June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कोरोनाकाल में कालाबाजारी पर सख्त कदम उठाने के डीजीपी के निर्देश, दाह संस्कार की एसडीआरएफ को दी जिम्मेदारी

1 min read
उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने पुलिस अधिकारियों की बैठक में कोरोनाकाल में कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने के निर्देश दिए।

उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने पुलिस अधिकारियों की बैठक में कोरोनाकाल में कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने इस दौरान पुलिसकर्मियों की सुरक्षा पर ध्यान देने को भी कहा।
पुलिस मुख्यालय से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उन्होंने पुलिस महानिरीक्षक कुमांयू परिक्षेत्र, उपमहानिरीक्षक गढवाल परिक्षेत्र, समस्त जनपदों/वाहिनियों के प्रभारियो, अन्य जनपदीय पुलिस अधिकारियों एवं थानाध्यक्षों के साथ कोरोना से सम्बन्धित बैठक की। इस दौरान
ये दिए निर्देश
-इस महामारी के दौरान कुछ व्यक्तियों द्वारा ऑक्सीजन एवं हॉस्पिटलों में बेड की कालाबाजारी की जा रही है। इसके अतिरिक्त कुछ लोग एंबुलेंस का किराया भी बहुत ज्यादा ले रहें हैं। ऐसे व्यक्तियों को चिह्नित करते हुए उनके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए। यदि उपरोक्त कालाबजारी में किसी अस्पताल अथवा अस्पताल कर्मी की सलिप्तता प्रकाश में आती है तो उसके विरूद्ध भी कठोर कार्यवाही की जाए।
– राज्य के जनपदों में लॉकडाउन लगने उपरान्त भी बहुत से व्यक्ति अनावश्यक कार्यों के बाहर घूम रहें हैं। अतः रोड पर आने वाले सभी व्यक्तियों की सख्ती चेकिंग की जाए और जो व्यक्ति फालतू घूमते दिखें उनका चालान करें एंव उन्हे पाबंद करें।


– बाहर से आने व्यक्तियों के शत प्रतिशत रजिस्ट्रेशन होना अनिवार्य है। साथ ही आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट आवश्यक है। बॉर्डर के जनपद के प्रभारी यह भी सुनिश्चित करेंगें कि ऐसे व्यक्तियों को ही प्रदेश में प्रवेश दिया जाए जो उपरोक्त शर्तों का पालन करते हैं।
– फ्रन्टलाईन पर कार्य कर रहे पुलिसकर्मी अच्छे मास्क एवं फेस शील्ड का उपयोग करें।
– लावारिस मृतक व्यक्तियों के दाह संस्कार कार्य में एसडीआरएफ का प्रयोग किया जाए। क्योंकि एसडीआरएफ के पास पर्याप्त संसाधन उपलब्ध हैं। इसके अतिरिक्त एसडीआरएफ को इन परिस्थितियों का प्रशिक्षण प्राप्त है। इस कार्य के लिए एसडीआरएफ द्वारा पीपीई किट पहनकर दाह संस्कार किये जाने एवं सम्बन्धित थाना पुलिस को शांति व्यवस्था के लिए उक्त स्थल मौजूद रहने के निर्देश दिये गए।
– किसी पुलिसकर्मी को स्वयं या उसके परिवार के लिए ऑक्सीजन की आवश्यकता हो तो उन्हें तुरन्त पुलिस लाईन या बटालियन से ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जाय।
– पीएसी की प्रत्येक प्लाटून एवं जनपद के प्रत्येक थाने मे पल्स ऑक्सीमीटर एवं थर्मामीटर भी उपलब्ध कराए जांए।
बैठक में इन्होंने किया प्रतिभाग
अपर पुलिस महानिदेशक पीएसी पीवीके प्रसाद, अपर पुलिस महानिदेशक प्रशासन अभिनव कुमार, पुलिस महानिरीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था वी मुरूगेशन, पुलिस महानिरीक्षक पी/एम अमित सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक अभिसूचना एंव सुरक्षा एपी अंशुमान, पुलिस उपमानिरीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था नीलेश आनन्द भरणे, पुलिस उपमहानिरीक्षक एसडीआरएफ/मॉर्डनाईजेशन रिधिम अग्रवाल के अतिरिक्त अन्य अधिकारियों ने प्रतिभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *