April 14, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

देखें वीडियोः कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष धस्माना पहुंचे उपनल के धरने में, बोले-तीरथ और त्रिवेंद्र से अच्छा हूं तो मैं भी मुख्यमंत्री बन जाता…

1 min read
देहरादून में समान कार्य समान वेतन को लेकर उपनल कर्मचारियों के आंदोलन के 46 वें दिन आज उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना एक बार फिर कांग्रेस की ओर से धरना स्थल पहुंचे।

उपनकल कर्मियों के धरने के दौरान उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना आज अलग ही तेवर में आए।  कहा कि सब कुछ ऊपर वाले के हाथ में है। मेरा राजनीति करने का तरीका है, उसमें कभी हानि लाभ की नहीं सोची। हानि, लाभ, जीवन, मरण, यश, अपयश ऊपर वाले के हाथ में है। मेरे तो उत्तराखंड राज्य की पहली रिपोर्ट इसी सरकार ने स्वीकार की, वो धस्माना के हाथ से लिखी थी। 1994 में विनोद बड़थ्वाल ड्राफ्टिंग कमेटी के चेयरमैन था। बनना चाहिए था हीरो, बन गया जीरो। मैं जीवन में किए काम को कहता नहीं हूं मैने ये काम किया। यही किया होता तो तीरथ जी से सब कुछ में अच्छा हूं, शकल में अकल में, तो मैं ही सीएम हो जाता। त्रिवेंद्र से भी अच्छा हूं। मैं ही सीएम बन जाता। उन्होंने कहा कि अधिकारियों से काम लेने की किसी की हिम्मत नहीं है। हमारे हाथ में एक बार डंडा आ जाए तो हम अफसरों को काम करना भी सीखा देंगे।

देखें वीडियो-

देहरादून में समान कार्य समान वेतन को लेकर उपनल कर्मचारियों के आंदोलन के 46 वें दिन आज उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना एक बार फिर कांग्रेस की ओर से धरना स्थल पहुंचे। इस दौरान वह उनके साथ धरने पर भी बैठे। इस अवसर पर कर्मचारियों की सभा में धस्माना ने कहा कि राज्य सरकार की हठधर्मिता की वजह से व शाशन के अधिकारियों के द्वारा सरकार को गुमराह करने की वजह से उपनल कर्मचारियों का मुद्दा उलझ गया है। वरना सीधी से बात से मामला सुलझ जाता।
धस्माना ने कहा कि नवंबर 2018 के माननीय उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ जो एसएलपी राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में डाली है, उसको सरकार को वापस ले कर कर्मचारियों से बातचीत करनी चाहिए। साथ ही माननीय उच्च न्यायालय के आदेशों का पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह अफसोसनाक बात है कि 46 दिन बाद भी शाशन के अधिकारी कर्मचारियों के संबंध में नकारात्मक बात कर रहे हैं।
धस्माना ने कर्मचारियों को भरोसा दिलाया कि अगर भाजापा सरकार उपनल कर्मियों की मांगें नहीं मानेगी तो 2022 में कांग्रेस की सरकार राज्य में बनने के बाद सबसे पहला काम उपनल कर्मचारियों की मांग माननीय उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेशानुसार पूरी की जाएगी।
धस्माना ने भूख हड़ताल में बैठे कर्मचारियों को उनके संघर्ष के लिए बधाई देते हुए कहा कि उनकी तपस्या से या तो सरकार झुकेगी नहीं तो ये सरकार जाएगी। इस अवसर पर उपनल कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष कुशाग्र जोशी, हेमंत रावत, विद्यासागर धस्माना, महेश जोशी ने भी कर्मचारियों को संबोधित किया।

1 thought on “देखें वीडियोः कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष धस्माना पहुंचे उपनल के धरने में, बोले-तीरथ और त्रिवेंद्र से अच्छा हूं तो मैं भी मुख्यमंत्री बन जाता…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *