June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच उत्तराखंड के सीएम ने कोविड केयर सेंटर और एम्स का किया निरीक्षण, जांची व्यवस्थाएं

1 min read
मुख्यमंत्री तीरथ तीरथ सिंह रावत ने आज देहरादून में रायपुर स्थित कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण करने के बाद ऋषिकेश आईडीपीएल में निर्माणाधीन 500 बेड के कोविड अस्पताल का भी निरीक्षण किया।


उत्तराखंड में कोरोना कहर बनकर टूट रहा है। हर दिन नए संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार सात मई की शाम स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट में 24 घंटे के भीतर 9642 नए संक्रमित मिले। वहीं, 137 लोगों की कोरोना से मौत हुई। दोनों ही आंकड़े अब तक के सर्वाधिक आंकड़े हैं। इस बीच मुख्यमंत्री तीरथ तीरथ सिंह रावत ने आज देहरादून में रायपुर स्थित कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण करने के बाद ऋषिकेश आईडीपीएल में निर्माणाधीन 500 बेड के कोविड अस्पताल का भी निरीक्षण किया। इस दौरान डीआरडीओ के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को निर्माणाधीन अस्पताल के पूरे ले-आउट से अवगत कराया।
अधिकारियों ने बताया कि अस्पताल को दो सेक्टर में बांटा गया है जिसमें 250-250 बेड की व्यवस्था की गई है। अस्पताल में लिक्विड पेट्रोलियम प्लांट लगाने के साथ ही यहां 24 घंटे बिजली बैकअप की व्यवस्था की गयी है। इसके अलावा फार्मेसी, लैब की भी व्यवस्था की जा रही है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए कि जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूरे कर लिए जाएं। यह युद्ध की स्थिति है और हमें कोई भी कमी नहीं छोड़नी है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार से जो सहयोग की आवश्यकता है उसके बारे में तत्काल बताया जाए। उन्होंने कहा कि राज्य को सुविधाओं के विकास में भारत सरकार का पूरा सहयोग मिल रहा है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने यहां पर बनकर तैयार हुए 30 बेड के आईसीयू का निरीक्षण किया।
मुख्यमंत्री को रायपुर के विधायक श्री उमेश शर्मा काऊ ने बताया कि आईसीयू में पांच बाईपेप मशीन भी लगाई गई हैं। मुख्यमंत्री ने यहां की गई व्यवस्थाओं पर संतोष जताया। मुख्यमंत्री को सेन्टर हेड डॉ बीपी सिंह ने कोविड केअर सेंटर के संचालन के लिए चिकित्सकों व स्टाफ को बढ़ाने का आग्रह किया। इस पर मुख्यमंत्री की ओर से सकारात्मक कार्रवाई का भरोसा दिलाया गया।
साथ ही मुख्यमंत्री ने देहरादून के जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि अन्य व्यवस्थाओं के साथ ही डॉक्टर , नर्सिंग स्टाफ आदि के भोजन, पानी व आराम करने की उचित व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाये। निरीक्षण के दौरान विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल, जिलाधिकारी डॉ आशीष श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।


इसके बाद मुख्यमंत्री जी ऋषिकेश एम्स पहुँचकर यहां निदेशक प्रोफेसर रविकांत एवं उनकी टीम के साथ तैयारियों को लेकर बैठक की। मुख्यमंत्री जी ने इस दौरान अस्पताल में उपलब्ध ऑक्सीजन बेड, वेंटिलेटर आदि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि अस्पतालों को निर्देशित किया गया है कि वे 24 घंटे पहले अपनी ऑक्सीजन जरूरतों के लिए प्रशासन को अवगत कराएं ताकि अफरा तफरी की स्थिति न बने। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कोविड महामारी से जंग में जुटे सभी डॉक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ का आभार भी जताया।
मुख्यमंत्री को एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने बताया कि वर्तमान में अस्पताल में कम क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट हैं, जिसे बढ़ाने की आवश्यकता है। एम्स निदेशक ने कहा कि अस्पताल में 40 हजार लीटर के ऑक्सीजन प्लांट की आवश्यकता है। इस पर मुख्यमंत्री ने इस मामले में सकारात्मक कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल, ऋषिकेश की मेयर अनिता ममगाईं आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *