June 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

इधर सीएम ने दी स्वीकृति, उधर रायपुर विधायक ने कोविड सेंटर में आइसीयू निर्माण को दिए एक करोड़

1 min read
रायपुर विधायक ने अपने क्षेत्र में आइसीयू युक्त कोविड अस्पताल बनाने के लिए एक करोड़ रुपये देने की संस्तुति कर दी है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बुधवार को सभी विधायकों को विधायक निधि से कोविड कार्यों के लिए एक करोड़ रुपये खर्च करने की स्वीकृति दी। इस स्वीकृति से तुरंत बाद ही रायपुर विधायक ने अपने क्षेत्र में आइसीयू युक्त कोविड अस्पताल बनाने के लिए एक करोड़ रुपये देने की संस्तुति कर दी है।
उत्तराखंड में बढते कोविड संक्रमण के देखते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने राज्यहित में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए विधायक निधि से एक करोड़ रुपये तक के कोविड कार्यो को करवाने के लिए स्वीकृति दे दी। मुख्यमंत्री के निर्णय के बाद अब प्रदेश के सभी विधायकअपनी विधायक निधि से अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में कोविड रोकथाम सम्बंधी जरुरी व्यवस्थाओं पर एक करोड़ रुपये तक खर्च कर सकते हैं।
सीएम की इस स्वीकृति के बाद देहरादून में रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ ने तो इस दिशा में प्रयास शुरू कर दिए हैं। विधायक ने जिलाधिकारी को इस संबंध में पत्र लिखा और कार्यदायी संस्था का नाम भी बता दिया है। पत्र में कहा गया है कि पूरा जनपद कोविड-19 से प्रभावित है। सरकारी और गैर सरकारी चिकित्सालय में आइसीयू में जगह नहीं है। चिकित्सक उपचार के लिए भरसक प्रयास में जुटे हैं।
उन्होंने कहा कि हमारे मुख्यमंत्री और सरकार अपने स्तर से महामारी से लड़ रही है। रायपुर कोविड सेंटर के निरीक्षण के उपरांत जनता एवं चिकित्सकों ने आइसीयू के अभाव की पीड़ा से अवगत कराया। इस पर मन विचलित हुआ। हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता हर रोगी के उपचार की है। ऐसे में रायपुर कोविड सेंटर में आइसीयू (गहन चिकित्सा कक्ष) की स्थापना अत्यंत आवश्यक है। सरकार ने निर्णय लिया है कि इस परिस्थतियों में आपदा से निबटने के लिए विधायक अपने विधानसभा क्षेत्र में एक करोड़ रूपये स्वास्थ्य सेवाओं के लिए संस्तुति कर सकता है।

उन्होंने लिखा कि-इसके लिए मैं अपणी विधायक निधि वर्ष-2021-22 में स्वीकृत धनराशि के सापेक्ष एक करोड़ रूपये की धनराशि को तत्काल उपरोक्त आपातकालीन परिस्थितियों से निपटने को आइसीयू की स्थापना के लिए संस्तुति करता हूँ। साथ ही उन्होंने कहा कि यदि इस राशि से अधिक राशि की जरूरत पड़ेगी तो किसी अन्य मद से उसे पूरा करने में सहयोग करें। साथ ही कार्यदायी संस्था को आइसीयू कक्ष में अधिक से अधिक बेड की व्यवस्था करने को कहा जाए। इस कार्य के लिए उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रायपुर को कार्यदायी संस्था के रूप में नामित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *