May 23, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

सल्ट उपचुनावः कायम रखी भाजपा ने सीट, महेश जीना जीते, देर शाम की गई घोषणा, सीएम तीरथ भी हुए परीक्षा में पास

1 min read
सल्ट उपचुनाव में देर शाम निर्वाचन अधिकारी ने भाजपा के प्रत्याशी महेश जीना को विजयी घोषित किया है।

उत्तराखंड में अल्मोड़ा जिले की सल्ट विधानसभा सीट को भाजपा ने अपने पास कायम रखने में सफलता अर्जित की। कांग्रेसियों के ईवीएम को लेकर गड़बड़ी के आरोप के बीच बार बार बाधित हुई मतगणना के बाद देर शाम निर्वाचन अधिकारी ने भाजपा के प्रत्याशी महेश जीना को विजयी घोषित किया है। साथ ही भाजपा ने ये भी दिखा दिया कि अभी सत्ता में पहुंचने के कांग्रेस के सपने दूर की कौड़ी हैं। यहां भाजपा उम्मीदवार महेश जीना 21874 मत लेकर विजयी रहे। उन्होंने निकटवर्ती प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस की गंगा पंचोली को 4697 मतों से पराजित किया। पंचोली को 17177 मत मिले। इसके साथ ही मुख्यमंत्री के रूप में पहला चुनाव कराने वाले सीएम तीरथ सिंह रावत भी परीक्षा में पास हो गए। इससे भाजपा उत्साहित रहेगी, वहीं, कांग्रेस को अब ये सोचने पर मजबूर कर दिया कि अभी सत्ता में वापसी दूर की कौड़ी है। यदि समय पर नेता नहीं चेते और आपसी खींचतान से बाज नहीं आए तो आगामी विधानसभा चुनाव में नतीजे कुछ इसी तरह हो सकते हैं। बड़े नेताओं को एक दूसरे को नीचा दिखाने से ही फुर्सत नहीं है। उधर, कांग्रेस प्रत्याशी गंगा पंचोली ने ट्विट किया कि-आप सभी का आभार..!! प्रणाम।
ये हैं चुनाव नतीजे
1- महेश जीना। -21874
2- गंगा पंचोली -17177
3- जगदीश चंद्र।-440
4- नंदकिशोर। – 209
5- पान सिंह। -346
6- शिव सिंह रावत। -466
7- सुरेंद्र सिंह। -620
8- नोटा। -721
9-निरस्त वोट – 63

कांग्रेसियों ने किया था हंगामा
सल्ट उपचुनाव की 5वें चक्र की मतगणना के बाद दो मशीनों में अलग अलग रीडिंग पर बखेड़ा खड़ा हो गया था। कांग्रेसियों ने सत्तापक्ष पर ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगा हंगामा शुरू कर दिया था। मतगणना कार्य आधे घंटे तक रोका गया। गुस्साए कांग्रेसी मतगणना कक्ष से बाहर निकल सड़क पर बैठ गए। वहीं जिला निर्वाचन कार्यालय की ओर से मीडिया कर्मियों को मतगणना कक्ष में जाने से रोक दिया गया था। इससे स्थानीय मीडिया कर्मी भी भड़क उठे। उनका आरोप है कि बगैर आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट पहुंचे खास चैनलों के रिपोर्टरों को मतगणना कक्ष में जाने दिया गया। जबकि आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट व दो वैक्सीन लगा चुके मीडिया कर्मियों को जाने से रोका जा रहा है। सल्ट उपचुनाव की 5वें चक्र की मतगणना के बाद दो मशीनों में अलग अलग रीडिंग पर बखेड़ा खड़ा होने के बाद सातवें राउंड में भी हंगामा हुआ। 12वें राउंड में भी हंगामा होने पर मतगणना रोक दी गई। कांग्रेस प्रत्याशी गंगा पंचोली मतगणना स्थल से उठ पर्यवेक्षक के कक्ष में जा पहुंची। ईवीएम में छेड़छाड़ का आरोप लगाया। इसी आपत्ति को देखते हुए 12वें राउंड में पनवाद्योखन बूथ की मतगणना रोक दी गई। तब निर्वाचन से जुड़े सूत्रों ने बताया कि मामला चुनाव आयोग को भेजा गया है। जल्द मतगणना शुरू कराई जाएगी। देर शाम महेश जीना हो विजयी घोषित कर दिया गया।
कोरोना नियमों के पालन का प्रयास
मतगणना कर्मियों को फेस शील्ड, मास्क, टेबल पर सैनिटाइजर व टेबल को पॉलीथिन की मोटी शीट से अलग-अलग बैठाया गया है। इसके अलावा जहां तक संभव है, शारीरिक दूरी का भी पालन किया गया। शुरुआत में पहले 481 पोस्टल बैलेट्स की गिनती की गई है। इसके बाद बूथवार ईवीएम की गिनती की गई। सल्ट सीट के 151 बूथों पर मतगणना के बाद परिणाम घोषित कर दिए जागए।
पिछली बार की अपेक्षा कम हुआ था मतदान
भाजपा विधायक सुरेंद्र जीना की मौत के बाद 17 अप्रैल को सल्ट में उप चुनाव हुआ था। भाजपा ने सुरेंद्र जीना के भाइ महेश जीना व कांग्रेस ने गंगा पंचोली पर दाव खेला है। गंगा पिछले चुनाव में कम वोटों से हारी थी। वह हरीश रावत की करीबी मानी जाती है। हालांकि, मतदान प्रतिशत की बात करें तो 2012 में 51.99 प्रतिशत व 2017 में 45.74 व इस उप चुनाव में सिर्फ 43.28 फीसद लोग ही मतदान को पहुंचे थे।
इसलिए हुए उप चुनाव
गौरतलब है कि नवंबर माह में उत्तराखंड में सल्ट विधानसभा से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह जीना का दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में निधन हो गया था। विधायक कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए थे। इससे कुछ दिन पहले उनकी पत्नी का भी दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। सुरेंद्र सिंह जीना काफी लोकप्रिय थे। सुरेंद्र लगातार तीसरी बार विधायक बने थे। उनके निधन से सल्ट विधानसभा सीट रिक्त हो गई थी।

 

4 thoughts on “सल्ट उपचुनावः कायम रखी भाजपा ने सीट, महेश जीना जीते, देर शाम की गई घोषणा, सीएम तीरथ भी हुए परीक्षा में पास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page