June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

केजरीवाल के बयान पर सिंगापुर की आपत्ति, भारत के विदेश मंत्री बोले-दिल्ली के सीएम भारत की आवाज नहीं

1 min read
कोरोनावायरस के नए वेरिएंट को लेकर दिल्ली के सीएम केजरीवाल के ट्विट पर विवाद बढ़ता जा रहा है। इसे लेकर सिंगापुर ने कड़ी आपत्ति जताई।


कोरोनावायरस के नए वेरिएंट को लेकर दिल्ली के सीएम केजरीवाल के ट्विट पर विवाद बढ़ता जा रहा है। इसे लेकर सिंगापुर ने कड़ी आपत्ति जताई। वहीं, भारत के विदेश मंत्री ने भी इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि-दिल्ली के सीएम पूरे भारत की आवाज नहीं है। बुधवार को विदेश मंत्रालय की ओर से बताया गया कि सिंगापुर सरकार की ओर से भारतीय उच्चायोग को कॉल कर इसे लेकर सख्त आपत्ति जताई है। मंगलवार को केजरीवाल ने कोरोनावायरस के ‘नए सिंगापुर वेरिएंट’ को लेकर चिंता जताते हुए ट्वीट किया था और केंद्र सरकार से सिंगापुर से आने-जाने वाली फ्लाइट्स बंद करने का सुझाव दिया था। इसे लेकर आज विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर जानकारी दी कि सिंगापुर की सरकार की ओर से भारतीय उच्चायोग को कॉल करके इसपर आपत्ति जताई गई है।
उन्होंने ट्वीट कर बताया कि सिंगापुर की सरकार ने हमारे उच्चायोग को कॉल करके दिल्ली के मुख्यमंत्री के ‘सिंगापुर वेरिएंट’ वाले ट्वीट पर कड़ी आपत्ति जताई है। हमारे उच्चायुक्त ने उन्हें बताया कि दिल्ली के सीएम कोविड के वेरिएंट्स या फिर सिविल एविएशन पॉलिसी की घोषणा करने की पात्रता नहीं रखते हैं।
इस मुद्दे पर विदेश मंत्री ने भी ट्वीट किया। उन्होने कहा कि- भारत और सिंगापुर कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मजबूत भागीदार रहे हैं। हम लॉजिस्टिक हब और ऑक्सीजन सप्लायर के तौर पर सिंगापुर की मदद की सराहना करते हैं। हमारी मदद के लिए मिलिट्री एयरक्राफ्ट की तैनाती करने का उनका कदम बताता है कि हमारे संबंध कितने उम्दा हैं।
उन्होंने अगले ट्वीट में कहा कि- हालांकि, कुछ लोगों के गैर-जिम्मेदाराना बयानों से लंबी चली आ रही भागीदारियों को नुकसान पहुंच सकता है। तो मैं साफ कर देता हूं कि- दिल्ली के सीएम का बयान पूरे भारत का बयान नहीं है। इस बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इस बारे में कहा कि एक अलग स्ट्रेन है, यह बात पक्की है और इसपर जोर दिए जाने की जरूरत है कि स्ट्रेन अलग है। विदेश मंत्री की ओर से केजरीवाल के बयान को ‘गैर-जिम्मेदाराना’ बयान बताने के रुख पर उन्होंने कहा कि-केंद्र सरकार ने एक साल पहले भी यूरोप से आने वाली फ्लाइट्स को बंद करने की हमारी अपील पर विरोध जताया था।
ये था केजरीवाल का ट्विट
बता दें कि मंगलवार को केजरीवाल ने एक ट्वीट कर कहा था कि-सिंगापुर में आया कोरोना का नया रूप बच्चों के लिए बेहद खतरनाक बताया जा रहा है। भारत में ये तीसरी लहर के रूप में आ सकता है। केंद्र सरकार से मेरी अपील- 1. सिंगापुर के साथ हवाई सेवाएं तत्काल प्रभाव से रद्द हों। 2. बच्चों के लिए भी वैक्सीन के विकल्पों पर प्राथमिकता के आधार पर काम हो।
सिंगापुर उच्चायोग ने किया ट्विट
उनके इस ट्वीट के बाद भारत में सिंगापुर के उच्चायोग ने एक ट्वीट कर कहा था कि- इस बात में कोई सच्चाई नहीं है कि सिंगापुर में कोविड का कोई नया स्ट्रेन है। फाइलोजेनेटिक टेस्टिंग में दिखा है कि सिंगापुर में पिछले कुछ हफ्तों में मिले संक्रमण के मामलों में पहले से मौजूद B.1.617.2 वेरिएंट ही मुख्य रुप से मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *