July 4, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

साप्ताहिक बाजार बंदी में सख्ती, शराब की दुकानों में नरमी, आवश्यक सेवा में ठेके कब से हुए शामिल

1 min read

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को थामने के लिए जिला प्रशासन ने साप्ताहिक बाजार बंदी को सख्ती के लागू करने के आदेश दिए। देहरादून में आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी प्रतिष्ठान व मॉल बंद रहे। वहीं, शराब के ठेके खुले रहे। इसे लेकर लोग भी सवाल करने लगे हैं कि शराब के ठेके आवश्यक सेवाओं में कब से आ गए। इन ठेकों पर न तो पुलिस की नजर पड़ी और न ही प्रशासनिक अधिकारियों की। ठेके के कर्मचारी सुबह से ही शराब के शटर खोलकर दुकानों में डटे हुए हैं। हालांकि आज सड़कों पर कर्फ्यू जैसा सन्नाटा है। ऐसे में शराब की दुकानों पर भी सैल्समैन ही नजर आए। इसके साथ ही बंद बाजरों में सैनिटाइजेशन भी किया जा रहा है।
शहर के आढ़त बाजार, सरमिमल बाजार, दर्शनी गेट, पलटन बाजार, झंडा बाजार,रामलीला बाजार, राजा मार्केट, सहारनपुर रोड, प्रिंस चौक, राजपुर रोड, चकराता रोड, पटेलनगर, प्रेमनगर के बाजारों में व्यापारिक प्रतिष्ठानों के लिए रविवार साप्ताहिक बंदी का दिन है। ऐसे में आज साप्ताहिक बंदी अति आवश्यक सेवाओं को छोड़कर दुकानें और शापिंग मॉल नहीं खुले। डेयरी और सब्जियों की दुकान भी 10 बजे बाद बंद होने लगीं। हालांकि, इस बीच कुछ जगह शराब की दुकानें और चिकन शॉप खुली नजर आई।


इन्हें है छूट का प्रावधान
साप्ताहिक बन्दी के दिवसों में अति आवश्यक सेवाओं यथा फल-सब्जी, दूध, पैट्रोल पम्प, गैस सर्विसेज तथा दवाईयों की दुकानों को ही खुला रखने की छूट है। आदेशों का उल्लंघन की स्थिति में महामारी अधिनियम तथा आपदा प्रबन्धन अधिनियम में वर्णित प्राविधानों के अनुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं, शराब की दुकानें खुली होने पर लोग यही सवाल कर रहे हैं कि क्या ये भी आवश्यक सेवाओं में शामिल हैं।
शादी समारोह को छूट, अनुमति जरूरी
जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जनपद के विभिन्न तहसील क्षेत्रान्तर्गत निर्धारित साप्ताहिक बन्दी के संबंध में कहा है कि पूर्व में निर्धारित विवाह समारोह और पूर्व में ली गई अनुमति के आधार पर ऐसे समारोह को साप्ताहिक बंदी में छूट मिलेगी। इसके अतिरिक्त होम डिलिविरी के माध्यम से क्रय-विक्रय की जाने वाली सामग्री-सामान को घर तक पहुंचाने की साप्ताहिक बन्दी के अन्तर्गत छूट रहेगी।


बाजारों और निगम वार्डों में सैनिटाइजेशन
बाजार बंद होने के दौरान नगर निगम ने भी शहर को सैनिटाइज करने का अभियान शुरू कर दिया है। शहरभर में 100 वॉर्डों में 100 से ज्यादा टीमें और 50 ट्रैक्टर कार्य में लगाए गए हैं। कर्मचारी बंद दुकानों के शटर, सड़क, मंदिर, लोगों के घरों के गेट, अस्पताल आदि को सैनिटाइज कर रहे हैं। हालांकि कई वार्डों से शिकायत भी मिली कि उनके क्षेत्र में कोई भी निगम कर्मी सैनिटाइजिंग के लिए नहीं आया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page