June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कोरोनाकाल में बैठकों और कांग्रेस पर हमले में जुटी है भाजपा, प्रदेश प्रभारी ने लिया फीडबैक, प्रदेश अध्यक्ष ने लगाया आरोप

1 min read
उत्तराखंड में कोरोनाकाल में भाजपा संगठन बैठकों के साथ ही कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों में हमले में जुटा है। फिलहाल ऐसा ही नजर आ रहा है।


उत्तराखंड में कोरोनाकाल में भाजपा संगठन बैठकों के साथ ही कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों में हमले में जुटा है। फिलहाल ऐसा ही नजर आ रहा है। विभिन्न दल और संगठन लोगों की मदद के फोटो और वीडियो जारी कर रहे हैं, वहीं भाजपा के नेता प्रेस को बयान ही जारी कर रहे हैं। कुछ एक अपवाद को छोड़कर। इस बयानों में कांग्रेस पर हमला किया जाता है। साथ ही अपने कार्यों की बढ़ाई की जा रही है। उनकी ओर से किए गए कार्यों की भाजपा के प्रदेश मीडिया की तरफ से समाचार पत्रों के लिए एक भी फोटो जारी नहीं होने से तो यही कहा जा सकता है कि जंगल में मौर नाचा तो किसने देखा। ऐसा नहीं है कि काम नहीं हो रहा होगा, लेकिन अभी तक उत्तराखंड भाजपा ने दावे तो बहुत किए, लेकिन अपने दावों की एक भी फोटो जारी नहीं की। वहीं, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा विधायक त्रिवेंद्र सिंह रावत की ओर से जरूर ब्लड डोनेशन कैंप की फोटो जारी की गई। वहीं, एक निजी अस्पताल ने अपने बीस बेड बढ़ाए तो इसका फीता काटते हुए  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की फोटो जारी की गई थी। साथ ही लगातार भाजपा विपक्ष पर ही कुछ काम न करने का आरोप लगा रही है। ऐसा सिर्फ भाजपा की नहीं कर रही। दूसरे दलों के कई नेता  भी खुद कुछ नहीं कर रहे हैं। घरों से बाहर नहीं निकल रहे, लेकिन बयान जरूर जारी कर रहे हैं। साथ ही भाजपा पर कुछ न करने के आरोप लगा रहे हैं।
प्रदेश प्रभारी ने लिया फीड बैक, प्रभारी मंत्री और संगठन से की मंत्रणा
उत्तराखंड में भाजपा के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम ने उतराखण्ड में चल रहे राहत कार्यों का फीड बैक लेने के लिए प्रभारी मंत्रियो और संगठन के पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक में हालात का जायजा लिया और जरुरी हिदायते दी। प्रदेश प्रभारी गौतम ने जानकारी ली की प्रभारी मंत्रियो की ओर से अपने क्षेत्रो में समय समय पर दौरे किये जा रहे हैं और किस तरह समाधान किया जा रहा है।


गौतम ने कहा कि जिलों में जिलाध्यक्ष के साथ तालमेल बनाकर प्रभारी मंत्री समस्याओ का हल बेहतर ढंग से कर सकते हैं। इसके लिए जिलों में कार्य कर रहे पदधिकारियो के साथ समन्वय बनाना होगा और उनके सुझावों को भी गंभीरता से अमल में लाना होगा। उन्होंने संसाधनों को बढाकर और उनके इस्तेमाल की जरुरत पर भी बल दिया। प्रदेश प्रभारी ने कहा कि आम पीड़ित तक किस तरह से मदद पहुचायी जाए, इसे प्राथमिकता में लिया जाए। संगठन को बूथ स्तर तक राहत अभियान को पहुचाना है और इसके लिए तत्काल कदम बढ़ाये जाए।
बैठक में प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने बताया कि संगठन की ओर से मास्क वितरण, घरों से भोजन पहुचाने, भोजन किट वितरण, ब्लड कैंप तथा जिलों में चल रहे कन्ट्रोल रूम की माध्यम से भी लोगो की मदद की जा रही है। साथ ही कौशिक ने सभी मंत्रियों से अपने जिलों से निरंतर कोविड हालातों का जायजा लेने प्रभावितों की और अधिक मदद के लिए अधिकारियों से नियमित समन्वय बनाने के लिए भी कहा। जनपदों का प्रवास कर राहत कार्यों व संशाधनों को बढ़ाने की भो निरंतर समीक्षा करने के लिए कहा गया।
प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में सभी को व्यक्तिगत स्तर पर जुटना होगा। उन्होंने कहा कि ज़िला स्तर पर कोरोना के खिलाफ लोगो की मदद में जुटे पदाधिकारियों के साथ तालमेल जरूरी है। जमीन पर कार्य कर रहे इन कार्यकर्ताओ के साथ मंत्री और वरिष्ठ नेताओं का तालमेल जरुरी है। बैठक में प्रदेश महामंत्री राजेंद्र भंडारी,कुलदीप कुमार तथा सुरेश भट्ट भी मौजूद रहे।


धरना प्रदर्शन के बजाय पीड़ितों की सुध ले कांग्रेस: कौशिक
उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि संकट की इस घड़ी में कांग्रेस जितनी ऊर्जा धरना प्रदर्शन में लगा रही है, उतनी वह जनता के बीच जाकर सेवा भाव में लगाती तो बेहतर होता। उन्होंने कहा कि यह वक्त राजनीति के लिए मुद्दे तलाशने का नहीं, बल्कि इस समय पीड़ितों के साथ चलने का है और इसमें विपक्ष अधिकतर गायब ही हैं। इस समय प्राथमिकता आलोचना नहीं, बल्कि आगे आकर सम्स्याओ का हल करने और सरकार तथा सरकारी एजेंसी के साथ राहत पहुचाने में मदद करने का है।
कौशिक ने कहा कि राजनीति के लिए आगे भी वक्त आएगा, लेकिन अभी कोरोना से लड़ना है। भाजपा संगठन पूरी ताकत से लोगों की पीड़ा को दूर करने के लिए हर तरह से लगा है और कांग्रेस को भी संकट के समय संयम रखने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *