June 29, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

पुलिस कर्मियों का अधिकारियों का दिल जीतने में जुटे डीजीपी, वाट्सएप पर सुनेंगे शिकायतें

1 min read

उत्तराखंड के डीजीपी की कमान संभालने के बाद नए डीजीपी अशोक कुमार पुलिस व्यवस्था को चाक चौबंद बनाने में जुट गए हैं। कार्यभार ग्रहण करते ही सबसे पहले उन्होंने तीन अधिकारियों को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी। अब चार्ज लेने के अगले दिन ही उनकी निगाह पुलिस कर्मियों की समस्याओं की ओर गई। इसके लिए वाट्सएप नंबर जारी किया गया। इसमें पुलिस कर्मी अपनी शिकायत या समस्या भेज सकते हैं। ऐसा निचले स्तर के कर्मी और अधिकारियों के बीच विश्वास की डोर मजबूत करने का प्रयास है।
डीजीपी बनने से पहले अशोक कुमार पुलिस मुख्यालय में बतौर प्रवक्ता की जिम्मेदारी भी देख रहे थे। न्होंने चार्ज लेते ही राज्य पुलिस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत के लिये दो सीनियर अफसरों को बतौर प्रवक्ता नियुक्त किया है। एपी अंशुमान, पुलिस महानिरीक्षक, प्रशिक्षण/अभिसूचना को उनके कार्यों के अतिरिक्त पुलिस मुख्यालय के मुख्य प्रवक्ता की जिम्मेदारी दी गई है। वहीं, निलेश आनन्द भरणे, पुलिस उप महानिरीक्षक को पुलिस मुख्यालय में सहायक प्रवक्ता बनाया है। साथ ही जया बलूनी, अपर पुलिस अधीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था को पुलिस मुख्यालय में अपने कार्यों के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के सहायक के दायित्वों की जिम्मेदारी दी गई है।
पुलिसजन समाधान समिति
डीडीपी अशोक कुमार ने पुलिस मुख्यालय स्तर पर पुलिसजन समाधान समिति Police Personnel Grievance Redressal Committee (PPGRC) का गठन कर दिया है। इसके अध्यक्ष पुलिस महानिरीक्षक, मुख्यालय हैं। पुलिस उपमहानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था को उपाध्यक्ष, पुलिस अधीक्षक, कार्मिक को सदस्य सचिव, पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय को सदस्य बनाया गया है।
समिति करेगी समाधान
उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार के मुताबिक पुलिसजन समाधान समिति द्वारा राज्य के समस्त अराजपत्रित अधिकारी व कर्मचारियों के कल्याणार्थं मानवीय आधार (Humanitarian ground) के मामले देखे जाएंगे। स्थानान्तरण चाहने वाले इच्छुक कर्मचारियों के प्रार्थनापत्र एवं अन्य विभागीय एवं व्यक्तिगत समस्याओं के लिये प्रार्थना-पत्र आनलाईन प्राप्त किये जायेंगें।
उक्त प्रार्थना-पत्र प्रेषित करने के लिये समस्त अधिकारी और कर्मचारी अपने प्रार्थना-पत्र मुख्यालय
के Whatsapp Mobile No-9411112780 पर सीधे प्रेषित कर सकते हैं। इसके बाद गठित समति शिकायतों व आग्रह आदि को संज्ञान में लेते हुए फील्ड के अधिकारियों जैसे एसएसपी, एसपी, डीआइई, आइजी से निस्तारण कराएंगे। जिन समस्याओं का निस्तारण मुख्यालय की ओर से किया जाना अपेक्षित होगा, उनका निस्तारण मुख्यालय के अधिकारियों से कराया जायेगा। साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि समिति की ओर से की गई कार्रवाई पर वह साप्ताहिक रूप से खुद समीक्षा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page