July 3, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

डोईवाला में पत्थर से वार कर व्यक्ति की हत्या के दो आरोपी गिरफ्तार

1 min read

देहरादून के डोईवाला क्षेत्र में पत्थर से सिर पर वार कर व्यक्ति की हत्या के मामले पुलिस ने दो को गिरफ्तार कर हत्या की घटना का पर्दाफाश करने का दावा किया है।
पुलिस के मुताबिक पांच नवंबर को एक व्यक्ति ने फोन से हत्या की सूचना दी थी। बताया था कि केशवपुरी बस्ती में किसी अज्ञात व्यक्ति उसके भाई मनोज के सिर पर वार किया है। वह हाट बाजार मैदान के निकट नहर के किनारे अचेत पड़ा है। इस सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और देखा कि मनोज पुत्र राजकुमार प्रजापति निवासी केशवपुरी बस्ती थाना डोईवाला देहरादून अचेत अवस्था पड़ा था। इस मामले में मनोज की हत्या की रिपोर्ट उसकी बहन मीना पत्नी गगन निवासी निकट मेला ग्राउंड केशवपुरी बस्ती थाना डोईवाला ने लिखाई।
इस मामले में जांच में जुटी पुलिस टीम ने घटनास्थल के आसपास व वर्मा टैंट हाउस के गोदाम के फुटेज को खंगाला। इस आधार पर दो संदिग्ध अंकित पुत्र विरेन्द्र हाल पता वर्मा टैन्ट हाऊस गोदाम केशवपुरी बस्ती थाना डोईवाला देहरादून मूल पता आलमपुर गंगा थाना कीरतपुर जिला बिजनौर उत्तर प्रदेश व चन्द्रकिशोर उर्फ पप्पू पुत्र चमनलाल निवासी इण्डेन गैस गोदाम के पास राजीवनगर केशवपुरी डोईवाला को गिरफ्तार किया गया।
दोनों ने कबूला जुर्म
पुलिस के मुताबिक सख्ती से पूछताछ कर दोनों अभियुक्तों जुर्म कबूल लिया है। बताया कि वे वर्मा टैंन्ट हाउस में काम करते हैं। उनके साथ मनोज व गगन भी काम करते है। मनोज कभी कभी काम पर आता था। चार नंबर को वर्मा टैन्ट का काम कुआंवाला में लगा था। सभी टैन्ट का सामान लाने के लिये छोटा हाथी लेकर कुआंवाला गये थे। कुआंवाला से दोपहर एक बजे सामान लेकर गोदाम में आये। कुछ देर बाद गगन अपने घर चला गया था, मनोज यूनियन में इसके बाद शराब पीकर सो गये। शाम 05.30 बजे मनोज पैसे लेने वर्मा टैन्ट हाऊस गोदाम पर आया। अभिषेक वर्मा वहां पर नही मिला तो मनोज वहां वापस चला गया था। अंकित व पप्पू ने फिर ठेके से शराब लाकर पी। रात 08 बजे के करीब मनोज पैसे लेने दोबारा गोदाम में आया। वह अंकित व पप्पू से पैसे मांगने लगा। अंकित व पप्पू के पास पैसे न होने के कारण मनोज को धक्का देकर भगा दिया। इस पर मनोज गाली गलौच करने लगा। इस पर पप्पू ने उसे गोदाम से धक्का देकर बाहर नीचे गिरा दिया। तभी अंकित ने गुस्से में पत्थर से मनोज के सिर पर वार कर दिया। मनोज को वहां छोडकर अंकित व पप्पू गोदाम में आ गये। टंकी में हाथ धोये उसके बाद खाना खाया। खाते समय कमरे में अजय आ गया था। उसके बाद बर्तन छोड़कर गोदाम में चले गये और सो गये। सुबह लम्बू नाम के एक व्यक्ति ने पप्पू को मनोज के मरने की खबर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page