April 17, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

प्रदेश सरकार दिशाहीन, बेरोजगारी व महंगाई से लोगों में भाजापा के खिलाफ जबरदस्त आक्रोशः धस्माना

1 min read
तीरथ सरकार के पद ग्रहण करने के बाद पहली बार भाजापा की राज्य सरकार के खिलाफ कांग्रेस की पहली हुंकार रविवार 14 मार्च को श्रीनगर गढ़वाल में होगी।


तीरथ सरकार के पद ग्रहण करने के बाद पहली बार भाजापा की राज्य सरकार के खिलाफ कांग्रेस की पहली हुंकार रविवार 14 मार्च को श्रीनगर गढ़वाल में होगी। प्रदेश सरकार की चार साल की नाकामियों के खिलाफ जो जन आक्रोश पनपा है उसका प्रदर्शन कांग्रेस राज्य भर में आगामी दिनों में सात विशाल जन आक्रोश रैलियां आयोजित करके करेगी। यह बात आज उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने श्रीनगर में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही।

 

शुक्रवार से श्रीनगर में रैली की तैयारियों के लिए स्थानीय पार्टी यूनिट के साथ डटे सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि चार सालों में भाजपाई सरकार के कुशाशन से राज्य जिस बदहाली में पहुंच गया है, उस पाप से छुटकारा राज्य के मुख्यमंत्री बदल कर नही हो सकता। क्योंकि राज्य की जनता ने प्रधानमंत्री मोदी व बीजीपी के राष्टीय नेतृत्व के आश्वासन पर विश्वास कर के राज्य में भाजापा की प्रचंड बहुमत की सरकार बनाई थी।
धस्माना ने कहा कि चार साल में भाजापा सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि यह रही कि उसने राज्य को बेरोजगारी के मोर्चे पर फतह करते हुए राज्य को 22.3 की बेरोजगारी दर पर पहुंचा कर देश में पहला स्थान दिलवा दिया। उन्होंने कहा कि आज राज्य में युवाओं में भारी आक्रोश व्याप्त है। धस्माना ने कहा कि सरकार का खजाना खाली पड़ा है और अनेक विभागों में तनख्वाह के लाले पड़े हुए हैं। राजकोषीय घाटा 14 प्रतिशत तक पहुंच गया है और कर्जा भी पचास हजार करोड़ से ज्यादा हो चुका है।
धस्माना ने कहा कि महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ रखी है। पेट्रोल डीजल व रसोई गैस में सरकार हर वर्ष साड़े चार लाख रुपये जनता की गाड़ी कमाई का लूट रही है। धस्माना ने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह से चौपट हैं और लोग बिना इलाज के दम तोड़ने पर मजबूर हैं।
धस्माना ने कहा कि सीएम तीरथ सिंह ने अगर पहली कैबिनेट बैठकमें बेरोजगारों के हक में कोई फैसला लिया होता या पेट्रोल डीजल व रसोई गैस में राज्य का टैक्स कम कर जनता को कुछ राहत दी होती तो उनकी सरकार से कुछ उम्मीद कर सकते थे। किंतु वे भी त्रिवेंद्र सिंह रावत की बनाई हुई लीग पर चल रहे हैं। इसलिए उनसे भी कुछ बेहतर की उम्मीद नहीं है। इसलिए कांग्रेस अब इस जन विरोधी सरकार को उखाड़ फैंक कर हो दम लेगी।
धस्माना ने बताया कि रविवार को आयोजित होने वाली जन आक्रोश रैली में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर इंदिरा हृदयेश समेत तमाम बड़े नेता प्रतिभाग करेंगे। धस्माना के साथ प्रेस वार्ता में प्रदेश महामंत्री प्रदीप तिवारी, नगर अध्यक्ष कांग्रेस भूपेंद्र कंडारी, वरिष्ठ नेता वीरेंद्र सिंह नेगी, मीडिया प्रभारी लाल सिंह, महेश जोशी, विकास नेगी, राजेश चमोली, आदर्श सूद, राम कुमार थपलियाल, विजय रयाल भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *