July 1, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

देहरादून के डीएम बोले-दिवाली में घर में खुशियां लाएं, कोरोना नहीं

1 min read

देहरादून, के जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने दीपावाली के उपलक्ष्य में मीडिया से मुखातिब होकर दीवाली की शुभकामनाएं देते हुए जनपद में कोविड-19 को नियंत्रित करने और जल जीवन मिशन पेयजल योजना के बेहतर क्रियान्वयन के बारे में ब्रिफ किया। इस मौके पर उन्होंने देहरादून के लोगों से अपील की है कि दिवाली में घर में खुशियां लाएं, कोरोना नहीं। इसके लिए कोरोना के नियमों का पालन करें। तभी हम कोरोना से जंग को जीत सकते हैं। उन्होंने देहरादून जिले में कोरोना की स्थिति को लेकर मीडिया से विस्तार से चर्चा की।
जिलाधिकारी ने कहा कि मार्च से अब-तक जनपद में कोरोना के कुल 18627 मामले सामने आए हैं। इसमें से आज की तिथि तक केवल 998 मामलें एक्टिव (सक्रिय) हैं। जनपद में 1 लाख 76 हजार लगभग कुल जनसंख्या की 10 प्रतिशत् तक टेस्टिंग की गई है। वर्तमान में कुल 4 कन्टेंनेमेंट जोन हैं। अभी त्यौहारी सीजन और जनपद में पर्यटकों के आवागमन के चलने से कोविड-19 मामलों में थोड़ा बढोतरी देखी गई। जिसको नियंत्रित करने का हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने मीडिया के माध्यम से लोगों अपील की है कि ‘दिवाली में घर में खुशियां लाएं, कोरोना नहीं’। सभी लोग कोरोना से बचाव की गाईडलाईन का पालन करें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, मास्क अनिवार्य रूप से पहनें, सेनिटाइजर का प्रयोग करें अथवा नियमित अन्तराल पर साबुन से हाथ धोते रहें।
498 का डैथ आडिट
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कुल 621 लोगों की कोरोना से ग्रसित होने पर मृत्यु हुई, जिसमें से 498 का डैथ आडिट किया जा चुका है। इसमें से केवल 84 लोगों की मृत्यु केवल कोरोना होने के चलते हुई, बाकि अधिकतर लोगों की मृत्यु किसी-न-किसी बीमारी (को-मोर्बिडिटी कण्डिशन) होने के चलते हुई है। जनपद में टैस्टिंग की फैसिलिटी लगातार बढाई जा रही हैं तथा आईसीयू और बैड की संख्या पर्याप्त है, जिसे आवश्यकतानुसार बढाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोरोना की वैक्सीन आने से पूर्व ही अभी से कोल्ड चैन को मैन्टेन किया जा रहा है।
जल जीवन मिशन योजना में प्रदेश में देहरादून पहले नंबर पर
मीडिया ब्रिफिंग के दौरान जिलाधिकारी ने जल जीवन मिशन पेयजल योजना के सम्बन्ध में अवगत कराया। बताया कि भारत सरकार का घर-घर को टैप्ड वाटर (नल से पेयजल) उपलब्ध कराने की योजना है। जिसमें जनपद देहरादून को कुल 120660 घरों को पेयजल कनैक्शन देने का लक्ष्य दिया गया था जो आज की तिथि तक 87.15 प्रतिशत् तक पेयजल कनैक्शन दिया जा चुका है। इस कार्य में जनपद देहरादून अन्य सभी जनपदों से प्रथम स्थान पर है। तथा शीघ्र ही इसको शत् प्रतिशत् किया जाएगा। जनपद में लगभग 5000 तोक ऐसी थी जहां पर किसी भी तरह की कोई पेयजल योजना नहीं थी। उनको पेयजल योजना से आच्छादित किया जा रहा है। अभी प्रथम चरण में टैप्ड पाईप वाटर को घर-घर पेयजल कनैक्शन देने का लक्ष्य पूरा करने करीब हैं। शीघ्र ही द्वितीय में चरण स्त्रोत के सुधारीकरण, पुनर्जीवन व उसका विकास का कार्य किया जाएगा तथा तृतीय चरण में गुणवतापूर्वक पेयजल उपलब्ध कराने पर अभी से मंथन किया जा रहा है।
कार्मिकों की दी शुभकामनाएं
जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने कलक्ट्रेट के ऋषिपर्णा सभागार में दिवाली के उपलक्ष्य में कलक्ट्रेट परिसर के कार्यालयों और राजस्व विभाग के कार्मिकों से मुखातिब होते हुए सभी को दीपावली की शुभकामनाएं दी। कहा कि आपके घर में उजाला होने के तभी मायनें हैं, जब आस-पड़ोस में रहने वाले अन्य घरों में भी उजाला हो। इसके लिए जरूरी है कि सभी लोग इस बात को गांठ बांध लें कि दूर-दराज से जब कोई व्यक्ति कलेक्ट्रेट में किसी काम कराने के उद्देश्य से आता है तो वह बड़ी उम्मीदभरी निगाह लेकर आता है। हम सबका यह परम कर्तव्य है कि हम उसकी उस उम्मीद को बरकरार रखें। कलक्ट्रेट की विश्वसनीयता को बनाएं रखें। प्रत्येक आगन्तुक के कार्य को प्राथमिकता से समाधान करने का प्रयास करें।
दिवंगतों को श्रद्धांजलि
उन्होंने कोरोना महामारी से दिंवगत हुए लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि हमने महामारी से कुछ लोगों को जरूर खो दिया है, लेकिन जनपद में जिस तरह से विभिन्न विभागों विशेषकर स्वास्थ्य विभाग, पुलिस विभाग, राजस्व विभाग, नगर निगम, नगर पालिका परिषद, खाद्य आपूर्ति, डेयरी विभाग, प्रांतीय रक्षक दल जैसे फ्रन्टलाईन तथा अन्य सभी विभागों के सामूहिक प्रयासों से कोरेाना को नियंत्रित करने में लगातार प्रयास किया गया है। निरंतर कर रहे हैं, यह बड़े संतोष की बात है।
सभी का सहयोग अपेक्षित
डीएम ने कहा कि हमें यह ध्यान रखना होगा कि दुःख के क्षण बड़े क्षणिक होते हैं और हम कोरोना महामारी की वर्तमान कठिनाई से शीघ्र ही उभरेंगे और पूर्व की तरह अपने सामान्य जीवन को जी पाएंगे। इसके लिए सभी को अपनी ओर से सहयोग करने का प्रयास करना चाहिए। कलक्ट्रेट के कर्मचारियों ने जिस तरह से ई-आफिस बनाने में अपना बहुमूल्य सहयोग दिया वह बहुत ही काबिले तारीफ है। इसी तरह आगे सभी तहसीलों को भी ई-आफिस प्रणाली से जोड़े जाने के लिए इसी तरह के सहयोग नितांत आवश्यकता है।
इस दौरान अपर जिलाधिकारी प्रशासन अरविन्द पाण्डेय और एडीएम प्रोटोकॉल जीसी गुणवंत ने भी ई-कलक्ट्रेट आफिस बनाने में कार्मिकों के सराहनीय कार्यों की तारीफ करते हुए दीपावली की शुभकामना दी।
इसके अतिरिक्त ऋषिपर्णा सभागार में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीर सिंह बुदियाल, नगर मजिस्ट्रेट कुश्म चौहान, अपर नगर मजिस्ट्रेट मायाराम जोशी, उप जिलाधिकारी अवधेष कौशल, प्रेमलाल व गोपाल राम बिनवाल सहित मजिस्ट्रेट परिसर के विभिन्न कार्यालयों के कार्मिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page