June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

उत्तराखंड में 24 घंटे में कोरोना से 21 मौत+11 पुरानी=कुल 32, कोरोना कर्फ्यू में कुछ और दुकानों को मिली राहत

1 min read
उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार सुस्त पड़ गई है। हालांकि कोरोना कर्फ्यू को 15 जून तक बढ़ाने की घोषणा कर दी गई है। इसमें दी गई राहत से व्यापारी तबका नाराज था। इस पर आज सोमवार को सरकार को संशोधित आदेश जारी किए करने पड़े।

उत्तराखंड में कोरोना की रफ्तार सुस्त पड़ गई है। हालांकि कोरोना कर्फ्यू को 15 जून तक बढ़ाने की घोषणा कर दी गई है। इसमें दी गई राहत से व्यापारी तबका नाराज था। इस पर आज सोमवार को सरकार को संशोधित आदेश जारी किए करने पड़े। वहीं, सोमवार सात जून की शाम स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक 24 घंटे के भीतर 395 कोरोना के नए संक्रमित मिले और 21 लोगों की कोरोना से मौत हुई। एक दिन पहले रविवार छह जून को 446 नए कोरोना के संक्रमित मिले थे और इस अवधि में कुल 23 लोगों की कोरोना से मौत हुई। साथ ही सोमवार को 2335 लोग स्वस्थ हुए। वहीं ब्लैक फंगस का भी हमला लगातार हो रहा है। अब तक विभिन्न अस्पतालों में 304 मामले दर्ज किए गए। इनमें अब तक 48 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं, 18 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। अभी भी मौत के पिछले आंकड़े कुल योग में जोड़े जा रहे हैं। आज भी एक दिन में 21 मौत दर्शायी गई, वहीं मौत के कुल आंकड़ों में 32 मौत जोड़ी गई। यानी 11 मौत पुरानी जोड़ी गई हैं। इसका मतलब साफ है कि पिछले दो माह से अस्पतालों में काफी संख्या में मौत के आंकड़े छिपाए। अब धीरे धीरे इन्हें मौत के टोटल में अर्जेस्ट किया जा रहा है। ऐसा लगातार 17 मई से किया जा रहा है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर उत्तराखंड में कितनी मौत हुई, जो अभी तक पुराने आंकड़े जोड़े जा रहे हैं।

कुल एक्टिव केस 14122
उत्तराखंड में कोरोना के कुल एक्टिव केस 14122 रह गए हैं। कंटेनमेंट जोन भी 161 से घटकर 148 हो गए हैं। यहां एक तरीके से पूर्ण लॉकडाउन है। कोरोना कर्फ्यू की अवधि अब 15 जून की सुबह छह बजे तक है। सुबह आवश्यक वस्तुओं की दुकानें आठ बजे से लेकर सुबह 11 बजे तक खुल रही हैं।

कल से कम लगाए गए टीके
अब तक उत्तराखंड में नए संक्रमितों के मामले में तीन बार आठ हजार का आंकड़ा एक दिन में पार हो चुका है। वहीं, पहली बार नौ हजार का आंकड़ा शुक्रवार सात मई को पार हुआ था। यदि टीकाकरण की बात की जाए तो सोमवार सात जून को 467 केंद्र में 24432 लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए। रविवार छह जून को 321 केंद्रों में 31185 लोगों, शनिवार पांच जून को 407 केंद्र में 34497 लोगों को, शुक्रवार चार जून को 354 केंद्रों में 24941 लोगों को, गुरुवार तीन जून को 312 केंद्रों में 14506 लोगों को, बुधवार दो जून को 282 केंद्र में 12224 लोगों को, मंगलवार एक जून को 316 केंद्रों में 15648 लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए थे। टीकाकरण की शुरूआत में चालीस हजार से लेकर 70 हजार के बीच टीके लगाए जा रहे थे। ऐसे में ये संख्या कम है। वहीं, निजी अस्पतालों में बड़ी संख्या में नौ सौ रुपये देकर टीके लगाए जा रहे हैं। वहीं 18 साल से 44 साल वालों को टीकाकरण के स्लाट निजी अस्पतालों में ही मिल रहे हैं। सरकारी अस्पतालों में अभी स्लाट नहीं दर्शाए जा रहे हैं।

सर्वाधिक संक्रमित देहरादून जिले में मिले
उत्तराखंड में सोमवार सात जून को भी सर्वाधिक नए संक्रमित देहरादून जिले में मिले। हालांकि सोमवार को किसी जिले में दहाई से ऊपर आंकड़ा नहीं गया। देहरादून में 94, नैनीताल में 35, हरिद्वार में 62, उधमसिंह नगर में 39, चमोली में 22, बागेश्वर में 2, रुद्रप्रयाग में 3, अल्मोड़ा में 64, पिथौरागढ़ में 12, पौड़ी में 18, टिहरी में 23, उत्तरकाशी में 10, चंपावत में 11 नए संक्रमित मिले।

अब तक कुल 6731 मौत
उत्तराखंड में अब कोरोना के कुल संक्रमितों की संख्या 334419 हो गई है। इनमें से 307574 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक प्रदेश में कुल 6731 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। मौत की दर 2.01 फीसद पहुंच गई है। वहीं, रिकवरी 91.97 फीसद है। वहीं, ब्लैक फंगस के विभिन्न अस्पतालों में अब तक 304 मामले सामने आए हैं। इनमें अब तक 48 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं, 18 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।

पिछले सात दिन के आंकड़े
उत्तराखंड में रविवार छह जून को 446 नए कोरोना के संक्रमित मिले थे और इस अवधि में कुल 23 लोगों की कोरोना से मौत हुई थी। शनिवार पांच जून को 619 लोग, शुक्रवार चार जून को 892 लोग कोरोना के नए संक्रमित, गुरुवार तीन जून को 589 कोरोना के नए संक्रमित, बुधवार दो जून को 1003 नए संक्रमित, मंगलवार एक जून को 981 कोरोना के नए संक्रमित, सोमवार 31 मई को 1156 नए संक्रमित मिले थे। वहीं, सात मई को सर्वाधिक 9642 नए कोरोना संक्रमित मिले थे। शनिवार 15 मई को सर्वाधिक 197 मौत दर्ज की गई थी।

148 स्थानों पर लॉकडाउन
उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 148 स्थानों पर कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। संक्रमितों के लिहाज से ये संख्या घटती बढ़ती रहती है। यहां लॉकडाउन की स्थिति है। ऐसे स्थानों में सामाजिक, धार्मिक, व्यापारिक गतिविधियां प्रतिबंधित हैं। वहीं, लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। एक परिवार के एक सदस्य को आवश्यक वस्तु के लिए मोबाइल वेन तक जाने की अनुमति है।
कर्फ्यू के दौरान वाणिज्यिक और निजी प्रतिष्ठान के लिए पहले नियम
-COVID- Curfew के दौरान सार्वजनिक वितरण प्रणाली के खाद्यान्न वितरण को सरल बनाने के लिए राज्य के समस्त PDS-Ration के सस्ते गल्ले की दुकानें दिनांक 08 जून 2021 से 15 जून, 2021 तक प्रातः 8 बजे से सुबह 12 बजे तक खुली रहेंगी।
-राशन की दुकानें, किराने के समान की दुकाने एवं General Stores 09 जून 2021 (बुधवार) एवं 14 जून 2021 (सोमवार) प्रातः 8:00 बजे से अपरान्ह 01.00 बजे तक खुली रहेंगी।
-Stationery एवं किताबों की दुकानें 09 जून 2021(बुधवार) एवं 14 जून 2021 (सोमवार) प्रातः 8:00 बजे से अपरान्ह 01:00 बजे तक खुली रहेंगी।
-खाद्य पैकेजिंग की दुकानें, कपड़ा, रेडिमेड (एकल रूप में), दर्जी की दुकानें, चश्में की दुकानें, साईकिल स्टोर, औद्योगिक मशीनरी, मोटर पार्टस की दुकानें एवं ड्राई क्लीनर्स की दुकानें 11 जून 2021 (शुक्रवार) को प्रातः 8:00 बजे से अपरान्ह 01:00 बजे तक खुली रहेंगी।
-फोटोकॉपी की दुकानें, टिम्बर मर्चेन्ट की दुकानें 09 जून 2021 (बुधवार) प्रातः 8:00 बजे से अपरान्ह 01:00 बजे तक खुली रहेंगी।
-मदिरा की दुकानें 09 जून 2021 (बुधवार). 11 जून 2021 (शुक्रवार) एवं 14 जून 2021 (सोमवार) प्रातः 8:00 बजे से अपरान्ह 01:00 बजे तक खुली रहेंगी। बार अग्रिम आदेश तक बंद रहेंगे।
-फल, सब्जी, डेयरी और दूध, Backery Manufacturing, माँस, चिकन और मछली की बिक्री, उनके परिवहन, वेयर हाउसिंग और संबंधित गतिविधियाँ दैनिक आधार पर प्रातः 08:00 से प्रातः 12:00 बजे तक खुली रहेंगी। यह प्रतिष्ठान सभी COVID-19 सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करेंगे।
-आम जनता को फल और सब्जियों आदि की सीधी खरीद के लिए मंडी परिसर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी।
-जिला प्रशासन द्वारा स्थानीय विक्रेताओं के माध्यम से फलों और सब्जियों, डेयरी और दूध, माँस आदि की होम डिलीवरी को प्रोत्साहित किया जायेगा तथा इस हेतु आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध करायी जायेंगी ।
-होटल, रेस्तरां, भोजनालयों और ढाबों को केवल खाद्य पदार्थों की Takeaway/ होम डिलीवरी के लिए रसोई संचालित करने की अनुमति होगी।
-होटल, ढाबे, रेस्तरां में बैठकर भोजन करना पूरी तरह से निषिद्ध रहेगा। होटल, ढाबे, रेस्तरां और भोजनालय होम डिलीवरी हेतु वाहनों का उपयोग कर सकते हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अन्य मार्गों में चलने वाले मालवाहक एवं अन्य वाहनों के चालकों/यात्रियों की सुविधा हेतु भोजन को पैकिंग कर दिये जाने की अनुमति होगी।
-COVID-19 सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करते हुए पशु चारा, बीज, उर्वरक और कीटनाशक से संबंधित प्रतिष्ठान तथा उनके परिवहन, वेयर हाउसिंग एवं अन्य संबंधित गतिविधियां दैनिक आधार पर प्रातः 08:00 से सुबह 11:00 बजे तक खुले रहेंगे।
-ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म के अन्तर्गत अमेजन, फ्लिपकार्ट, ब्लू डार्ट, DTDC, Myntra आदि द्वारा सभी सेवाओं की ऑनलाइन डिलीवरी/होम डिलीवरी की अनुमति है। राज्य के किसी भी स्थान पर चेकिंग के दौरान उन सेवादाता कम्पनियों के कर्मचारियों को अपने प्रतिष्ठानों से जारी किये गये वैध परिचय पत्र को दिखाना अनिवार्य होगा।
-खाद्य और किराने की वस्तुओं के फुटकर विक्रेताओं को होम डिलीवरी सेवाएं प्रदान करने की अनुमति होगी।
अब ये किया बदलाव
-खाद्य पैकेजिंग की दुकाने, कपडा, रेडिमेड (एकल रूप में), दर्जी की दुकानें, ड्राई क्लीनर्स, चश्में की दुकानें, साईकिल स्टोर औद्योगिक मशीनरी, मोटर पार्टस की दुकानें, क्रॉकरी (बर्तन) की दुकानें, हौजरी, इलेक्ट्रॉनिक्स, इलेक्ट्रिकल्स एवं इलेक्ट्रॉनिक्स पार्टस, कम्प्यूटर हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर/वेब डिजाईनिंग, हार्डवेयर पेन्ट्स/सैनिटरी, स्टोन (Marbales chips), कारपेन्टर्स. फर्नीचर एवं टिम्बर मर्चेन्ट्स की दुकानें दिनांक: 08 जून, 2021 (मंगलवार) एवं 11 जून 2021 (शुक्रवार) को प्रातः 800 बजे से अपरान्ह 01:00 बजे तक खुली रहेंगी।
-सभी माल वाहक वाहनों को सामग्री लोड या अनलोड करने की अनुमति होगी एवं समस्त होलसेलर/रिटलेर दुकानों के गोदामों में सामान की लोड करने/ उतारने की दैनिक रूप से (24×7) अनुमति है।
पढ़ें: उत्तराखंड में 15 जून तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, शराब के साथ अन्य दुकानों को भी राहत, पढ़िए नियम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *