June 29, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

डाक टिकटों के संग्रह पर डॉक्टर जवाहर इसरानी ने बनाया एक और विश्व रिकॉर्ड, जानिए

1 min read

दिल्ली की दिलशाद कॉलोनी निवासी डॉक्टर जवाहर इसरानी को डाक टिकटों के संग्रहण में एक और विश्व रिकॉर्ड बनाने का सम्मान दिया गया है । यह सम्मानआसित वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की ओर से दिया गया है। डॉ. इसरानी को अब तक 70 से ऊपर नेशनल और इंटरनेशनल रिकॉर्ड बनाने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। उन्होंने पांच बार गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड से विभिन्न थीम्स पर अपने डाक टिकट पर रिकॉर्ड बनाया है। 6 बार ब्रैवो इंटरनेशनल वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया है। वर्ल्ड रिकॉर्ड सर्टिफिकेशन, यूके लंदन से भी उन्हें सम्मानित किया गया है। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में भी इन्होंने अपना नाम दर्ज कराया है। इंटरनेशनल बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सहित उनके पास कई सम्मान हैं।
दिलशाद कॉलोनी दिल्ली निवासी जवाहर इसरानी विभिन्न खिताबों के धारक हैं। विभिन्न सम्मान प्राप्त करने वाले डॉ .जवाहर इसरानी का जन्म लरकाना, सिंध (पाकिस्तान ), में 22 अगस्त 1943 को हुआ था। बंटवारे के दौरान उनका माता पिता दिल्ली आ गए थे। डाक टिकटों के संग्रहण में उन्होंने अपनी विशेष पहचान बनाई है।
इनका बचपन का शौक डाक टिकट संग्रह करना रहा है। अपने अथक परिश्रम की वजह से अपनी लगन और जुनून से अपने गुरु जी डॉक्टर मोतीलाल जोतवाणीजी के प्रेरणा से कक्षा 5 से लेकर अब तक वह 52000 हजार से ऊपर डाक टिकटों का एक विशाल संग्रह कर चुके हैं। इसको बहुत ही बेहतरीन तरीके से देशों के हिसाब से और तरह-तरह की थीम के हिसाब से अलग-अलग फाइलों में सजा के रखा है ।


वह अब तक 450 से ज्यादा स्कूल, कॉलेज, फैक्ट्री, ऑफिस, पब्लिक प्लेस पर डाक टिकटों का संग्रह दिखाते रहे हैं। इन्होंने डाक टिकट संग्रह के द्वारा लोगों को इंस्पायर और मोटिवेट किया है। सोशल कॉज जैसे कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, वुमन एंपावरमेंट, ब्रेस्टफीडिंग, खेलकूद , पेड़ लगाओ , पेड़ बचाओ, पानी बचाओ, बिजली बचाओ, वर्षा के पानी का संग्रह ( रेन वाटर रेन वाटर हार्वेस्टिंग ), रोड सेफ्टी, रोड रूल्स, स्वतंत्रता सेनानी, आर्म्ड फोर्सेज, ऐतिहासिक मॉन्यूमेंट्स, योगाभ्यास, फिजिकल फिटनेस, नॉइज़ पोलूशन, प्लास्टिक का इस्तेमाल ना करने, कोरोना से बचने के उपाय इत्यादि के बारे में सबको सचेत करते हुए उन्होंने टिकटों की एलबम तैयार की।
पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें: गुरु ने दी प्रेरणा, रास्ते से उठाया फेंका लिफाफा, बना डाले कई रिकॉर्ड

2 thoughts on “डाक टिकटों के संग्रह पर डॉक्टर जवाहर इसरानी ने बनाया एक और विश्व रिकॉर्ड, जानिए

  1. अती सुंदर विवरण। साझा करने के लिए आभार।

  2. Postage Stamps is not a piece of paper but it gives us ainformation about the country, trees, important historical buildings, historical data, flowers, paintings, personalities, sports, games, birds , animals, aeroplane, flags, , boats, transportation means etc. It is a good hobby and best time pass. It is a diminishing hobby. Thanks please for sharing.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page