June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

भारत में नए संक्रमितों से ज्यादा स्वस्थ हुए मरीज, मौत के आंकड़े ने बढ़ाई चिंता, उत्तराखंड में फिर आया उछाल

1 min read
भारत में पिछले 24 घंटे के भीतर एक बार रिकॉर्ड 4205 मरीजों की मौत हुई। राहत की बात ये है कि कोरोना के 348421 नए संक्रमित मिले और इससे ज्यादा लोग स्वस्थ हुए।


भारत में कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप फिलहाल थमता नजर नहीं आ रहा है। हर दिन मिलने वाले नए मामलों की रफ्तार कुछ थमी, लेकिन मौत का सिलसिला जारी है। ऐसे में चिंता बढ़ना स्वाभाविक है। बुधवार 12 मई की सुबह केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी रिपोर्ट में पिछले 24 घंटे के भीतर एक बार रिकॉर्ड 4205 मरीजों की मौत हुई। राहत की बात ये है कि कोरोना के 348421 नए संक्रमित मिले और इससे ज्यादा लोग स्वस्थ हुए। इसी के साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या 23340938 हो गई है। पिछले 24 घंटों में 3 लाख 55 हजार 338 मरीज संक्रमण से मुक्त हुए हैं। इस कारण एक्टिव मरीजों की संख्या में 11 हजार 122 मरीजों की गिरावट देखी गई है। एक्टिव मरीजों की संख्या अभी भी 3704099 बनी हुई है। देश में संक्रमण की पॉजिटिविटी दर 17.56 फीसदी हो गई है।
दैनिक मामले अभी 3 लाख से ज्यादा आ रहे हैं, लेकिन पिछले दिनों यह संख्या 4 लाख के पार पहुंच गई थी। रोजाना के मामला में गिरावट दर्ज की जा रही है। बुधवार लगातार तीसरा दिन है जब इसमें कमी देखी गई है। मंगलवार को जहां 329942 मामले दर्ज किए गए थे, तो सोमवार को यह संख्या 3,66,161 थी। रविवार को 4,03,738 मामले सामने आए थे.
बढ़ाई गई टेस्ट की रफ्तार
देश में एक बार फिर कोविड टेस्टों की रफ्तार को बढ़ाया जा रहा है। ICMR के द्वारा बुधवार की सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में सर्वाधिक 1983804 कोविड टेस्ट किए गए हैं। इससे पहले 30 अप्रैल को 1945299 लोगों की जांच की गई थी। वैक्सीनेशन अभियान को भी गति देने के प्रयास किए जा रहै हैं। अब तक 17.52 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है, जिसमें पिछले 24 घंटों के 1983804 डोज भी शामिल हैं।
उत्तराखंड में तीन तीन बाद फिर बढ़े नए संक्रमित
उत्तराखंड में तीन दिन राहत के बाद कोरोना के नए संक्रमितों की संख्या में फिर उछाल आया है। मंगलवार 11 मई की शाम स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटे के भीतर प्रदेश में 7120 नए संक्रमित मिले। साथ ही 118 लोगों की मौत हुई। अब एक्टिव केस की संख्या 76500 हो गई है। साथ ही मंगलवार को 4933 लोग स्वस्थ भी हुए। रविवार नौ मई को सर्वाधिक 180 लोगों की मौत हुई थी। वहीं, शुक्रवार सात मई को सर्वाधिक 9642 नए कोरोना संक्रमित मिले थे। शनिवार आठ मई से नए संक्रमितों की संख्या कम होने लगी। इस दिन 8390 नए संक्रमित मिले थे। सोमवार 10 मई को 5541 लोग नए संक्रमित मिले थे और 168 की मौत हुई थी। लगातार तीन दिन नए संक्रमितों की संख्या घटने के बाद एक बार फिर से बढ़ गई है। अब तक प्रदेश में नए संक्रमितों के मामले में तीन बार आठ हजार का आंकड़ा एक दिन में पार हो चुका है। वहीं, पहली बार नौ हजार का आंकड़ा शुक्रवार को पार हुआ था। यदि टीकाकरण की बात की जाए तो मंगलवार को को 665 केंद्र में 53036 लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए। साथ ही कंटेनमेंट जोन बढ़कर 422 हो गए हैं। यहां एक तरीके से पूर्ण लॉकडाउन है। उत्तराखंड में 18 मई तक कोविड कर्फ्यू लागू है।
कुल संक्रमितों की संख्या ढाई लाख के पार
उत्तराखंड में अब कुल संक्रमितों की संख्या ढाई लाख के पार हो गई है। अब ये आंकड़ा 256934 पहुंच गया है। इनमें से 171454 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक प्रदेश में कोरोना से कुल 4014 लोगों की मौत हो चुकी है। मौत का प्रतिशत 1.56 है।
सर्वाधिक संक्रमित देहरादून में मिले
मंगलवार को भी देहरादून में सर्वाधिक 2201 संक्रमित मिले। नैनीताल में 1152, उधमसिंह नगर में 813, हरिद्वार में 649, उत्तरकाशी में 586, रुद्रप्रयाग में 368, पौड़ी में 329, अल्मोड़ा में 302, टिहरी में 296, पिथौरागढ़ में 165, चमोली में 155 संक्रमित मिले। चंपावत में 80 और बागेश्वर में 24 संक्रमित मिले।
422 स्थानों पर लॉकडाउन
उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच 422 स्थानों पर कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। यहां लॉकडाउन की स्थिति है। ऐसे स्थानों में सामाजिक, धार्मिक, व्यापारिक गतिविधियां प्रतिबंधित हैं। वहीं, लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। एक परिवार के एक सदस्य को आवश्यक वस्तु के लिए मोबाइल वेन तक जाने की अनुमति है। इन क्षेत्र में देहरादून में 74, हरिद्वार में 23, नैनीताल में 66, पौड़ी में 17, उत्तरकाशी में 83, उधमसिंह नगर में 69, चंपावत में 32, चमोली में 8, टिहरी में 21, रुद्रप्रयाग में 6, पिथौरागढ़ में 9, अल्मोड़ा में 11, बागेश्वर में 3 कंटेनमेंट जोन है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *