June 29, 2022

Lok Saakshya

Jan Jan Ki Awaj

चारधाम प्रबंधन बोर्ड के ड्राफ्ट रूल को सीएम की स्वीकृति, बोर्ड संचालन को कई निर्णय

1 min read

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबन्धन बोर्ड की बैठक में बोर्ड के संचालन से संबंधित विषयों के साथ ही बोर्ड की ओर से तैयार किये विभिन्न ड्राफ्ट रूल को स्वीकृति प्रदान की गई। इसे शासन को उपलब्ध कराया जायेगा। इसमें पुजारियों, न्यासी तीर्थ पुरोहितो, पंडो व हक हकूक धारियों के अधिकारों का विनिश्चय एवं संरक्षण से संबंधित नियमावली भी शामिल है। इस अवसर पर देवस्थानम बोर्ड के लोगो की डिजाइनों पर भी चर्चा हुई। इनमें कतिपय संशोधन के पश्चात अन्तिम निर्णय लिया जायेगा।
बैठक में बद्रीनाथ धाम में मंदिर एवं समीपवर्ती स्थलों के विस्तारीकरण एवं सौन्दर्यीकरण के सम्बन्ध में निर्णय लिया गया। बद्रीनाथ धाम में यात्रियों की संख्या में प्रतिवर्ष हो रही वृद्धि के कारण इस क्षेत्र का विस्तारीकरण एवं सौन्दर्यीकरण आवश्यक है। ताकि भविष्य में यात्रियों को दर्शन, यातायात एवं ठहरने की समुचित व्यवस्था हो सके। इसके लिए देवस्थानम बोर्ड को इसकी व्यवस्था सौंपे जाने पर विचार किया गया।
तृतीय केदार तुंगनाथ मंदिर का भी होगा जीर्णोद्धार
बोर्ड के स्तर पर इससे संबंधित कार्यवाही सुनिश्चित कर शीघ्र प्रस्ताव तैयार कर शासन को प्रेषित करने पर सहमति बनी। बोर्ड अपने स्तर पर इसके लिए तकनीकि एवं विषय विशेषज्ञों की व्यवस्था भी कर सकेगा। इसके साथ ही बैठक में तृतीय केदार श्री तुगनाथ मन्दिर एवं सभा मंडप आदि के जीर्णोद्धार पर भी सहमति बनी। इसके लिए यूएसए. के दानी पंकज कुमार ने धनराशि व्यय करने की इच्छा जताई है।
केदारनाथ में ईशानेश्वर मंदिर का होगा निर्माण
बैठक में केदारनाथ स्थित ईशानेश्वर मन्दिर के नव निर्माण के लिये भी स्वीकृति प्रदान की गई। इस मन्दिर के निर्माण के लिये मुम्बई के दानी मनोज सोलंकी ने इच्छा व्यक्त की है। केदारनाथ मन्दिर के पूरब द्वार की मरम्मत पर भी सहमति बनी, जिसके लिये धनराशि दानी हरियाणा के यतिन घई ने दान की सहमति दी है।
ये भी होंगे कार्य
बैठक में केदारनाथ मे रावल पुजारी आदि के कक्षों की मरम्मत भविष्य में ऊखीमठ मन्दिर के जीर्णोद्वार, बहुमूल्य पाण्डुलिपियों को डिजिटाइल किये जाने, कार्तिक स्वामी मन्दिर को देवस्थानम बोर्ड के अधीन लाये जाने तथा थैलीसैण्ड स्थित विन्देश्वर मन्दिर के जीर्णोद्वार किये जाने पर सहमति प्रदान की गई।
सीएम ने दिए निर्देश
बैठक में मुख्यमंत्री एवं अध्यक्ष, उत्तराखण्ड देवस्थानम प्रबन्धन बोर्ड त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने यात्रा मार्गो सहित मन्दिर परिसरो में देवस्थानम बोर्ड के साइनेज होर्डिंग आदि लगाये जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि बद्रीनाथ, केदारनाथ मन्दिरों के पुजारियों, पण्डों, पुरोहितों, वाद्य यंत्र वादको आदि का विवरण तैयार किया जाए। ताकि जरूरत पड़ने पर इन लोगों को भी आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी जा सके। उन्होंने कहा कि ये लोग हमारी संस्कृति के संवाहक हैं।
चारधाम में आए चारधाम में 1.72 लाख यात्री
उत्तराखण्ड देवस्थानम प्रबन्धन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रविनाथ रमन ने बताया कि 25 अक्टूबर तक चारधाम में 1.72 लाख यात्री दर्शनार्थ आये हैं तथा 2 लाख द्वारा रजिस्ट्रेशन किया गया है, जबकि बद्रीनाथ मन्दिर को 7.55 करोड़ तथा केदारनाथ मन्दिर को 75 लाख की आय हुई है।
बैठक में कैबिनेट मंत्री एवं उपाध्यक्ष उत्तराखण्ड देवस्थानम प्रबन्धन बोर्ड श्री सतपाल महाराज, विधायक श्री महेन्द्र भट्ट, श्री गोपाल रावत, सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर, सचिव वित्त श्रीमती सौजन्या, अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री बी0डी0सिंह, देवस्थानम बोर्ड के श्री अनिल ध्यानी, श्री प्रमोद नोटियाल, डॉ. हरीश गौड आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page