April 17, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

चलती शताब्दी एक्सप्रेस की एक कोच में लगी आग, मची अफरातफरी, खाली कराया कोच, बचाई लोगों की जान

1 min read
दिल्ली से देहरादून आ रही शताब्दी एक्सप्रेस के एक कोच में अचानक आग लग गई। इससे ट्रेन को रास्ते में कांसरो के जंगल में रोकना पड़ा। कोच में आग लगने से यात्रियों ने बाहर निकलकर जान बचाई।

दिल्ली से देहरादून आ रही शताब्दी एक्सप्रेस के एक कोच में अचानक आग लग गई। इससे ट्रेन को रास्ते में कांसरो के जंगल में रोकना पड़ा। कोच में आग लगने से यात्रियों ने बाहर निकलकर जान बचाई। तत्काल कोच खाली कराया गया। साथ ही उसे दूसरे डिब्बों से अलग कर दिया गया। ट्रेन में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं।
हरिद्वार-देहरादून रेलवे ट्रैक पर कांसरो वन रेंज के जंगल में यह हादसा हुआ। दिल्ली से देहरादून आ रही शताब्दी एक्सप्रेस की एक कोच में अचानक आग लग गई। घटना शनिवार दोपहर करीब 12:30 बजे की बताई जा रही है। शताब्दी एक्सप्रेस जब राजाजी टाइगर रिजर्व की कंसरो रेंज से होकर गुजर रही थी तभी रेलगाड़ी के (सी 5) कोच में अचानक आग लग गई। कोच में मौजूद यात्रियों ने इमरजेंसी चेन खींचकर लोको पायलट को सूचना दी। लोको पायलट में तत्काल इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रेलगाड़ी को कंसरो रेंज के नजदीक ही रोक दिया।


लगाड़ी के रुकते ही डिब्बे में मौजूद यात्री बाहर निकल आए। ट्रेन में मौजूद स्टाफ ने तुरंत ट्रेन के बीच में जुड़े इस (सी 5) कोच को काटकर शेष डिब्बों से अलग किया। गनीमत रही कि इस बीच किसी को भी नुकसान नहीं पहुंचा। देखते ही देखते पूरी बोगी आग की लपटों से घिर गई। जिस जगह पर यह हादसा हुआ वहां सिर्फ वन विभाग की चौकी मौजूद है।
सूचना पाकर वन विभाग के कर्मचारी अपने निजी संसाधनों के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने आग बुझाने की कोशिश की, मगर आग इतनी भयानक थी कि कुछ देर में ही पूरा पूरी बोगी जल गई। मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शी व कांसरो वन रेंज के रेंज अधिकारी आरपी नौटियाल ने बताया कि किसी भी यात्री को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। घटना के तुरंत बाद रेल लाइन की पावर सप्लाई भी कट गई थी।
उन्होंने बताया कि आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। फिलहाल रेलवे के अधिकारी भी अभी तक मौके पर नहीं पहुंच पाए थे। जिस जगह या हादसा हुआ वह जगह राजाजी टाइगर रिजर्व की सघन वन क्षेत्र में है, जहां सड़क मार्ग से भी पहुंच आसान नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *