April 14, 2021

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

Video: तीरथ मंत्रिमंडल को लेकर कांग्रेस ने किया बड़ा हमला, पढ़िए किसने क्या बोला

1 min read
कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने तो मंत्रिमंडल के साथ ही प्रदेश अध्यक्ष के चयन पर भी अंगुली उठाई। वहीं, कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, धीरेंद्र प्रताप ने भी भाजपा पर सवाल उठाए।

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के मंत्रिमंडल को लेकर कांग्रेस ने बड़ा हमला बोला। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने तो मंत्रिमंडल के साथ ही प्रदेश अध्यक्ष के चयन पर भी अंगुली उठाई। वहीं, कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, धीरेंद्र प्रताप ने भी भाजपा पर सवाल उठाए।
पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सोशल मीडिया में पोस्ट डालकर कहा कि- पूर्ववर्ती मंत्रिमंडल के निकम्मे पन, कुशासन व भ्रष्टाचार के लिए केवल दो लोग दोषी पाये गए। इनमें से एक व्यक्ति को उत्तराखंड भाजपा के अध्यक्ष पद से नवाज दिया गया। ताकि कुंभ की ईंट उखड़ाई, नाली खुदाई, रंगाई-पुताई सब ठीक-ठाक दिखाई दे। जिन लोगों पर धन चटुआ होने के आरोप साया हुये हैं, वो यथा स्थान मंत्रिमंडल में विद्यमान हैं।


उन्होंने आगे लिखा कि कोई नयापन मंत्रिमंडल में दिखाई नहीं दे रहा है। भविष्य की नेतृत्व की क्षमता रखने वाले लोग मंत्रिमंडल से गायब हैं। मेरे एक दोस्त ने मुझे टेलीफोन करके कहा कि बोतल में नया लेवल लगाकर पुरानी ही शराब है। इस सारे परिवर्तन से भाजपा ने अपने आंतरिक झगड़े भले ही सुलझाएं हों, मगर राज्य की जनता को कुछ भी नया प्राप्त नहीं होने जा रहा है। राज्य के भद्र, वरिष्ठ विधायक को आदरणीय श्री आडवाणी जी व मुरली मनोहर जोशी जी की श्रेणी में रखना एक उपलब्धि बताई जा सकती है।
मंत्रियों को जनता की बजाय 2022 की चिंता: धस्माना
उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने राज्य की भाजापा सरकार के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के मंत्रीमंडल को पिटी हुई त्रिवेंद्र सरकार की डेंटिंग पेंटिंग कर सजाई हुई गाड़ी करार दिया। उन्होंने कहा कि इस गाड़ी का इंजन सीज हो रखा है। राज्य के विकास की थमी हुई गाड़ी के चलने की उम्मीद किसी को नहीं है।

 

धस्माना ने कहा कि नए मुख्यमंत्री की टीम के सभी सदस्यों ने आज शपथ के बाद जिस तरह की प्रतिक्रिया मीडिया को दी, उसी से यह स्पष्ट हो गया कि मंत्रिमंडल में शामिल मंत्रियों को केवल 2022 के विधानसभा चुनावों की चिंता है ना कि जनता की।
नई बोतल पुरानी शराब: धीरेंद्र प्रताप
उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के नए मंत्रिमंडल को “नई बोतल मे पुरानी शराब ” की संज्ञा दी है ।


मंत्रिमंडल गठन को राज्य के आगामी भविष्य पर किसी भी प्रकार के प्रभाव ना पड़ने की भविष्यवाणी करते हुए धीरेंद्र प्रताप ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अब डूबता हुआ जहाज है। पहाड़ विरोधी मानसिकता रखने वाले मदन कौशिक के भाजपा अध्यक्ष बनने के बाद अब तो यह तय हो गया है कि आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में तो भाजपा का सूपड़ा साफ होगा। तीरथ सिंह रावत के लोकसभा छोड़ देने के बाद होने वाले उपचुनाव में भी भाजपा की करारी हार होगी।
ये था राजनीतिक घटनाक्रम
गौरतलब है कि छह मार्च को केंद्रीय पर्यवेक्षक वरिष्ठ भाजपा नेता व छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह देहरादून आए थे। उन्होंने भाजपा कोर कमेटी की बैठक के बाद फीडबैक लिया था। इसके बाद उत्तराखंड में आगामी चुनावों के मद्देनजर मुख्यमंत्री बदलने का फैसला केंद्रीय नेताओं ने लिया था। इसके बाद मंगलवार नौ मार्च को त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। वहीं, दस मार्च को भाजपा की विधानमंडल दल की बैठक में तीरथ सिंह रावत को नया नेता चुना गया। इसके बाद उन्होंने राज्यपाल के पास जाकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। दस मार्च की शाम चार बजे उन्होंने एक सादे समारोह में मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। आज ही भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष भी बदले गए। बंशीधर भगत की जगह मदन कौशिक को उत्तराखंड भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया। वहीं, तीरथ के मंत्रिमंडल में 11 सदस्यों ने आज शपथ ली। इनमें आठ कैबिनेट मंत्री और तीन राज्य मंत्री हैं।
पढ़ेंः उत्तराखंडः मंत्रियों के शपथ लेते ही तीरथ की कैबिनेट ने लिया बड़ा फैसला, कोविड-19 में दर्ज मुकदमें होंगे वापस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *