August 5, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

उत्तराखंड में 22 जून तक बढ़ाया जा सकता है कोरोना कर्फ्यू, बाजार खुलने के दिनों में हो सकती है बढ़ोत्तरी

1 min read
उत्तराखंड में कोरोना के घटते मामलों के बीच फिलहाल सरकार कोरोना कर्फ्यू में ज्यादा ढील देने के पक्ष में नहीं दिखाई दे रही है। कोरोना कर्फ्यू 15 जून की सुबह छह बजे तक लागू है। इसे बढ़ाकर 22 जून की सुबह तक किया जा सकता है।

उत्तराखंड में कोरोना के घटते मामलों के बीच फिलहाल सरकार कोरोना कर्फ्यू में ज्यादा ढील देने के पक्ष में नहीं दिखाई दे रही है। कोरोना कर्फ्यू 15 जून की सुबह छह बजे तक लागू है। इसे बढ़ाकर 22 जून की सुबह तक किया जा सकता है। इतना जरूर है कि इस बार दुकानों को खोलने के दिनों को बढ़ाया जा सकता है। अभी तक सप्ताह में तीन दिन दुकानें सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक खुल रही हैं। अब इसे सप्ताह में पांच दिन किया जा सकता है। वहीं, शनिवार और रविवार के दिन पूरी तरह लॉकडाउन रह सकता है। दूसरा विकल्प भी सरकार के पास है। इसके तहत बाजार खुलने के दिनों में कोई परिवर्तन न किया जाए। यानी सप्ताह में तीन दिन ही बाजार खुलेंगे। वहीं, इस संबंध में छूट के मुद्दे को जिलाधिकारियों पर छोड़ दिया जाए। इस विकल्प पर व्यापारियों का विरोध होना स्वाभाविक है।
सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने संकेत दिए हैं कि कोरोना के आंकड़ों की समीक्षा करने के बाद ही कर्फ्यू के संबंध में कोई निर्णय लिया जाएगा। इसे देखते हुए सभी की नजरें सरकार पर टिक गई हैं कि वह कर्फ्यू हटाएगी या फिर इसे कुछ दिन और बरकरार रखेगी। सूत्रों के अनुसार इस संबंध में शासन स्तर पर भी मंथन चल रहा है। ये बात भी सामने आ रही कि यदि कर्फ्यू हटाया गया या फिर ज्यादा ढील दी गई तो कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए अब तक की मेहनत पर पानी फिरते देर नहीं लगेगी। इसे देखते हुए फूंक-फूंक कर आगे कदम बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है।
माना जा रहा है कि राज्य के जिन जिलों में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई है, वहां क्षेत्र विशेष को कर्फ्यू से छूट देने के संबंध में जिलाधिकारी निर्णय ले सकते हैं। सरकार जिलाधिकारियों को पहले ही इसके लिए अधिकृत कर चुकी है।
उत्तराखंड में फिर बढ़े नए कोरोना संक्रमित, घट रही सैंपलिंग
उत्तराखंड में एक दिन राहत के बाद शनिवार को कोरोना के नए संक्रमितों की संख्या में मामूली इजाफा हुआ है। शनिवार 12 जून को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 463 कोरोना के नए संक्रमित मिले और इस अवधि में 19 लोगों की कोरोना से मौत हुई। इससे एक दिन पहले शुक्रवार 11 जून को 287 कोरोना के नए संक्रमित मिले थे और 21 लोगों की मौत हुई थी। साथ ही शनिवार 12 जून को 1614 लोग स्वस्थ हुए।
ब्लैक फंगस से अब तक 60 मौत
वहीं ब्लैक फंगस का भी हमला लगातार हो रहा है। अब तक विभिन्न अस्पतालों में 380 मामले दर्ज किए गए। इनमें अब तक 60 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं, 35 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। गनीमत है कि शनिवार को पिछली मौत के आंकड़े टोटल में नहीं जोड़े गए। पिछली 17 मई से लगातार पुरानी मौत के आंकड़ों को अर्जेस्ट किया जा रहा था। जो हो सकता है अब पूरा हो चुका है।
कुल एक्टिव केस 5021
उत्तराखंड में कोरोना के कुल एक्टिव केस 5021 रह गए हैं। कंटेनमेंट जोन भी 95 से घटकर 93 हो गए हैं। यहां एक तरीके से पूर्ण लॉकडाउन है। कोरोना कर्फ्यू की अवधि अब 15 जून की सुबह छह बजे तक है। सुबह आवश्यक वस्तुओं की दुकानें आठ बजे से लेकर सुबह 11 बजे तक खुल रही हैं। वहीं, अन्य दुकानों के लिए दिन तय किए गए हैं।
सर्वाधिक संक्रमित देहरादून जिले में मिले
उत्तराखंड में शनिवार 12 जून सर्वाधिक नए संक्रमित देहरादून जिले में मिले। देहरादून में 124, नैनीताल में 53, हरिद्वार में 93, उधमसिंह नगर में 20, चमोली में 12, बागेश्वर में 22, रुद्रप्रयाग में 8, अल्मोड़ा में 30, पिथौरागढ़ में 45, पौड़ी में 13, टिहरी में 15, उत्तरकाशी में 3, चंपावत में 25 नए संक्रमित मिले। हालांकि सैंपलिंग हर दिन घट रही है। 10 जून को 25538 सैंपल लिए गए थे। वहीं, 11 जून को 23234 लोगों के सैंपल लिए गए। 12 जून शनिवार को 19896 लोगों के सैंपल लिए गए।
अब तक कुल 6928 मौत
उत्तराखंड में अब कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 336616 हो गई है। इनमें से 318930 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक प्रदेश में कुल 6928 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। मौत की दर 2.06 फीसद पहुंच गई है। रिकवरी 94.75 फीसद है। वहीं, ब्लैक फंगस के विभिन्न अस्पतालों में अब तक 380 मामले सामने आए हैं। इनमें अब तक 60 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं, 35 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।
पिछले सात दिन के आंकड़े
उत्तराखंड शुक्रवार 11 जून को 287 कोरोना के नए संक्रमित मिले थे और 21 लोगों की मौत हुई थी। गुरुवार 10 जून को 388 कोरोना के नए संक्रमित, बुधवार नौ जून को 513 कोरोना के नए संक्रमित मिले और 22 लोगों की कोरोना से मौत हुई। मंगलवार आठ जून को 546 कोरोना के नए संक्रमित, सोमवार सात जून को 395 कोरोना के नए संक्रमित, रविवार छह जून को 446 नए कोरोना के संक्रमित, शनिवार पांच जून को 619 लोग कोरोना के नए संक्रमित मिले थे। वहीं, सात मई को सर्वाधिक 9642 नए कोरोना संक्रमित मिले थे। शनिवार 15 मई को सर्वाधिक 197 मौत दर्ज की गई थी।
टीकाकरण की संख्या में उतार चढ़ाव
उत्तराखंड में यदि टीकाकरण की बात की जाए तो शनिवार 12 जून को 363 केंद्र में 38338 लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए। शुक्रवार 11 जून को 417 केंद्र में 43824 लोगों को, गुरुवार 10 जून को 467 केंद्रों में 48290 लोगों को, बुधवार नौ जून को 405 केंद्र में 38872 लोगों को, मंगलवार आठ जून को 438 केंद्र में 38993 लोगों को, सोमवार सात जून को 467 केंद्र में 24432 लोगों को, रविवार छह जून को 321 केंद्रों में 31185 लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए थे। कोवैक्सीन की उपलब्धता समाप्त होने के चलते 18 साल से लेकर 44 साल वालों को टीके की दूसरी डोज नहीं लग पा रही है। वहीं, निजी अस्पताल मैक्स में पैसे देकर यदि टीके लगाने हों तो स्लॉट उपलब्ध है। शनिवार की सुबह इस अस्पताल के दून क्लब में बनाए गए केंद्र में ही 1800 टीके की उपलब्धता दर्शायी गई थी।
93 स्थानों पर लॉकडाउन
उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 93 स्थानों पर कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। संक्रमितों के लिहाज से ये संख्या घटती बढ़ती रहती है। यहां लॉकडाउन की स्थिति है। ऐसे स्थानों में सामाजिक, धार्मिक, व्यापारिक गतिविधियां प्रतिबंधित हैं। वहीं, लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। एक परिवार के एक सदस्य को आवश्यक वस्तु के लिए मोबाइल वेन तक जाने की अनुमति है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *