May 16, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

उत्तराखंड में डिमांड के हिसाब से बहुत कम मिल रही कोरोना वैक्सीन: संजय भट्ट

1 min read
आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड प्रवक्ता संजय भट्ट ने कोरोना वैक्सीन पर सरकार की मंशा पर सवाल उठाया।


आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड प्रवक्ता संजय भट्ट ने कोरोना वैक्सीन पर सरकार की मंशा पर सवाल उठाया। उन्होंने कोरोना वैक्सीन को लेकर केंद्र को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि केंद्र को अपने लोगों की जान बचाने की ज्यादा फिक्र है या पाकिस्तान या अन्य देशों को वैक्सीन देने की। एक तरफ पाकिस्तान भारत में आतंकवादी निर्यात कर रहा, वहीं दूसरी तरफ केंद्र अपने लोगों को दरकिनार कर वैक्सीन निर्यात कर रहा है। भारत परोक्ष और अपरोक्ष रूप से पाकिस्तान को 60 मिलियन वैक्सीन की डोज निर्यात कर रहा है। बाकी 84 देशों को 645 लाख डोज निर्यात कर रहा है। वहीं, भारत में कई राज्यों में कोरोना वैक्सीन खत्म हो रही है या खत्म होने की कगार पर है।
पत्रकारों से बातचीत में आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने कहा कि राज्यों की हालत बिगड़ती जा रही है। एक तरफ कोरोना लगातार बढ़ता जा रहा है, दूसरी तरफ राज्यों में स्टॉक बहुत कम या खत्म हो गया है। कई जगह वैक्सीन की कमी के चलते वैक्सीनेशन सेंटर बंद हो गए। आप प्रवक्ता ने कहा कि कोरोना वैक्सीन को लेकर उत्तराखंड में भी स्थिति बहुत खराब है। जितनी जरूरत है उतनी आपूर्ति नहीं हो पा रही है। डिमांड अगर 10 लाख है तो उसके सापेक्ष 1.38 लाख डोज उत्तराखंड को मिलना ऊंट के मुंह में जीरा समान है।
अल्मोडा और चमोली जिले में लोगों की लंबी कतारें लगने के बावजूद भी कोराना वैक्सीन की नई खेप एक दो दिन से ज्यादा चलना संभव नहीं है। इससे लोगों में वैक्सीन नहीं लग पा रही है। इस वजह से टीकाकरण केन्द्र बंद होने की कगार पर हैं। कई जिले ऐसे हैं जहां एक से दो दिन का ही स्टाक शेष है। केन्द्र द्वारा उत्तराखंड को मिला 1.38 लाख का स्टॉक नाकाफी है, जिससे वैक्सीन की कमी हो रही है।
आप प्रवक्ता ने बताया कि आज भी कई ऐसे इलाके हैं, जहां के बुजुर्ग ग्रामीणों को 10 से 15 किमी की दूरी पैदल ही तय करते हुए कोराना वैक्सीन लगवाने जाना पडता है। उन्हें टीका ना होने के कारण बैरंग लौटना पड़ रहा है। इसलिए पहले अपने देश की जनता को वैक्सीन उपलब्ध करवाए। उन्होंने कहा कि अभी भी लाखों लोग ऐसे हैं, जिन्हें एक भी डोज अभी तक नहीं लग पाई है। केन्द्र सरकार अपनी झूठी शान के लिए अन्य देशों को वैक्सीन निर्यात कर रही है, जबकि कई लोग अभी भी देश में वैक्सीन के इंतजार में अपनी जान गंवा चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *