June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

योग गुरु बाबा रामदेव का दावा, पतंजलि ने तैयार की ब्लैक फंगस की आयुर्वेदिक दवा

1 min read
कोरोना की दवा कोरोनिल के बाद अब योग गुरु बाबा रामदेव ने ब्लैक फंगस की दवा बनाने का दावा किया है।

कोरोना की दवा कोरोनिल के बाद अब योग गुरु बाबा रामदेव ने ब्लैक फंगस की दवा बनाने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि पतंजलि योगपीठ के पतंजलि रिसर्च सेंटर ने ब्लैक फंगस की आयुर्वेदिक दवा तैयार कर ली है। उन्होंने कहा कि जरूरी औपचारिकताओं को पूरा किया जा रहा है। इसके बाद जल्द ही यह बाजार में उपलब्ध होगी। इसके अलावा व्हाइट और यलो फंगस की दवा पर भी शोध जारी है।
समाचार पत्र दैनिक जागरण से बातचीत में बाबा रामदेव ने उक्त दावा किया। गौरतलब है कि इसी साल फरवरी माह में बाबा रामदेव ने कोरोनारोधी दवा कोरोनिल लॉंच की थी। दावा किया गया था कि ये दवा कोरोना संक्रमितों को स्वस्थ कर देगी। इस दवा को लेकर विवाद उठा तो बाद में इसे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवा बताया गया। आज भी लोग कोरोना संक्रमित होने या फिर कोरोना से बचने के लिए इस दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं।
बाबा रामदेव ने बताया कि देश में फंगस के मामले बढ़ने के बाद इस दिशा में विचार किया गया। पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण के दिशा-निर्देशन में पतंजलि रिसर्च सेंटर प्रमुख डा. अनुराग वार्षणेय के नेतृत्व में शोध टीम ने इस पर काम करना शुरू कर दिया था। टीम ने पांच से छह सप्ताह में यह सफलता हासिल की है। बाबा रामदेव ने पतंजलि की इस सफलता के लिए आचार्य बालकृष्ण और डा. अनुराग वार्षणेय को बधाई दी है।
आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि पतंजलि में फंगस की दवा से संबंधित शोध अब पूरा हो चुका है। सरकारी एजेंसियों से मंजूरी लेने के साथ ही अन्य जरूरी औपचारिकताएं भी पूरी की जा रही हैं। उन्होंने बताया कि एक से डेढ़ सप्ताह में ये काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद पतंजलि की सफलता की सार्वजनिक घोषणा कर इसे मानव मात्र की सेवा में समर्पित कर दिया जाएगा।
गौरतलब है कि उत्तराखंड में भी वहीं ब्लैक फंगस का भी हमला लगातार हो रहा है। अब तक विभिन्न अस्पतालों में 221 मामले दर्ज किए गए। इनमें अब तक 17 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं, 13 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं।
पढ़ेंः योग गुरु बाबा रामदेव का एलान, खत्म करना चाहते हैं विवाद, मेरी उम्र अभी सिर्फ 25 साल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *