June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

केदारनाथ धाम के लिए उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम बोर्ड का दल रवाना

1 min read
श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की व्वस्थाओं के देवस्थानम् बोर्ड का 12 सदस्यीय दल आज प्रात: श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से प्रात: 8.30 बजे केदारनाथ के लिए रवाना हो गया।

श्री केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की व्वस्थाओं के देवस्थानम् बोर्ड का 12 सदस्यीय दल आज प्रात: श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से प्रात: 8.30 बजे केदारनाथ के लिए रवाना हो गया। दल की अगवाई देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बीडी सिंह कर रहे है।
पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा है कि कोविड-19 को देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी के दिशा निर्देश में फिलहाल चारधाम यात्रा पर रोक लगायी गयी है। केवल कपाट खुलेंगे नियमित पूजाअर्चना चलती रहेगी। स्थितियां सामान्य होने पर चारधाम यात्रा को चरणबद्ध रूप से शुरू किया जायेगा।
देवस्थानम बोर्ड का अग्रिम दल केदारनाथ मंदिर में पेयजल, विद्युत, बर्फ हटाने का कार्य, साफ सफाई, सेनिटाईजेशन, रावल व पुजारी आवास निर्माण प्रगति के कार्यों का अवलोकन करेगा। गढ़वाल आयुक्त एवं उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रविनाथ रमन ने कहा है कि सरकार के निर्देश पर कोरोना महामारी को देखते हुए चारधाम यात्रा पूर्णत: स्थगित है। केवल सांकेतिक रूप से धामों के कपाट खोले जाने हैं।
उन्होंने कहा कि कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए केवल रावल पुजारी एवं संबंधित हक हकूकधारियों के चुनिंदा प्रतिनिधि धामों में जायेंगे। देवस्थानम बोर्ड के कार्याधिकारी एनपी जमलोकी ने बताया कि अग्रिम दल में सहायक अभियंता गिरीश देवली, भंडार प्रभारी उमेश शुक्ला, अवर अभियंता विपिन कुमार सहित विद्युत कर्मी, पलंबर और सात स्वयंसेवक शामिल हैं। इस अवसर पर वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी राजकुमार नौटियाल, प्रबंधक अरविंद शुक्ला, पुष्कर रावत, प्रेमसिंह रावत, पुजारी शिवशंकर लिंग, विदेश शैव भी मौजूद रहे।
देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग भगवान केदारनाथ के कपाट इस यात्रा वर्ष 17 मई प्रात: पांच बजे खुल रहे हैं, जबकि यमुनोत्री धाम के 14 मई, गंगोत्री के 15 मई तथा श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 18 मई को खुल रहे हैं। किसी भी धाम में फिलहाल यात्रियों को जाने की अनुमति नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *