June 14, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

पांच साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क पहनने की नहीं है जरूरतः डब्ल्यूएचओ

1 min read
अब बच्चों के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ ने नई गाइडलाइन जारी की है। इसमें पांच साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क पहनने के लिए मना किया गया है।

कोरोना से बचाव के लिए तीन नियम- शारीरिक दूरी, नाक और मुंह को मास्क से ढकने के साथ ही हाथों को बार बार सैनिटाइजर से साफ करना है। हर उम्र को संक्रमण रोकने के लिए मास्क पहनने की सलाह दी गई है। अब बच्चों के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ ने नई गाइडलाइन जारी की है। इसमें पांच साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क पहनने के लिए मना किया गया है। केवल 12 साल से ज्यादा के उम्र के बच्चों के लिए मास्क पहनना जरूरी है।
डब्ल्यूएचओ के मुताबिक 5 साल या इससे कम उम्र के बच्चों को मास्क नहीं पहनना चाहिए। 6 से 11 साल के उम्र के बच्चे उन जगहों पर मास्क पहनें, जहां कोरोना का संक्रमण ज्यादा हो। जहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा हो, वहां भी मास्क पहनना जरूरी है। छोटे बच्चे न तो मास्क पहन सकते हैं और न ही सही तरीके से उतार सकते हैं। ऐसे में संक्रमण का खतरा हो सकता है। इसके अलावा पैरेंट्स को चाहिए कि वह बच्चों के मास्क पहनने और उतारने के तरीकों पर ध्यान दें। बेहतर होगा कि उन्हें सही से मास्क पहनना व उतारना सिखाएं।
सुझाए ये तरीके
– पैरेंट्स छोटे बच्चे को मास्क पहनना और उतारना सिखाएं
– खेलते और एक्सरसाइज करते समय बच्चे न पहनें मास्क।
– बच्चों को बाहर खेलने न जाने दें।
इस उम्र वालों के लिए जरूरी है मास्क
डब्लूएचओ ने यूनीसेफ के सहयोग से नई गाइडलाइंस में 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को बड़ों की तरह मास्क पहने की बात की है। खासकर पर तब जब भीड़ भाड़ वाले इलाकों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न हो रहा हो, ताकि संक्रमण तेजी से न फैले।
खेलते वक्त न पहनें मास्क
बच्चों को खेलते समय या एक्सरसाइज करते समय मास्क नहीं पहनना चाहिए। खेलते वक्त आप ज्यादा तेजी से सांस लेते हैं और बच्चों की सांस नली बड़ों के मुकाबले मुलायम भी होती है। ऐसे में सांस न ले पाने की समस्या हो सकती है, जो आगे चलकर सांस संबंधित समस्या बन सकती है। ऐसे में संभव हो तो बच्चों को घर पर ही खेलने दें, क्योंकि बाहर जाने से संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।

1 thought on “पांच साल से कम उम्र के बच्चों को मास्क पहनने की नहीं है जरूरतः डब्ल्यूएचओ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *