June 15, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

Coronavirus: उत्तराखंड से लेकर नोएडा तक पुलिस का मानवीय चेहरा, जरूरतमंद की कर रहे मदद, बनता है सैल्यूट

1 min read
कोरोनाकाल में जहां लोग ऑक्सीजन, दवा, राशन, दवाई आदि को लेकर परेशान हैं, वहीं पुलिस भी किसी फरिश्ते के रूप में ऐसे लोगों की मदद कर रही है।


कोरोनाकाल में जहां लोग ऑक्सीजन, दवा, राशन, दवाई आदि को लेकर परेशान हैं, वहीं पुलिस भी किसी फरिश्ते के रूप में ऐसे लोगों की मदद कर रही है। पुलिस के इस मानवीय चेहरे के चलते ही अब ऐसी स्थिति आ गई है कि लोग नेताओं की बजाय मदद को पुलिस को फोन मिला रहे हैं। वहीं, उन्हें ऐसे फोन का तुंरत उत्तर मिल रहा है और मदद पहुंच रही है। ऐसा सिर्फ उत्तराखंड में नहीं हो रहा है, ये देश के बाकी हिस्सों में भी हो रहा है। यहां उदाहरण के तौर पर हम उत्तराखंड के साथ ही नोएडा की एक घटना का उल्लेख करेंगे।
प्लाज्मा के लिए आगे आए जवान
कोरोनाकाल की शुरूआत में प्लाज्मा दान करने वालों की अच्छी खासी संख्या थी। बाद में नए केस की संख्या घटने के दौरान इस तरफ ध्यान कम दिया गया। अब अचानक फिर कोरोना के केस बढ़ने से दानदाता भी आगे आने लगे हैं। इनमें पुलिस के जवान भी पीछे नहीं हैं। उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने ऐसी ही पोस्ट ट्विटर में शेयर की। इसमें उप निरीक्षक सुधाकर जोशी और विक्रम बिष्ट प्लाज्मा डोनट करते हुए नजर आ रहे हैं। कोरोना के खिलाफ मरीज को लड़ने के लिए इनका योगदान सराहनीय है।
दृष्टिबाधित महिला को पहुंचाई मदद
नोएडा पुलिस कमिश्नर को एक दृष्टिबाधित ने फोन कर मदद मांगी। बताया कि वह कैंसर के साथ ही कोविड-19 से पीड़ित हो गई है। ऑक्सीजन की जरूरत है, लेकिन कहीं नहीं मिल रही। इस फोन कॉल के एक घंटे के भीतर गोतम बुद्ध नगर के पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने महिला को ऑक्सीजन का सिलेंडर उपलब्ध करा दिया। एनएसवीएच एनआइवीएच एल्युमिनी एसोसिएशन ने पुलिस के इस पुनीत कार्य की सराहना की।


पुलिस ने आठ परिवारों को दिया सहारा
उत्तराखंड में नैनीताल जिले के कालाढुंगी क्षेत्र में बैलपड़ाव में 27 अप्रैल को झोपड़ियों में आग लगने से आठ परिवार सड़क पर आ गए थे। उनके पास खाने पीने के लिए भी कुछ नहीं था। इस पर कालाढुंगी पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी परिवार को राशन पहुंचाया।


देहरादून में रायपुर पुलिस ने पहुंचाया ऑक्सीजन सिलेंडर
देहरादून में रायपुर थानाध्यक्ष को रायपुर ढांग निवासी कृष्ण चंद्र ने फोन से सूचना दी कि उनकी मौसी श्रीमती तृप्ति देवी पत्नी राकेश चन्द्र निवासी रायपुर देहरादून का स्वास्थ्य खराब है। उन्हें आक्सीजन की आवश्यकता है। उनका आक्सीजन लेवल 82 आ रहा है। उक्त सूचना पर थानाध्यक्ष रायपुर महोदय ने एक आक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था कर भिजवाया।


विकासनगर पुलिस ने पहुंचाई दवा
विकासनगर क्षेत्र में कुल्हाल निवासी अब्दुल रहमान ने चौकी प्रभारी पंकज कुमार को फोन के जरिये सूचना दी कि 2 दिन पहले उन्होंने पौंटा साहिब हिमाचल प्रदेश में अपना कोविड टेस्ट करवाया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। वह घर में अपनी पत्नी और बच्चों के साथ होम आइसोलेट हैं। उन्हें दवाई की आवश्यकता है। सूचना पर सरकारी अस्पताल विकासनगर से डॉक्टर की सलाह पर पुलिस ने मेडिसिन लेकर उनके घर तक पहुंचाई।


घर को किया सेनीटाइज
देहरादून में रायपुर थाने में एक महिला ने फोन किया है कि वह कोरोना संक्रमित है। होम आइसोलेशन में है। वह घर को सेनीटाइज कराना चाहती है। इस पर पुलिस ने उसके घर सहित आसपास के क्षेत्र को भी सेनीटाइज किया।


चोकी पर आकर रोई महिला, पुलिस ने दिया राशन
देहरादून में कोतवाली डालनवाला के अंतर्गत करनपुर चौकी में एक महिला रोते हुए पहुंची। बताया कि उसका पति नहीं है। घर में छह सदस्य हैं। इन दिनों कोविड कर्फ्यू के चलते खाने के लाले पड़ गए हैं। महिला ने सत्यता के लिए पुलिस को फोन से घर के सदस्यों से बात भी कराई। इस पर पुलिस ने दुकान से खरीदकर उसे 10 किलो आटा, 5 किलो चावल, चीनी, चायपत्ती, तेल, मसाले व नमक का पैकेट बनाकर उक्त महिला उपलब्ध कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *