June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

एक्शन मोड में भाजपा, गांवों का भ्रमण करेंगे विधायक, सांसद व पदाधिकारी, दूरस्थ की बजाय सुविधा वाले गांव में सेवा

1 min read
कोरोनाकाल में बिगड़ चुकी छवि को दोबारा से संवारने के लिए भाजपा एक्शन मोड में आने वाली है। इसके लिए हर दिन राष्ट्रीय अध्यक्ष समस्त राज्यों के पदाधिकारियों, सांसदों के साथ वर्चुअली बैठकें कर रहे हैं।

कोरोनाकाल में बिगड़ चुकी छवि को दोबारा से संवारने के लिए भाजपा एक्शन मोड में आने वाली है। इसके लिए हर दिन राष्ट्रीय अध्यक्ष समस्त राज्यों के पदाधिकारियों, सांसदों के साथ वर्चुअली बैठकें कर रहे हैं। साथ ही निर्देश दे रहे हैं। गौरतलब है कि रविवार की शाम भाजपा और आरएसएस की बैठक में भी छवि सुधारने और कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चर्चा की गई थी। इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भी भाग लिया था।
तब से ही हर दिन भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा राज्यों के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोनाकाल में हो रहे कार्यों की समीक्षा कर रहे हैं। इस बैठकों में राज्यों से फीडबैक दिया जा रहा है कि सब कुछ बेहतर ढंग से चल रहा है। वहीं, कोरोना की वैक्सीन की कमी को लेकर उनका ध्यान आकर्षित किया जा रहा है या नहीं, इसका फिलहाल कोई पता नहीं है। कई राज्यों में वैक्सीन कम होने के चलते टीकाकरण की रफ्तार एक चौथाई तक रह गई है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्ढा ने देश भर के प्रदेश अध्यक्षो व महामंत्री संगठनो के साथ आयोजित वर्चुअल बैठक में कहा कि 30 मई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल के 7 वर्ष पूर्ण होने पर पार्टी के सभी मोर्चे, सांसदो, विधायक तथा संगठन के पदाधिकारी सेवा ही संगठन कार्यक्रम के तहत देश भर में एक लाख गांवो में प्रवास कर सेवा कार्यों में भाग लेंगे। यहां ये भी बता देना जरूरी है कि नड्डा के निर्देश का हूबहू पालन किया गया तो, उत्तराकंड के दूरस्थ गांव के लोग इस सेवा कार्यों से वंचित रह जाएंगे। क्योंकि उन्होंने निर्देश दिए कि वहां पहुंचा जाए जहां सहूलियत के साथ आसानी से पहुंच बन सके। ऐसे में उत्तराखंड में ऐसे गावों की संख्या कम नहीं हैं, जहां पहुंचने में लोगों को पापड़ बेलने पड़ जाते हैं। गांव तक पहुंचने के लिए सड़कें नहीं हैं। ऐसे में भाजपा के सेवा कार्यों का लाभ ऐसे गांवों को मिलना मुश्किल प्रतीत हो रहा है।
इसके तहत उत्तराखंड के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने पार्टी के सभी विधायकों , सांसदों, सभी पदाधिकारियों को नियत तिथि 30 मई को गावों का भ्रमण के निर्देश देते हुए दूरस्थ गांव तक पहुँच कर सेवा कार्यों में भाग लेने के लिए कहा है।
भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा ने देश भर में 50 हज़ार यूनिट ब्लड एकत्रित करने के लिए कहा। नड्डा ने सांसदो को दो गांव का भ्रमण करने व सरकार में मंत्री किसी चिह्नित गावं में वीडीओ कान्फ्रेंसिंग के जरिये लोगों से जुड़ने के लिए कहा। उन्होंने सभी प्रदेश अध्यक्षों को आयोजित कार्यक्रमों में कोविड प्रोटोकॉल का भी पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा।
वहीं, विधायक, जिला पंचायत ,क्षेत्र पंचायत और ग्राम स्तर पर भी जिम्मेदारी तय होगी। गावं में मास्क, सेनिटाइजर, राशन किट, दवाई, काढा या अन्य जरुरी सामग्री वितरित की जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रो में ऑक्सिमिटर से लोगो का आक्सीजन लेबल चेक करने या आरटी-पीसीआर जांच कराया जा सकता है। सभी मोर्चो को दायित्व सौंप कर ब्लड डोनेशन कैंप भी आयोजित किये जाएँगे। उन्होने कहा कि अस्पताल अथवा कैंप में यह व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। इसके लिए रोड मैप पहले सुनिश्चित किया जाना चाहिए। ऐसे गांव चिह्नित किये जाने चाहिए, जिससे 30 मई को सहूलियत के साथ इन गावं तक पहुँच बन सके। यानी उत्तराखंड के दूरस्थ गांव, जहां सड़कों का अभाव है, वे सेवा का लाभ लेने से वंचित हो सकते हैं। जहां सुविधाओं का अभाव सबसे ज्यादा स्वास्थ्य और अन्य मदद की दरकार उन्हीं गांवों के लोगों को है।
उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के गए निर्देशों के क्रम में प्रदेश संगठन ने पूरी तैयारी कर ली है। बैठक में प्रदेश महामंत्री संगठन जेय कुमार भी शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *