June 30, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

कार्यभार संभालने के बाद उत्तराखंड के नए डीजीपी आए एक्शन में, तीन अधिकारियों को दी अहम जिम्मेदारी

1 min read

उत्तराखंड के डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी के सेवानिवृत्त होने के साथ ही नए डीजीपी अशोक कुमार ने कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह प्रदेश में बेहतर कानून व्यवस्था देने के साथ ही जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। कार्यभार संभालने के बाद अशोक कुमार एक्शन में आ गए। मीडिया से बातचीत के लिए दो अधिकारियों को प्रवक्ता की जिम्मेदारी दी है। अभी तक वह स्वयं डीजीपी अपराध और कानून व्यवस्था देखने के साथ ही पुलिस प्रवक्ता की जिम्मेदारी निभा रहे थे।
1989 बैच के आईपीएस अशोक कुमार को उत्तराखंड का पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) बनाने के शासन ने कुछ दिन पहले आदेश जारी कर दिए थे। आज पुलिस लाइन में डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी को भव्य परेड के साथ विदाई दी गई। इसके बाद देर शाम को पुलिस मुख्यालय में अशोक कुमार ने नए डीजीपी का विधिवत कार्यभार संभाल लिया है।


नए डीजीपी ने मीडिया को सम्बोधित करते हुए अपनी प्राथमिकता गिनाई। अशोक कुमार पूरे तीन साल तक राज्य में डीजीपी रहेंगे। साल 2017 में बतौर डीजीपी की कमान संभालने वाले वरिष्ठ आईपीएस अनिल कुमार रतूड़ी साढ़े तीन साल के कार्यकाल के बाद आज सेवानिवृत्त हो गए। सेवानिवृत्त होने पर देहरादून पुलिस लाइन में भव्य परेड का आयोजन रखा गया।
अभी तक डीजी लॉ एंड आर्डर की जिम्मेदारी देख रहे वरिष्ठ आईपीएस अशोक कुमार ने 11वें डीजीपी के रूप में कार्यभार ग्रहण किया। अशोक कुमार के नाम भी राज्य में सेवा करते हुए कई उपलब्धियां दर्ज हैं। आधुनिक पुलिसिंग में उनका तजुर्बा देखने लायक है। उनसे 20 साल के उत्तराखंड में जनता की हमदर्द और मित्र पुलिस की उम्मीदें हैं। साथ ही अपराधियों को करारा सबक सिखाने की उम्मीद है। हालांकि नए डीजीपी ने जो प्राथमिकताएं गिनाई, उस पर वह जरूर खरा उतरेंगे। विजिलेंस, बीएसएफ, डीजी लॉ एंड आर्डर पर रहते हुए अशोक कुमार ने जनता के हित में कई बड़े काम किए हैं। वह खेल प्रेमी हैं। उनका परिवार बेडमिंटन प्रेमी है। बेटी बेडमिंटन की ख्यातिप्राप्त खिलाड़ी है।

कार्यभार संभालने के बाद डीजीपी अशोक कुमार ने कहा कि पुलिस परिवार का मुखिया होने के नाते मेरा प्रयास है कि पुलिस समाज के प्रति निष्ठा से जिम्मेदारी निभाए। दूसरा पुलिस कर्मियों की जरूरतों में खड़ा दिखूं। ऐसी पुलिस व्यवस्था बनाएं, जिसमें अपराधियों में पुलिस का डर हो। आम नागरिक पुलिस को देख सुरक्षित महसूस करें।
दो अधिकारियों को बनाया प्रवक्ता
देहरादून राज्य पुलिस मुख्यालय में बतौर प्रवक्ता रहे डीजी कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने डीजीपी बनने के बाद अब राज्य पुलिस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत के लिये दो सीनियर अफसरों को बतौर प्रवक्ता नियुक्त किया है। एपी अंशुमान, पुलिस महानिरीक्षक, प्रशिक्षण/अभिसूचना को उनके कार्यों के अतिरिक्त पुलिस मुख्यालय के मुख्य प्रवक्ता की जिम्मेदारी दी गई है। वहीं, निलेश आनन्द भरणे, पुलिस उप महानिरीक्षक को पुलिस मुख्यालय में सहायक प्रवक्ता बनाया है। साथ ही जया बलूनी, अपर पुलिस अधीक्षक अपराध एवं कानून व्यवस्था को पुलिस मुख्यालय में अपने कार्यों के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के सहायक के दायित्वों की जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page