July 4, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

घर में काम करने वाली लड़की ने लगाई फांसी, पुलिस तलाश रही परिजनों को

1 min read

देहरादून के रायपुर क्षेत्र में फांसी लगाने के बाद अस्पताल में भर्ती लड़की की मौत हो गई। उसके परिजनों के संबंध में पुलिस पता नहीं लगा सकी। फिलहाल पुलिस ने परिजनों के इंतजार में शव को 72 घंटे के लिए मोर्चरी में रखा है। रायपुर पुलिस के मुताबिक मयूरी विहार पुलिस चौकी में तीन नवंबर को सूचना मिली थी कि क्लासिक अपार्टमेंट आनंद विहार में एक लड़की ने फांसी लगा ली। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले उसे पहले मैक्स अस्पताल फिर महंद इंदिरेश अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उपचार के दौरान विगत दिन उसकी मौत हो गई।
पुलिस ने बताया कि जांच की गई तो लड़की के परिवार के बारे में ज्यादा पता नहीं चल सका। वह पिछले दस साल से इंद्रजीत सलूजा व उनकी पत्नी तेजेंद्र कौर के साथ रह रही थी। इंद्रजीत सलूजा ने पुलिस को बताया कि दस साल पहले उसके पिता उनके पास बेटी को छोड़ गए थे। इसके बाद वह नहीं आए। न ही उन्हें उनके बारे में कोई जानकारी है। वह कहां रहते हैं।
पुलिस के मुताबिक लड़की की उम्र और पहचान के लिए डीएनए सुरक्षित रखने के लिए पंचायतनामा के माध्यम से चिकित्सक को रिपोर्ट भेजी गई। साथ ही उसके शव को 72 घंटे के लिए अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है। साथ ही परिजनों की तलाश की जा रही है।
शव की शिनाख्त कर परिजनों को सौंपा
डोईवाला क्षेत्र में मिले शव की शिनाख्त होने पर उसे परिजनों के सुपूर्द कर दिया गया। पुलिस के मुताबिक आठ नंबर की रात आठ बजकर 40 मिनट पर डोईवाला के रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर ने सूचना दी थी कि लच्छीवाला फ्लाईओवर से आगे हर्रावाला की तरफ रेलवे ट्रेक पर किसी व्यक्ति की ट्रेन से कटकर मौत हो गई है। मृतक की पहचान नहीं होने पर शव को जौलीग्रांट अस्पताल में रखा गया था। मृतक की शिनाख्त दीपराज मार्तोलिया (21 वर्ष) पुत्र जगत सिंह मार्तोलिया निवासी लाईन नंबर 09 पथरीबाग थाना पटेलनगर देहरादून के रूप में हुई। इसके बाद कोरोनेशन अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया गया। फिर शव को शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page