July 2, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

साढ़े 19 करोड़ की कौशांबी यूनियन बैंक धोखाधड़ी में सीबीआइ ने आठ के खिलाफ दर्ज किए मुकदमे

1 min read

देहरादून सीबीआई ने गाजियाबाद के कौशाम्बी स्थित यूनियन बैंक में हुए 19 करोड़ 59 लाख की धोखाधड़ी में आठ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि दिल्ली की गोविंदा इंटरनेशनल फर्म के संचालकों ने बैंक अधिकारियों, कर्मचारियों के साथ मिलीभगत कर यह रकम ठिकाने लगाई है। इस मामले में बैंक शाखा और लोन से जुड़े तत्कालीन अफसरों को भी नामजद किया गया है।
गोविंदा इंटरनेशनल फर्म गांधी गली फतेहपुर दिल्ली में सभी तरह के ड्राई फ्रूट्स और किरयाना का थोक व्यापार का संचालन करती थी। फर्म के मालिक केशव जोशी ने पवन कुमार शर्मा के साथ मिलकर अपनी सपत्ति को बंधक रखकर यूनियन बैंक कौशांबी (गजियाबाद) से 2017 में करीब 15 करोड़ का सीसी लिमिट बनाकर लोन लिया। आरोप है कि फर्म ने सीसी लिमिट के लोन का पूरा उपयोग किया। इसके बावजूद बैंक को कोई रकम वापस नहीं की।
इस दौरान बैंक अधिकारियों ने करीब एक साल तक फर्म के साथ मिलीभगत कर मामले को दबाने का प्रयास किया। मामला मुंबई स्थित हेड ऑफिस तक जाने पर प्रकरण में आरबीआई की गाइडलाइंस के अनुसार जांच बिठाई गई। जांच में इस लोन फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। इस पर यूनियन बैंक के रीजनल मैनेजर सरोज दास ने पिछले माह सीबीआई लखनऊ को लिखित तहरीर दी। सीबीआई ने प्रकरण की जांच देहरादून शाखा को ट्रांसफर की।
यहां जांच में प्रकरण सही पाए जाने पर दून सीबीआई ने फर्म, संचालकों, गारंटर, फर्जी मूल्यांकन करनी वाली कंपनियों समेत बैंक के कर्मचारियों, अधिकारियों के खिलाफ बैंक की रकम की धोखाधड़ी, जालसाजी, आपराधिक षड्यंत्र करने पर मुकदमा दर्ज किया है। सीबीआई देहरादून के एसपी पीके पाणिग्रह ने बताया कि मुकदमा दर्ज करने के बाद जांच इंस्पेक्टर सुनीत कुमार शर्मा को सौंपी गई है।
इन पर दर्ज हुआ मुकदमा
-गोविंदा इंटरनेशनल फर्म गांधी गली फतेहपुर दिल्ली।
-केशव जोशी मालिक फर्म, चावड़ी बाज़ार, चांदनीचौक दिल्ली।
-पवन कुमार शर्मा गारंटर, गली गांधी चांदनीचौक दिल्ली।
-मैसर्स एग्सन ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड दिल्ली।
-मैसर्स एएसएम ट्रकिस्म प्राइवेट लिमिटेड दिल्ली।
-मैसर्स आरएम एंड एसोसिएट हसनपुर दिल्ली रोड सहारनपुर।
-ग्लोबल वैल्युस एंड एसोसिएट द्वारिका दिल्ली।
-अज्ञात सरकारी अधिकारी एंड कर्मचारी।
इन बैंक अधिकारियों पर कसेगा शिकंजा
-अनिल रावत तत्कालीन ब्रांच हेड
-शेफाली शर्मा तत्कालीन ब्रांच हेड
-एनके चैतन्य चीफ मैनेजर क्रेडिट
-जीसी शर्मा एसएम आरएमडी
-गौतम गबर्याल चीफ मैनेजर पी एंड डी
-एएम कुलश्रेष्ठ डीजीएम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page