July 26, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

भारत में किया जा रहा है अनलॉक, ब्रिटेन में फिर बढ़ाया गया 19 जुलाई तक लॉकडाउन

1 min read
कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रफ्तार थमने के बीच भारत में जहां अनलॉक की प्रक्रिया जारी है, वहीं, ब्रिटेन में फिर लॉकडाउन को बढ़ाने का निर्णय किया गया है। अब वहां 19 जुलाई तक इसे बढ़ा दिया गया है।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रफ्तार थमने के बीच भारत में जहां अनलॉक की प्रक्रिया जारी है, वहीं, ब्रिटेन में फिर लॉकडाउन को बढ़ाने का निर्णय किया गया है। अब वहां 19 जुलाई तक इसे बढ़ा दिया गया है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार को लॉकडाउन संबंधी सभी पाबंदियों को समाप्त करने की अवधि को चार सप्ताह और टालते हुए इसे 19 जुलाई तक बढ़ा दिया। इससे पहले यह पाबंदियां 21 जून को समाप्त होने जा रही थीं।
जॉनसन ने कहा कि कोरोना वायरस के डेल्टा स्वरूप के चलते संक्रमण के मामलों और अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी संबंधी चिंता बरकरार है। प्रधानमंत्री की इस घोषणा के साथ ही अब ‘फ्रीडम डे’ 19 जुलाई को मनाया जाएगा जो कि लॉकडाउन समाप्त होने की खुशी में मनाया जाना है।
जॉनसन ने कहा कि अभी थोड़ा और इंतजार करना बेहतर होगा। साथ ही उन्होंने उम्मीद जतायी कि 19 जुलाई पाबंदियों को समाप्त करने का अंतिम दिन होगा और इसे और विस्तार देने की जरूरत नहीं पड़ेगी। प्रधानमंत्री ने कहा, अब हम 40 साल की उम्र से अधिक के लोगों को कोविड-19 टीके की दूसरी खुराक देने में तेजी लाएंगे। ताकि उन्हें वायरस से अधिकतम सुरक्षा मिल सके।
रविवार को आए थे 7490 मामले 
ब्रिटेन में रविवार को कोरोना वायरस के 7490 नए मामले आए थे और आठ लोगों की मौत हुई थी। गत हफ्ते मामलों में उससे सात दिन पहले के मामलों की तुलना में 49 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है। वैज्ञानिकों और स्वास्थ्य अधिकारियों ने एक-दूसरे से दूरी बनाने के सभी नियमों को खत्म करने में देरी करने का आग्रह किया है ताकि टीकाकरण का दायरा और बढ़ाया जा सके। साथ में बुजुर्गों को टीके की दूसरी खुराक दी जा सके और युवा आबादी को पहली खुराक लगाई जा सके।
‘द डेली टेलीग्राफ’ को सरकार के एक वरिष्ठ सूत्र ने बताया कि यह वायरस और टीके के बीच सीधी दौड़ है। इससे पहले जॉनसन ने अपने कैबिनेट मंत्रियों और वैज्ञानिक सलाहकारों के साथ बैठक की थी और ताजे आंकड़ों का आकलन किया था।
कहा जा रहा था कि प्रधानमंत्री लॉकडाउन हटाने में देरी के लिए कोविड की तीसरी लहर को जिम्मेदार ठहरा सकते हैं और कह सकते हैं कि इससे जुलाई अंत तक लाखों और लोगों का टीकाकरण हो सकता है। साथ में पाबंदियों को खत्म करने में देरी से वैज्ञानिकों को डेल्टा स्वरूप की निगरानी करने के लिए और समय मिल जाएगा। वायरस का यह स्वरूप सबसे पहले भारत में पहचाना गया था।

 

1 thought on “भारत में किया जा रहा है अनलॉक, ब्रिटेन में फिर बढ़ाया गया 19 जुलाई तक लॉकडाउन

  1. हमारे प्लानर्स को भी इस बारे में सोचना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *