July 1, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

चारधाम सहित उत्तराखंड की ऊंची पहाड़ियों में बर्फबारी, पहाड़ों में बारिश, मैदान में बादल और सर्दी

1 min read

उत्तराखंड में मौसम ने फिर करवट बदल ली। वेस्टर्न डिस्टरबेंस का सिस्टम सक्रिय होने से मौसम में बदलाव होने लगा है। गढ़वाल से लेकर कुमाऊं के पर्वतीय और मैदानी जिलों में बादल छाए हैं। वहीं, चारधाम सहित ऊंची पहाड़ियों में बर्फबारी हो रही है। उत्तरकाशी जिले सहित कहीं कहीं बारिश के दौर भी शुरू हो गए हैं। ऐसे में सर्दी में बढ़ोत्तरी हो गई है। चमोली जिले में बदीनाथ, हेमकुंड साहिब, गौरसों में जमकर बर्फबारी हुई। वहीं, रुद्रप्रयाग में केदारनाथ धाम सहित ऊंची चोटियों में तो अक्सर हर दिन ही बर्फबारी हो रही है।
उत्तरकाशी जनपद की बात करें तो यहां भटवाड़ी, ऊपला आदि स्थानों में बारिश भी शुरू हो गई। वहीं, गंगोत्री, यमुनोत्री, हर्षिल, धराली, स्यानाचट्टी आदि स्थानों पर सोमवार की सुबह से बर्फबारी हो रही है। वहीं, मैदानी क्षेत्र में बादल छाए हैं। बारिश के आसार बन रहे हैं। गलन वाली सर्दियों की शुरुआत हो चुकी है।
कुमाऊं के अल्मोड़ा और मुक्तेश्वर प्रदेश में सबसे ठंडे रहे। दोनों शहरों में न्यूनतम तापमान क्रमश: 1.6 और 1.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मैदानों में भी पारे ने गोता लगाया है। ऊधमसिंहनगर में पारा 3.9 डिग्री सेल्सियस पर जा पहुंचा, जो सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस कम है। वहीं हरिद्वार में यह 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा। इतना ही नहीं देहरादून और मसूरी में भी पारा सामान्य से दो से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र ने पहले ही प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में बारिश और बर्फबारी की संभावना जता दी थी। विशेषकर उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, देहरादून, टिहरी, बागेश्वर और पिथौरागढ़ के ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपात का दौर जारी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page