June 13, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

Video: उत्तराखंड के पूर्व सीएम त्रिवेंद्र ने कहा- कोरोना वायरस प्राणी है, उसे भी है जीने का अधिकार, कांग्रेस ने की निंदा

1 min read
कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते जहां लोगों में भय व्याप्त है, वहीं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक अजीबोगरीब बयान दे डाला।

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते जहां लोगों में भय व्याप्त है, वहीं उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक अजीबोगरीब बयान दे डाला। पहले भी इस तहर के बयान में चर्चा में रहने वाले त्रिवेंद्र का ये बयान सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है। हालांकि उनके समर्थकों ने इसे लोगों को जागरूक करने और कोरोना के खतरों से आगाह करने वाला बयान बताया। उनका आशय कोरोना वायरस के बदले स्वरूप को लेकर था। पूर्व मुख्यमंत्री का यह बयान फेसबुक, व्हाट्सएप पर खूब वायरल हो रहा है। लोग आलोचना भी कर रहे हैं। लेकिन त्रिवेंद्र समर्थकों का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री ने लोगों को कोरोना वायरस से बचने के लिए आगाह किया है।
ये दिया बयान
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जब मैं इलाज कराकर दिल्ली से लौट रहा था। मैंने एक दार्शनिक बात कही थी। वह वायरस भी एक प्राणी है। हम भी एक प्राणी हैं। हम अपने को ज्यादा बुद्धिमान समझते हैं। हम ही सबसे ज्यादा बुद्धिमान हैं, लेकिन वह प्राणी भी जीना चाहता है। उसको भी जीने का अधिकार है।
हम उसके पीछे लगे हैं। वह अपना रूप बदल रहा है। वह बहुरुपिया हो गया। इसलिए हमको इस वायरस से दूरी बनाकर चलना पड़ेगा। तू भी चलता रहा, हम भी चल रहे हैं, लेकिन हमारी चाल तेज होनी चाहिए। हम तेजी से आगे बढ़ें, ताकि वह पीछे छूट जाए। हमको उस और भी सोचने की जरूरत है, क्योंकि वह भी जीवन है।

कांग्रेस ने की निंदा
उत्तराखंड कांग्रेस के प्रांतीय उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने पूर्व सीएम के बयान को हास्यास्पद बताया। उन्होंने कहा कि एक तरफ लोग कोरोना से जान गंवा रहे हैं। सरकार व्यवस्था नहीं कर रही है। अब पूर्व सीएम ऐसी अल्पज्ञान वाले बयान देगा तो पता चलता है कि उन्हें सीएम बनाकर कितनी बड़ी गलती की गई। देखें वीडियो-

1 thought on “Video: उत्तराखंड के पूर्व सीएम त्रिवेंद्र ने कहा- कोरोना वायरस प्राणी है, उसे भी है जीने का अधिकार, कांग्रेस ने की निंदा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *