June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

दिल्ली में 23 मई से 18 साल से लेकर 44 वर्ष का टीकाकरण हो जाएगा बंद, सीएम केजरीवाल ने बताई ये मजबूरी

1 min read
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में रविवार 23 मई से से 18 साल से लेकर 44 साल तक का वैक्सीनेशन बंद किया जा रहा है।

भारत के कई राज्यों में कोरोना के टीकों की कमी होने लगी है। टीकाकरण का आंकड़ा हर दिन कम होता जा रहा है। ऐसे में कई केंद्र में ताले भी लगने सुरू हो गए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार 22 मई को डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस कर दिल्ली में कोरोना की स्थिति और वैक्सीनेशन की कमी की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दिल्ली में रविवार 24 मई से से 18 साल से लेकर 44 साल तक का वैक्सीनेशन बंद किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की कमी के चलते हमें मजबूरी मे ये कदम उठाया जा रहा है। फिलहाल अस्थायी रूप से इस आयु वर्ग का टीकाकरण बंद किया जा रहा है।
साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार को चार सुझाव भी दिए हैं कि कैसे वैक्सीन की संख्या को बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने पहला सुझाव देते हुए कहा कि देश में वैक्सीन बनाने वाली सभी कंपनियों को बुलाकर भारत बायोटेक की वैक्सीन बनाने का आदेश दें। सीएम केजरीवाल के दूसरे सुझाव के अनुसार सभी विदेशी वैक्सीन कंपनियों की वैक्सीन को भारत में इस्तेमाल करने की तुरंत इजाजत दी जाए। जितने भी विदेशी वैक्सीन निर्माता हैं उनसे भारत सरकार बात करें और खरीद कर राज्य सरकारों को दें। अगर भारत सरकार इनसे वैक्सीन खरीदेंगे तो यह कंपनियां भारत सरकार को सीरियस लेंगी।
अरविंद केजरीवाल ने अपना तीसरा सुझाव देते हुए कहा कि कुछ देश ऐसे हैं जिन्होंने जरूरत से ज्यादा वैक्सीन का स्टॉक जमा कर लिया है, उनसे भारत सरकार वैक्सीन वापस लेने की गुजारिश करे। चौथे सुझाव के अनुसार वैक्सीन निर्माता कंपनियों को भारत में उत्पादन की अनुमति दी जाए। उन्होंने कहा कि मेरी केंद्र सरकार से अपील है कि हमको युवाओं के लिए तुरंत वैक्सीन दी जाए और हमारा वैक्सीन का कोटा भी बढ़ाया जाए।
कोरोना की स्थिति की जानकारी देते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामलों में लगातार तेजी से कमी आ रही है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना की रफ्तार कम हुई है। एक दिन में यह 2200 नए मामले तक आ गया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब संक्रमण दर भी 3.5 फीसद से नीचे आ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *