद ही भावी रणनीति तैयार की जाएगी। प्रशिक्षण कार्यक्रम कमेटी के अध्यक्ष विजय सारस्वत और संयोजक इंदु मान के मुताबिक प्रदेश के करीब 11 हजार बूथों पर प्रत्येक बूथ में दो प्रशिक्षित सदस्य यानी 22,000 कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने का सुझाव प्रशिक्षण कमेटी की ओर से दिया गया।
बैठक में चुनाव अभियान के दौरान केंद्र और राज्य सरकार की विफलताओं के अतिरिक्त आजादी से पूर्व और आजादी के 60 साल बाद कांग्रेस की उपलब्धियों को भी तथ्यात्मक और प्रेरक तरीके से जन जन पहुंचाने का भी सुझाव दिया गया। बैठक में बैठक में प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, प्रदेश चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष हरीश रावत, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, राजेश धर्माणी, दीपिका पांडे सिंह, किशोर उपाध्याय, तिलक राज बेहड़, प्रदीप टम्टा, काजी निजामुद्दीन, प्रोफेसर जीतराम, भुवन कापड़ी, रंजीत रावत, करण महरा, प्रकाश जोशी, नवप्रभात, मयूख महर, मनीष खंडूरी, आदेश चौहान, राजेंद्र भंडारी, ममता राकेश, आर्येंद्र शर्मा, गोविंद सिंह कुंजवाल, शूरवीर सिंह सजवाण, महेंद्र सिंह महरा, हीरा सिंह बिष्ट, सूर्यकांत धस्माना, जयेंद्र रमोला आदि शामिल हुए।

1 thought on “कांग्रेस का विचार मंथन शिविरः कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र में जन सरोकारों के मुद्दे होंगे शामिल, आमंत्रित किए गए सुझाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *