June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कोरोना पीड़ितों की मदद के साथ ही जानवरों को भी खाना खिला रहे ये कर्मवीर, एक फोन कॉल में पहुंचाई जा रही मदद

1 min read
बिल्डिंग ड्रीम फाउंडेशन नाम की संस्था के सक्रिय सदस्य कोरोना काल में कोविड-19 के मरीजों के साथ ही जरूरतमंद को भोजन और अनाज उपलब्ध करा रहे हैं।

कोरोनाकाल में कर्फ्यू के दौरान घरों से बाहर नहीं निकलने और रोजगार छीनने के चलते कई ऐसे लोग भी हैं, जिनके पास अन्न का दाना तक नहीं बचा है। सरकारी घोषणाएं तो बहुत हो रही हैं, लेकिन हकीकत कुछ और बयां करती है। ऐसे में यदि स्वयंसेवी संस्थाएं मदद न करें तो ऐसे लोगों का जीवन और दूभर हो सकता है। ऐसी ही एक संस्था देहरादून में कार्य कर रही है। बिल्डिंग ड्रीम फाउंडेशन नाम की संस्था के सक्रिय सदस्य कोरोना काल में कोविड-19 के मरीजों के साथ ही जरूरतमंद को भोजन और अनाज उपलब्ध करा रहे हैं। आवश्यकता पड़ने पर वे लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर व दवा भी पहुंचा रहे हैं।


यही नहीं, संस्था के सदस्य सड़कों में रहने वाले कुत्ते, गाय आदि को भी भोजन दे रहे हैं। संस्था ने कोरोनाकाल में अपने अभियान को कोविड रिलीफ मिशन का नाम दिया है। साथ ही लोगों को संदेश दिया है कि इस महामारी के दौर में इस कठिन समय पर हम एक दूसरे की मदद को तैयार हैं। यदि आपको किसी मदद की जरूरत पड़े तो हमें इन नंबर-6399463996, 6399463997, 6399463998 पर संपर्क कर सकते हैं।


बिल्डिंग ड्रीम फाउंडेशन लगातार देहरादून में करीब पांच साल से अपनी सेवाएं देरही है। संस्था ने देहरादून के प्रेमनगर स्थित ठाकुरपुर में नवादा नाम से बच्चों को निशुल्क शिक्षा के लिए स्कूल भी खोला है। इन दिनों स्कूल बंद हैं। ऐसे में दोपहर का भोजन स्कूल में नहीं बनता तो संस्था गरीब बच्चों के घर पर सूखा अनाज बांट आती है। साथ ही जरूरतंद लोगों के लिए हर दिन भोजन तैयार कर पैकेज घर-घर तक पहुंचा रही है। संस्था की सदस्य शशि जदली के मुताबिक एक दिन बीस से 25 लोगों को भोजन की मदद की जा रही है। करीब दस-12 सदस्य इस कार्य के लिए हर दिन एक्टिव रहते हैं।


संस्था की ओर से शादी, पार्टी होटल और विभिन्न आयोजन में बचे खाने को भी एकत्र किया जाता है। ऐसा आयोजन कराने वाले लोग संस्था के सदस्यों को फोन कर देते हैं। ऐसे भोजन के पैकेट बनाकर गरीब परिवारों को बाटे जाते हैं। संस्था के सदस्यों में रंजीत, हिमांशु पाठक, जूही पाण्डेय, डा सुरभि जायसवाल, आकांशु, भवानी शंकर, कविराज, वन्दना अग्रवाल आदि सभी लोग दिन रात एक होकर कोविडकाल में लोगों की मदद में जुटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *