July 4, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष का उत्तराखंड दौरा शुक्रवार से, पहले दिन हरिद्वार में कार्यक्रम

1 min read

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का चार दिवसीय उत्तराखंड दौरा 4 दिसंबर से प्रारंभ हो रहा है। दौरे के प्रथम दिन नड्डा हरिद्वार में संतो से भेंट करेंगे और शेष तीन दिन वे देहरादून में 14 संगठनात्मक बैठकों व कार्यक्रमों में भाग लेंगे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के इस दौरे को ऐतिहासिक बताया है। उन्होंने कहा भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अपने देशव्यापी 120 दिन के दौरे का प्रारंभ शुक्रवार को उत्तराखंड से करते हुए यहां 4 से 7 दिसंबर तक प्रवास करेंगे। दौरे के पहले दिन वे हरिद्वार में माँ गंगा की आरती व संतो से भेंट करने वाले हैं। उसके बाद 5 दिसंबर से 7 दिसंबर तक देहरादून में 14 संगठनात्मक बैठकों व कार्यक्रमों में भाग लेंगे। इनमें जहां एक और मंत्रीमंडल व कोर कमेटी के साथ बैठक है तो वही बूथ समिति और मंडल समिति के साथ भी राष्ट्रीय अध्यक्ष बैठक करेंगे ।
उन्होंने बताया कि भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के हरिद्वार आगमन कार्यक्रम में परिवर्तन हुआ है। अब वे 4 दिसम्बर को अपराह्न चार बजे हेलीकाप्टर से हरिद्वार पहुँचेंगे और हर की पैड़ी पहुँच कर गंगा जी की पूजा व आरती में भाग लेंगे। उसके बाद उनका शांति कुंज, अखाड़ा परिषद, निरंजनी अखाड़ा जाने व संतों से भेंट का कार्यक्रम है। पहले उनका आगमन 4 दिसम्बर को दोपहर 12.40 बजे जॉलीग्रांट एयर पोर्ट पर पहुंचने का था।
भगत ने बताया कि यह इस दौरे की विशेषता है की नड्डा जहां मंत्रिमंडल व कोर कमेटी के साथ बैठक करेंगे, वहीं वे पार्टी की दो प्राथमिक इकाइयों बूथ व मंडल समितियों के साथ भी बैठक करेंगे। यह देश के इतिहास और किसी भी पार्टी के इतिहास में पहली बार होगा जब राष्ट्रीय अध्यक्ष जी प्रदेश, जिला, मंडल व बूथ कमेटियों के अध्यक्ष के साथ एक मंच पर बैठ कर बूथ की बैठक करेंगे। यह बूथ कमेटी की यह बैठक कार्यकर्ताओं की समानता व सम्मान का बड़ा संदेश भी देने वाली है।
उन्होंने कहा कि इस दौरे में श्री नड्डा के भव्य स्वागत के साथ साथ कोविड नियमों का पालन करते हुए जनता व कार्यकर्ताओं की सहभागिता भी तय की गई है। इसके अलवा स्वागत में उत्तराखंड की संस्कृति को भी प्रस्तुत किया जाएगा। भगत ने कहा कि यह हमारे लिए गर्व का विषय है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जी अपने राष्ट्र व्यापी दौरे का प्रारम्भ देव भूमि उत्तराखंड से कर रहे हैं व पहले दिन माँ गंगा की आरती व संतों से भेंट करेंगे।

भाजपा राष्ट्रीय महासचिव गौतम देहरादून पहुंचे
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के उत्तराखंड प्रवास के संदर्भ में भाजपा राष्ट्रीय महासचिव व उत्तराखंड प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम आज साँय देहरादून पहुंचे। गौतम ने यहां पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रवास को लेकर तैयारियों पर विचार विमर्श किया और जरूरी सुझाव भी दिए। गौतम से मिलने वालों में राज्य के उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत, प्रदेश महामंत्री (संगठन) अजय कुमार, प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार, राजेंद्र भंडारी, सुरेश भट्ट, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. देवेंद्र भसीन, प्रदेश प्रवक्ता मयंक गुप्ता, सह मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान, महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट शामिल थे। गौतम बीजापुर सेफ हाउस में रुके हैं और शुक्रवार प्रातः हरिद्वार जहाँ राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नड्डा अपराह्न पहुँच रहे हैं के लिए रवाना हो जाएँगे।
सुरेश भट्ट का भाजपा प्रदेश कार्यालय पर भव्य स्वागत
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आज नवनियुक्त प्रदेश महामंत्री श्री सुरेश भट्ट के प्रथम आगमन पर भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया। इस अवसर मंच का संचालन करते हुए प्रदेश महामंत्री राजेंद्र भंडारी ने कहा कि सुरेश भट्ट छात्र राजनीति से लेकर संगठन के लिये निरंतर कार्य करते रहे हैं। पिछले 10 सालों से वे भाजपा प्रदेश संगठन मंत्री के रूप में हरियाणा में अपनी सेवाएं देते रहे और अब उन्हें उत्तराखंड में प्रदेश महामंत्री की जिम्मेदारी मिली है। अब हम सबको उत्तराखंड में मिल कर कार्य करने का अवसर प्राप्त हुआ है ।


इस अवसर पर सुरेश भट्ट ने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी सनातन संस्कृति में एक पितृ ऋण होता है। मुझे ऐसा प्रतीत होता कि देश सेवा करते हुए अब अपने प्रदेश में कार्य करने का अवसर दे ईश्वर ने पितृ ऋण उतारने का अवसर दिया है।


मीडिया के प्रश्नों का उत्तर में भट्ट ने कहा भी कहा कि कार्यकर्ता हर प्रदेश में एक जैसा ही होता है। उत्तराखंड में हमारा एक ही मकसद है कि पार्टी को 2022 में फिर से सत्ता में लाना है और ऐतिहासिक विजय पानी है। हमारी केंद्र और राज्य सरकार की जितनी भी जनहितकारी योजनाएं हैं उसको अंतिम छोर तक पहुंचाना है। स्वागत कार्यक्रम में अधिकांश कार्यकर्ताओं के मास्क नाक व मुंह की बजाय नीचे लटके हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page