June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

Video: कांग्रेस उपाध्यक्ष धस्माना बोले-अल्मोड़ा में बांट दिए नकली ऑक्सीमीटर, ब्लैक फंगस के इंजेक्शन को परेशान हुए लोग

1 min read
उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि ब्लैक फंगस के इलाज में उपयोग में आने वाले ऐम्फोटेरिसिन इंजेक्शन कि किल्लत आज भी बरकरार रही।

उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि ब्लैक फंगस के इलाज में उपयोग में आने वाले ऐम्फोटेरिसिन इंजेक्शन कि किल्लत आज भी बरकरार रही। तीन दिन से इंजेक्शन के लिए सीएमओ दफ्तर के चक्कर काट रहे दर्जनों लोगों को करीब दो बजे कह दिया गया कि इंजेक्शन जब आएंगे तब अस्पताल भेज दिए जाएंगे। आप लोग यहां भीड़ न लगाएं। लम्बे समय से इंतजार कर रहे लोगों की सीएमओ दफ्तर के अधिकारियों व कर्मचारियों से बहस हुई तो पुलिस ने लोगों को बाहर कर दिया।
उन्होंने बताया कि भीड़ में से एक महिला ने उन्हें फोन कर सारी बात बताई। इस पर उन्होंने नोडल अधिकारी डॉक्टर कैलाश गुंज्याल से बात की तो उन्होंने बताया कि सीएमओ दफ्तर में अभी तक कोई इंजेक्शन प्राप्त नहीं हुए और उपलब्धता व वितरण के बारे में या तो सीएमओ या डीजी ही बता पाएंगे। इस पर उन्होंने स्वास्थ्य महानिदेशक डॉक्टर तृप्ति बहुगुणा से वार्ता की और इस बात पर गहरी नाराजगी जाहिर करी। उन्होंने कहा कि कल उनको यह आश्वासन दिया गया था कि कल देर रात तक 15000 इंजैक्शन देहरादून आ जाएंगे, लेकिन आज भी 42 मरीजों के तीमारदार सीएमओ दफ्तर भटक रहे हैं।
धस्माना ने डीजी से कहा कि अगर सरकार व स्वास्थ्य विभाग ये चाहता है कि मैं डीजी दफ्तर पर अनिश्चितकाल के लिए धरने पर बैठ जाऊं तो फिर मैं ऐसा ही करता हूँ। इस पर डीजी ने एक घंटे का समय मांगा और फिर थोड़ी देर में उनको यह सूचना दी कि इंजेक्शन चार बजे तक सीएमओ दफ्तर से वितरित होगा। उन्होंने धस्माना को बताया कि उन्होंने दून अस्पताल से व्यवस्था करके सीएमओ ऑफिस इंजेक्शन भेज दिए है। धस्माना ने अस्पताल में इंजैक्शन के लिए इंतजार कर रहे लोगों को वहीं रुकने के लिए कहा और शाम साढ़े चार बजे कई तीमारदारों ने फोन करके उनको धन्यवाद दिया कि उनको इंजेक्शन मिल गए हैं। उन्होंने बताया कि आज सीएमओ दफ्तर से 42 लोगों को इंजेक्शन वितरित हुए।

आपदा में अवसर का आरोप
सूर्यकांत धस्माना ने बीजेपी नेताओं पर आपदा में अवसर तलाशने का आरोप लगाया। कहा कि सरकार ने विधायकों को निधि से एक करोड़ खर्च करने को कहा। इसका विधायक दुरुपयोग कर रहे हैं। अल्मोड़ा में विधानसभा उपाध्यक्ष ने जो ऑक्सीमीटर खरीदकर दिए वो नकली निकले। जनता को ये वस्तुएं भी असली नहीं दे रहे हैं। कोविड में जनता को ऑक्सीजन नहीं दे पाए, अस्पताल में बेड नहीं दे पाए। अब यदि ऐसा आचरण करेंगे तो जनता का विश्वास खोओगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *